हिमा को हिमालय चूमने के लिए करनी होगी और मेहनत

हिमा दास ने जिन प्रतियोगिताओं में स्वर्ण पदक जीते हैं, अंतरराष्ट्रीय एथलेटिक्स संघ के मुताबिक वे उस स्तर की नहीं हैं जिनमें दिग्गज फर्राटा धावक भाग लेते हैं। इन पांचों प्रतियोगिताओं में से दो ई ग्रेड और दो एफ ग्रेड की प्रतियोगिताएं थीं।

हिमा दास ने इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन से मिलने वाले वेतन का आधा हिस्सा असम बाढ़ के मुख्यमंत्री राहत कोष में दान दिया। (India express picture)

संदीप भूषण

एक महीने के भीतर पांच स्वर्ण पदक जीतकर हिमा दास ने देश को गर्व का मौका दिया है। उन्होंने पहला और दूसरा पदक पोलैंड में आयोजित 200 मीटर स्पर्धा में जीता। इस दौरान उन्होंने क्रमश: 23.65 सेकंड और 23.97 सेकंड का समय लिया। इसके बाद चेक गणराज्य के अलग-अलग तीन प्रतियोगिताओं में उन्हें पीले तमगे से नवाजा गया। इसमें से दो 200 मीटर स्पर्धा में हिमा ने क्रमश: 23.42 और 23.25 सेकंड का समय निकाला। 400 मीटर स्पर्धा में उनका समय 52.09 सेकंड दर्ज किया गया। उनकी इस उपलब्धि के बाद देश में कुछ लोग जहां ओलंपिक में पदक की उम्मीद कर रह हैं तो कुछ लोग इसे सामान्य प्रदर्शन करार देते हुए मीडिया की सुर्खियों से बचने और अपने खेल को बेहतर करने की सलाह दे रहे हैं। अब सवाल है कि आखिर क्यों हिमा के इस प्रदर्शन को उस स्तर का नहीं माना जा रहा जिससे ओलंपिक में पदक जीता जा सके ?

दरअसल, हिमा दास ने जिन प्रतियोगिताओं में स्वर्ण पदक जीते हैं, अंतरराष्ट्रीय एथलेटिक्स संघ के मुताबिक वे उस स्तर की नहीं हैं जिनमें दिग्गज फर्राटा धावक भाग लेते हैं। इन पांचों प्रतियोगिताओं में से दो ई ग्रेड और दो एफ ग्रेड की प्रतियोगिताएं थीं। इसका मतलब है कि इसमें भाग ले रहे धावक भी ओलंपिक स्तर के नहीं थे। साथ ही जिस समय के साथ धिंग एक्सप्रेस ने ये पदक जीते वे उनके सर्वश्रेष्ठ से भी ज्यादा थे। उन्होंने जून 2018 में 200 मीटर में 23.10 का अपना सर्वश्रेष्ठ दिया था वहीं 400 मीटर में 50.79 सेकंड के समय के साथ हिमा ने एशियाई खेलों में पदक जीता था। यही कारण है कि एथलेटिक्स से जुड़े ज्यादातर लोग उनके इस प्रदर्शन से खुश तो हैं लेकिन, वे यह नहीं मानते कि हिमा ओलंपिक के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

आंकड़ों में कहां हैं हिमा
असम के एक छोटे से गांव से निकलकर विश्व पटल पर अपनी पहचान बनाने वालीं हिमा दास के जज्बे और मेहनत का हर कोई कायल है। उन्होंने काफी तेजी से अपने प्रदर्शन में सुधार किया है। इस साल के शुरू में राष्ट्रीय कोच ने भी कहा था कि उनमें काफी प्रतिभा है। वे 400 मीटर में देश के लिए पदक की उम्मीद बन सकती हैं। लेकिन इसके लिए उन्हें अपने समय को 52 सेकंड से कम करना होगा। हिमा ने इस बेहद कम समय में ही इस बाधा को भी पार कर लिया। जूनियर पूर्वी जोन का खिताब 55.8 सेकंड के समय के साथ जीतने वाली हिमा ने एशियाई खेलों में 50.79 सेकंड से रजत पदक जीता। 400 मीटर स्पर्धा में 18 साल की उम्र में यह कारनामा करने वाली वह पहली महिला थी। यहां तक कि दुनिया की सबसे तेज धावकों में शुमार जर्मनी की मारिटा कोच भी 18 साल की उम्र तक 51.60 सेकंड का समय निकाल पाई थीं। वहीं बाहामास के ओलंपिक चैंपियन शौन मिलर का भी इस उम्र में सर्वश्रेष्ठ 51.25 था।

हिमा अभी 400 मीटर स्पर्धा में नई हैं। इस लिहाज से उनके इन प्रदर्शन की काफी सराहना की जा रही है। हालांकि 2020 ओलंपिक को देखते हुए हमें इस पर भी ध्यान रखना होगा कि वे जो समय निकाल रही हैं उससे तोक्यो में पदक जीता जा सकता है या नहीं। भारत की नई उड़नपरी 400 मीटर में विश्व की 87वें नंबर की धावक है। वहीं 200 मीटर में उनका स्थान 122वां है। ओवरआॅल रैकिंग में वे 1250वें स्थान पर हैं। वहीं ओलंपिक में अब तक के प्रदर्शन से हिमा की तुलना करें तो वह कहीं नहीं ठहरतीं। ओलंपिक का 200 मीटर में सर्वश्रेष्ठ 21.34 सेकंड है तो 400 मीटर में 48.25। विश्व चैंपियनशिप की बात करें तो 200 मीटर में 21.63 सेकंड का रेकॉर्ड है और 400 मीटर में 47.99 सेकंड। इस लिहाज से उनके अभी के प्रदर्शन को तो कहीं से भी ओलंपिक या विश्व चैंपियनशिप के लिए सही नहीं कहा जा सकता।

पिछले पांच टूर्नामेंट में प्रदर्शन

स्थान तारीख स्पर्धा समय (सेकंड) पदक

पोजनान (पोलैंड) जुलाई 2 200मीटर 23.65 स्वर्ण

कुटनो (पोलैंड) जुलाई 7 200 मीटर 23.97 स्वर्ण

क्लाडो (पोलैंड) जुलाई 13 200 मीटर 23.42 स्वर्ण

टाबोर (चेक गणराज्य) जुलाई 17 200मीटर 23.25 स्वर्ण

पराग्वे (चेक गणराज्य) जुलाई 20 400 मीटर 52.09 स्वर्ण

हिमा का सर्वश्रेष्ठ
स्पर्धा समय (सेकंड) तारीख

200 मीटर 23.10 जून 2018

Next Stories
1 रोमांचक मुकाबले में जीता दिल्ली, तेलुगू को मिली हार की हैट्रिक
2 गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन से मजबूत स्थिति में टीम इंडिया ए
3 बीसीसीआई ने लिया ऐतिहासिक फैसला, अपने पूर्व क्रिकेटरों के लिए एसोसिएशन को मान्यता दी
यह पढ़ा क्या?
X