ताज़ा खबर
 

पंजाब पर रोमांचक जीत से हरियाणा कुश्ती लीग के फाइनल में

हरियाणा हैमर्स की टीम पेशेवर कुश्ती लीग के फाइनल में पहुंच गई है। शनिवार को उसने रोमांचक फाइनल में पंजाब रायल्स के जियालों को रोमांचक मुकाबले में हरा कर फाइनल में खेलने का हक पाया..

Author नई दिल्ली | December 27, 2015 5:09 AM
पेशेवर कुश्ती लीग में शनिवार को एक-दूसरे से भिड़ते पंजाब और हरियाणा के पहलवान।

हरियाणा हैमर्स की टीम पेशेवर कुश्ती लीग के फाइनल में पहुंच गई है। शनिवार को उसने रोमांचक फाइनल में पंजाब रायल्स के जियालों को रोमांचक मुकाबले में हरा कर फाइनल में खेलने का हक पाया। फाइनल में उसका मुकाबला अब तक टूर्नामेंट में अजेय रही मुंबई गरुड़ से होगा। फाइनल रविवार को खेला जाएगा। योगेश्वर दत्त की गैरमौजूदगी में हरियाणा के पहलवानों ने पिछड़ने के बाद शानदार वापसी की और मुकाबला जीता। योगेश्वर चोटिल होने की वजह से इस महत्त्वपूर्ण मुकाबले में नहीं खेल पाए। दो दिन पहले बंगलुरु में खेले गए लीग चरण के अंतिम मुकाबले में भी वे मुंबई गरुड़ के खिलाफ वे अखाड़े में नहीं उतरे थे।

शनिवार को भी उन्होंने कुश्ती लड़ने से खुद को दूर रखा। हाल ही में वे घुटने की चोट से उबरे हैं और जोखिम लेकर उन्होंने लीग के पहले चार मुकाबले लड़े और चारों में जीत दर्ज कर अपने फार्म का प्रदर्शन किया था। लेकिन अपने को और चोटिल होने से बचाने के लिए उन्होंने मुकाबले से दूर रहने का फैसला किया है। अब उनकी टीम फाइनल में पहुंच गई है। लेकिन फाइनल में वे अपनी कुश्ती लड़ेंगे, इसे लेकर संशय बना हुआ है। वैसे ओलंपिक की तैयारियों में जुटे योगेश्वर कोई और जोखिम उठाएंगे, ऐसा लगता नहीं है।

शनिवार को सेमीफाइनल में हरियाणा के लिए शुरुआत में कुछ भी अच्छा नहीं रहा। योगेश्वर मुकाबले से हटे। यह टीम के लिए बड़ा झटका था। हालांकि टीम की कप्तान ओकसाना हरहेल ने टास जीता और पंजाब के तेज-तर्रार खिलाड़ी वालदमीर को ब्लाक किया। वालदमीर पुरुषों के 57 किलो भार वर्ग के बेहतरीन लड़ाका हैं। पंजाब की टीम के पास ब्लाक करने का बहुत ज्यादा विकल्प नहीं था और उसने महिलाओं की 48 किलोग्राम भार वर्ग में हरियाणा की निर्मल देवी को ब्लाक कर टीम को बराबरी पर लाने की कोशिश की। लेकिन पंजाब ने अखाड़े में जोरदार शुरुआत की। योगेश्वर की गैरमौजूदगी में हरियाणा ने 65 किलो भार वर्ग में विशाल राणा को उतारा।

लेकिन पंजाब के रजनीश अखाड़े में उनसे ज्यादा चपल, चुस्त और दमखम वाले साबित हुए। उन्होंने अपनी तेजी से विशाल को लगातार बचाव में मशगूल रखा। करीब छह हजार दर्शकों की मौजूदगी में रजनीश ने पंजाब को बेहतरीन शुरुआत दी। विशाल कुछ थके हुए दिखाई दे रहे थे। उसका फायदा उठाते हुए रजनीश ने टेक डाउन पोजीशन में लाकर पहले देढ़ मिनट में 8-1 की बढ़त बना ली थी। दूसरे दौर में भी रजनीश ने अपने आक्रमण को और धार दी और विशाव को अपने लपेटे में लेकर चार और जुटा कर चार मिनट 37 सेकंड में तकनीकी फाउल के जरिए जीत दर्ज कर टीम को बढ़त दिला दी।

पंजाब की वासिलिसा मर्जालियुक ने महिलाओं के 69 किलोवर्ग में हरियाणा की गीतिका जाखड़ को 4-0 से हराया। यह कुश्ती बहुत ही नीरस रही। गीतिका कभी भी कुश्ती लड़ती दिखाई नहीं दीं। ज्यादातर समय वे बचाव में ही मशगूल रहीं। दो बार उन्हें चेतावनी भी मिली और इसकी वजह से उनके खिलाफ अंक भी मिला। गीतिका को दो बार डेंजर जोन से बाहर निकाल कर वासिलिसा ने दो और अंक जुटाए और मुकाबला 4-0 से जीत कर पंजाब को 2-0 से आगे कर दिया।

लेकिन इसके बाद हरियाणा ने शानदार वापसी की। पुरुषों के 97 किलोवर्ग में हरियाणा के आंद्रितेसे वालेरी ने पंजाब के मौसम खत्री को बेहतरीन दांव से आसामान दिखा कर हरियाणा की जीत का खाता खोला। हालांकि पहले दौर में मौसम ने उन्हें अपने दांव में फंसा कर 4-0 अंक बनाए थे। लेकिन वे आंद्रितेसे वालेरी को चित नहीं कर पाए। दूसरे दौर में वालेरी ने तेज आक्रमण किया। पिछड़ने के बाद उन्होंने वापसी की और फिर मौसम को दबोच कर उन्होंने टांग मार कर उन्हें गिराया और मौसम के पास उनके इस दांव का कोई जवाब नहीं था। वालेरी ने बेहतरीन ढंग से उन्हें चित किया और मुकाबला जीत कर हरियाणा की उम्मीदों को बनाए रखा।

महिलाओं के 53 किलोवर्ग में हरियाणा की उक्रेनी पहलवान ततयाना किट और पंजाब की प्रियंका फोगाट के बीच रोमांचक मुकाबला हुआ। प्रियंका ने शुरुआत बेहतर की। उन्होंने तेजी और चुस्ती दिखाई और ततयाना को दांव लगाने से रोके रखा। हालांकि ततयाना ने एक बार उन्हें डैंजर जोन से ढकेलने में सफल जरूर रहीं और एक अंक बनाया। लेकिन उसके बाद प्रियंका ने काला जंघ लगाया और तातयाना को चित करने की स्थिति में भी पहुंचीं थीं। लेकिन ततयाना ने सही समय पर बचाव कर खतरा टाला। प्रियंका ने चार अंक बटोरे। हालांकि इसे हरियाणा की टीम ने चुनतौ दी लेकिन इस पर निर्णायों को फैसला नहीं बदला।

पहले दौर में 1-4 से पिछड़ रही ततयाना ने दूसरे दौर में अपना जलवा दिखाया। प्रियंका ने तेजी तो दिखाई लेकिन ततयाना ने उन्हें किसी तरह की छूट लेने नहीं दी। मुकबाला खत्म होने से कोई 40 सेकंड पहले ततयाना ने तेजी दिखाई। भारतीय पहलवान पर उन्होंने भारतीय दांव लगाया। काला दंघ लगा कर वे नीचे घुसीं और जब तक प्रियंका कुछ समझ पातीं ततयाना ने अपना काम कर दिया था। पहले उन्होंने चार अंक जुटाए और फिर साफ चित कर मुकाबला पांच सेकंड 21 मिनट में जीत कर हरियाणा को 2-2 की बराबरी दिला दी। प्रियंका की लीग में यह लगातार चौथी हार रही।

पुरुषों के 125 किलोवर्ग में पंजाब के चुलुबाट ने हितेंदर को 5-1 से हरा कर पंजाब को फिर से 3-2 से आगे कर दिया। लेकिन महिलाओं के 58 किलोवर्ग में विश्व चैंपियनशिप की स्वर्ण पदक विजेता ओकसाना हरहेल ने शनादार कुश्ती लड़ी। उन्हें इस प्रदर्शन के लिए आज के मुकाबले की बेहतरीन खिलाड़ी का पुरस्कार भी दिया गया। उन्होंने पंजाब की आइकन खिलाड़ी गीता फोगाट को तीन मिनट के अंदर ही चित कर टीम को बराबरी दिला दी। लीग मुकाबले में गीता ने हरहेल को हरा कर बड़ा उलटफेर किया था। हरहेल ने शनिवार को उन्हें बेहतरीन ढंग से मात देकर उस हार का बदला भी चुकता कर लिया। हरहेल ने गीता को शुरुआत से ही बचाव में मशगूल रखा। फिर उन्होंने लेपट कर धोबिया पाट मार कर उन्हें नीचे गिराया और अंक बटोरे। अपने इस दांव से उन्होंने गीता को निकलने नहीं दिया और उन्हें चित कर 2.24 सेकंड में मुकाबली जीत कर टीम को फिर से 3-3 की बराबरी दिला दी।

निर्णायक मुकाबले में पुरुषों के 74 किलोवर्ग में एजकुइ लिवान ने प्रवीण राणा को 5-1 से हरा कर टीम को फाइनल में पहुंचाया। कुश्ती जब एक मिनट और 14 सेकंड हो चुकी थी तभी प्रवीण के घुटने में चोट लगी। मेडिकल उपचार के बाद वे फिर अखाड़े में उतरे। दोनों पहलवानों ने एक-दूसरे के अटैक और काउंटर अटैक के जरिए विचलित करने की कोशिश की। लिवान पहले दौर में प्रवीण को दो बार डैंजर जोन से बाहर निकाल कर दो अंक बटोरे थे। दूसरे दौर में भी प्रवीण ने तेजी दिखाई लेकिन लिवान ने उनके सभी दांव को नाकाम कर कुश्ती खत्म होने से 20 सेकंड पहले दांव लगाया। इस बार प्रवीण चूके और लिवान ने अंक बना कर कुश्ती जीती और हरियाणा ने मुकाबला।

मुकाबले के दौरान पंजाब टीम के सहमालिक धर्मेंद्र उनके बेटे बाबी देओल, अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे, हरियाणा के राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी और बीसीसीआइ के सचिव अनुराग ठाकुर भी मौजूद थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App