ताज़ा खबर
 

कोहली से लेकर धोनी तक: दिनेश कार्तिक के आखिरी टेस्‍ट के बाद इन खिलाड़‍ियों ने की विकेटकीपिंग

कार्तिक के पास इस टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन कर अगले महीने इंग्लैंड दौरे पर होने वाली पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए चयनकर्ताओं का ध्यान अपनी ओर खिंचने का मौका होगा।

दिनेश कार्तिक। (फोटो सोर्स- पीटीआई)

विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा हाथ के अंगूठे में लगी चोट के कारण अफगानिस्तान के खिलाफ 14 जून से बेंगलुरू में खेले जाने वाले एकमात्र टेस्ट मैच से हट गए। साहा के स्थान पर दिनेश कार्तिक को एक बार फिर से टेस्ट टीम में मौका मिला है। कार्तिक 8 साल बाद एक बार फिर टेस्ट में वापसी कर रहे हैं। उन्होंने 2010 में चटगांव में बंगलादेश के खिलाफ अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला था। कार्तिक ने अपना डेब्यू धोनी से भी पहले किया था। उनके बाद महेंद्र सिंह धोनी, ऋद्धिमान साहा, नमन ओझा, केएल राहुल, महेंद्र सिंह धोनी, पार्थिव पटेल यहां तक कि विराट कोहली भी विकेटकीपिंग कर गए लेकिन कार्तिक एक अदद मौके के लिए तरसते रहे। हालांकि किस्मत ने एक बार फिर मोड़ लिया है और उनके पास सुनहरा मौका है।

कार्तिक के पास इस टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन कर अगले महीने इंग्लैंड दौरे पर होने वाली पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए चयनकर्ताओं का ध्यान अपनी ओर खिंचने का मौका होगा। कार्तिक ने 2007 में इंग्लैंड दौरे पर तीन अर्धशतक लगाए थे और ओवल में 91 रन की पारी खेली थी। उन्होंने उस दौरे पर कुल 263 रन बनाए थे।

कार्तिक को चुने जाने पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने एक बयान में कहा, “रिद्धिमान साहा अफगानिस्तान के खिलाफ बेंगलुरू में 14 जून से शुरू होने वाले एकमात्र टेस्ट मैच से बाहर हो गए हैं। साहा को 25 मई को कोलकाता में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के दूसरे क्वालीफायर मुकाबले के दौरान चोट लग गई थी।”

बोर्ड ने कहा, “साहा को अफगानिस्तान के साथ होने वाले टेस्ट मैच के लिए टीम में शामिल किया गया था। भारतीय टीम की मेडिकल टीम इस चोट के बाद लगातार साहा पर नजर बनाए हुए थी और शनिवार को उसने फैसला किया कि इंग्लैंड के साथ होने वाली अहम टेस्ट सीरीज से पहले साहा को पूरी तरह स्वस्थ होने के लिए आराम दिया जाना जरूरी है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App