ताज़ा खबर
 

जर्मन ओपन: भारतीय चुनौती की अगुआई करेंगे सिंधू और श्रीकांत

साइना नेहवाल की गैरमौजूदगी में महिला एकल में भारतीय चुनौती की अगुआई सिंधू करेंगी।

Author मुलहेम आन डेर रूहर (जर्मनी) | February 29, 2016 9:39 PM
बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू (फाइल फोटो)

फिटनेस से जुड़े मुद्दों के कारण साइना नेहवाल की गैरमौजूदगी में पीवी सिंधू और किदांबी श्रीकांत मंगलवार (01 मार्च) को यहां क्वालीफायर के साथ शुरू हो रहे 120000 डॉलर इनामी जर्मन ग्रां प्री गोल्ड बैडमिंटन टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती की अगुआई करेंगे। पिछले साल टखने में चोट लगा बैठी दुनिया की दूसरे नंबर की खिलाड़ी साइना ने इस साल कोई अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट नहीं खेला है और वह प्रतिष्ठित ऑल इंग्लैंड चैम्पियनशिप से पूर्व पूर्ण फिटनेस हासिल करने की कोशिशों में जुटी हैं। साइना की गैरमौजूदगी में महिला एकल में भारतीय चुनौती की अगुआई सिंधू करेंगी।

इस साल मलेशिया मास्टर्स का खिताब जीतने वाली सिंधू पिछले कुछ समय से खराब फॉर्म से जूझ रही हैं और दक्षिण एशियाई खेलों में उन्हें हमवतन युवा खिलाड़ी रूतविका शिवानी गड्डे के खिलाफ शिकस्त का सामना करना पड़ा था। इसके बाद उन्हें बैडमिंटन एशिया टीम चैम्पियनशिप में भी जापान की नोजोमी ओकुहारा और कोरिया की जी ह्युन सुंग ने हराया।

हैदराबाद की यह 20 वर्षीय खिलाड़ी सैयद मोदी ग्रां प्री गोल्ड के दूसरे दौर में भी थाईलैंड की निचाओन जिंदापोल के खिलाफ शिकस्त के साथ टूर्नामेंट से बाहर हो गई थी। सिंधू को जर्मन ओपन के पहले दौर में अमेरिका की रोंग शाफेर का सामना करना है।

दूसरी तरफ पिछले महीने लखनऊ में सैयद मोदी टूर्नामेंट का खिताब जीतने वाले श्रीकांत अच्छी फॉर्म में हैं और उनकी अगुआई में भारतीय पुरुष टीम ने बैडमिंटन एशिया चैम्पियनशिप में ऐतिहासिक कांस्य पदक जीता।

भारत के छठे वरीय श्रीकांत को पहले दौर में जापान के ताकुमा उएदा की कड़ी चुनौती का सामना करना होगा। अन्य भारतीयों में युवा समीर वर्मा का सामना उक्रेन के दमित्रो जावादस्की से होगा जबकि चोटों से उबरने के बाद वापसी कर रहे 11वें वरीय पारूपल्ली कश्यप पहले दौर में उक्रेन के आर्तेम पोचतारेव के खिलाफ उतरेंगे। अजय जयराम, बी साई प्रणीत और एसएस प्रणय ने प्रतियोगिता से नाम वापस ले लिया है।

पुरुष युगल में मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी की नजरें अच्छे प्रदर्शन पर टिकी होंगी क्योंकि दुनिया की 20वें नंबर की जोड़ी के पास ओलंपिक क्वालीफिकेशन के लिए जरूरी अंक जुटाने के लिए अधिक समय नहीं बचा है। यह जोड़ी पहले दौर में मार्कस एलिस और क्रिस लैंग्रिज की इंग्लैंड की जोड़ी से भिड़ेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App