ताज़ा खबर
 

‘कप्तानी के दौरान था पैसे का प्रेशर, कोलकाता की टीम में कभी नहीं हंस पाया’, गौतम गंभीर ने खोला था राज

गंभीर ने एलिमिनेटर मुकाबले में हारने के बाद आरसीबी के कप्तान विराट कोहली को कप्तानी से हटने तक के लिए कहा। उन्होंने कहा कि जो खिलाड़ी 8 सीजन में चैंपियन नहीं बना सकता है, उसे कप्तान बने रहने का हक नहीं है।

Author Edited By ROHIT RAJ नई दिल्ली | November 7, 2020 6:10 PM
Gautam gambhir, ipl, kolkata knight riders, shahrukh khanगौतम गंभीर की कप्तानी में कोलकाता की टीम 2012 और 2014 में चैंपियन बनी थी। (सोर्स – सोशल मीडिया

कोलकाता नाइटराइडर्स के पूर्व कप्तान गौतम गंभीर आईपीएल 2020 के दौरान सुर्खियों में हैं। भले ही वो मैदान पर नहीं खेल रहे हों, लेकिन एक्स्टपर्ट के तौर पर ईसपीएन क्रिकइंफो के साथ जुड़े हुए हैं। गंभीर ने एलिमिनेटर मुकाबले में हारने के बाद आरसीबी के कप्तान विराट कोहली को कप्तानी से हटने तक के लिए कहा। उन्होंने कहा कि जो खिलाड़ी 8 सीजन में चैंपियन नहीं बना सकता है, उसे कप्तान बने रहने का हक नहीं है। गंभीर अपनी कप्तानी में कोलकाता को दो बार चैंपियन बना चुके हैं।

गंभीर लंबे समय तक कप्तान रहने के बावजूद कोलकाता की टीम में खुश नहीं थे। वे केकेआर के साथ खेल का आनंद नहीं उठा सके थे। इस बारे में उन्होंने एक इंटरव्यू में खुलासा किया था। यूट्यबू चैनल स्पोर्ट्स तक पर एक वीडियो है जिसमें गंभीर ने कई चीजें बताई थीं। उन्होंने कहा, ‘‘कोलकाता की टीम में मेरे पैसै का टैग ज्यादा था। इससे मैं अपने खेल का आनंद नहीं उठा सका था। मैं सच्चाई के साथ बोल सकता हूं कि कोई ये बोले कि मेरे ऊपर पैसे का प्रेशर नहीं है तो मैं ये कहूंगा कि मेरे ऊपर ये प्रेशर था। अगर उन्होंने मुझे 11.5 करोड़ रुपए दिए तो विश्वास करके दिए।’’

गंभीर ने आगे कहा था, ‘‘जब मैं पहले साल केकेआर में गया तो बहुत प्रेशर था। यह प्रेशर लगातार सात साल तक रहा था। ऐसा नहीं है कि हम 2012 में टाइटल जीत गए तो 2013, 2014, 2015, 2016 और 2017 में प्रेशर नहीं था। उसके बाद भी पांच साल बहुत प्रेशर रहा था। ऐसा इसलिए था कि मुजे खुद से बहुत उम्मीदें थीं। ऑनर को भी मुझसे बहुत उम्मीदें थीं। मुझे यह साबित करना था कि जो आप मुझे पैसे दे रहे हैं मैं उसके मुताबिक प्रदर्शन करूं। प्रेशर की वजह से मैं आनंद नहीं उठा सका।’’

गंभीर ने 2017 के बाद कोलकाता की टीम से खुद को बाहर कर लिया था। उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स (अब दिल्ली कैपिटल्स) ने 3 करोड़ रुपए में खरीदा था। उन्होंने बीच में ही कप्तानी छोड़ दी और संन्यास ले लिया। गंभीर ने उस सीजन के बारे में बात करते हुए कहा, ‘‘मेरा 3 करोड़ रुपए का कांट्रेक्ट था। मैं 100 रन के लिए 3 करोड़ डिजर्व नहीं करता था। इसलिए मैंने पैसे नहीं लिए। मैं कोई भगवान नहीं बन गया। बस मुझे लगता था कि मेरा प्रदर्शन उस लायक नहीं था।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 वसीम अकरम ने पाकिस्तान से की भारतीय टीम की तुलना, जानिए ऑस्ट्रेलिया दौरे को लेकर की क्या भविष्यवाणी; VIDEO
2 डेविड वॉर्नर हुए गलत अंपायरिंग का शिकार? विदेशी कमेंटेटर्स ने किया विरोध तो थर्ड अंपायर को मिला सुनील गावस्कर का साथ; VIDEO
3 युजवेंद्र चहल ने मंगेतर संग दिए इंटरव्यू में बताई प्रेम कहानी, 2 महीने के डांस क्लास में ही धनश्री से हो गया था प्यार; देखें VIDEO
यह पढ़ा क्या?
X