ताज़ा खबर
 

भारत नहीं ले पाएगा चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल में हार का बदला, आईसीसी ने बदला टूर्नामेंट

आईसीसी ने चैंपियंस ट्रॉफी के बजाय वर्ल्ड T20 कराने का फैसला किया है। आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी का आयोजन वर्ष 2021 में भारत में होने वाला था। इसके स्थान पर वर्ल्ड T20 का आयोजन किया जाएगा। दिलचस्प है कि वर्ष 2020 मेें ऑस्ट्रेलिया में वर्ल्ड T20 होने की घोषणा पहले ही की जा चुकी है। इस तरह लगातार दो वर्ल्ड T20 टूर्नामेंट होंगे।

टीम इंडिया। (Photo Courtesy: ICC)

भारत आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी (50-50 ओवर मैच) के फाइनल में पाकिस्तान के हाथों से मिली करारी शिकस्त का बदला अब कभी नहीं ले सकेगा। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने चैंपियंस ट्रॉफी के बजाय अब वर्ल्ड T20 कराने का निर्णय लिया है। पिछला चैपिंयस ट्रॉफी इंग्लैंड में वर्ष 2017 में आयोजित किया गया था। वर्ष 2021 में इसे भारत में आयोजित किया जाना था, लेकिन आईसीसी के ताजा फैसले के बाद अब ऐसा नहीं हो सकेगा। इसकी भरपाई भारत में वर्ल्ड T20 के आयोजन से की जाएगी। दिलचस्प है कि वर्ष 2020 में ऑस्ट्रेलिया में वर्ल्ड T20 के आयोजन की घोषणा बहुत पहले ही की जा चुकी है। इसका मतलब यह हुआ कि एक साल के अंतराल में दो वर्ल्ड T20 का आयोजन किया जाएगा। पहला ऑस्ट्रेलिया और दूसरा उसके अगले साल ही भारत में होगा। नई योजना को आईसीसी के बोर्ड ने अपनी मंजूरी दे दी है। बता दें कि पिछले कुछ वर्षों में दर्शकों के बीच T20 का क्रेज बहुत बढ़ा है। T20 फॉर्मेट के लोकप्रिय होने से एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला में क्रिकेट प्रशंसकों का रुझान पहले के मुकाबले कम हुआ है।

…तो आखिरी चैंपियंस ट्रॉफी इंग्लैंड में: आईसीसी के ताजा फैसले से चैंपियंस ट्रॉफी का कांसेप्ट समाप्त हो गया है। चैंपियंस ट्रॉफी का पिछला आयोजन वर्ष 2017 में इंग्लैंड में किया गया था। लंदन के ऐतिहासिक ओवल मैदान में दो चिर प्रतिद्वंद्वी भारत और पाकिस्तान की टीमें आमने-सामने थीं। पाकिस्तान ने सेमीफाइनल में मेजबान इंग्लैंड को आठ विकेट से हराया था। वहीं, भारत ने बांग्लादेश को 9 विकेट से रौंद कर फाइनल में जगह बनाई थी। भारत और पाकिस्तान के बीच 18 जून, 2017 में फाइनल मुकाबला खेला गया था। पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 338 रन बनाए थे। विशाल स्कोर का पीछा करने उतरी भारत की पूरी टीम 30.3 ओवरों में सिर्फ 158 रनों पर ही सिमट गई थी। इस तरह पाकिस्तान ने भारत को 180 रन के बड़े अंतर से मात दी थी। आईसीसी टूर्नामेंट में रनों से हार के मामले में यह सबसे बड़ा अंतर था। पाकिस्तान भारत को आज तक आईसीसी द्वारा आयोजित किसी भी श्रृंखला में नहीं हरा पाया था। इस मामले पाकिस्तान की पहली जीत थी। पाकिस्तान की ओर से फखर जमान ने शानदार 114 रनों की पारी खेली थी। उन्हें मैन ऑफ द मैच का खिताब दिया गया था। वहीं, शिखर धवन को गोल्डन बैट (मैन ऑफ द सीरीज) से नवाजा गया था। उन्होंने पूरी श्रृंखला में 338 रन बनाए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App