ताज़ा खबर
 

अब इस खेल में भाग्य आजमाएंगे उसैन बोल्ट, ऑस्ट्रेलियाई क्लब के लिए देंगे ट्रायल

जमैका के पूर्व धावक आठ बार ओलंपिक खेलों में चैंपियन रहे हैं। लंदन में बीते साल खेली गई वर्ल्ड चैंपियनशिप के दौरान उन्होंने संन्यास लिया था।

जमैका के पूर्व धावक और एथलीट। (फोटोः फेसबुक)

जमैका के पूर्व धावक उसैन बोल्ट अब फुटबॉल में भाग्य आजमाएंगे। ऑस्ट्रेलिया में वह ए-लीग के सेंट्रल कोस्ट मरीनर्स क्लब के लिए ट्रायल देंगे। मंगलवार (17 जुलाई) को क्लब ने इस बारे में पुष्टि की है। बता दें कि वह आठ बार ओलंपिक खेलों में चैंपियन रहे हैं और लंदन में बीते साल खेली गई वर्ल्ड चैंपियनशिप के दौरान उन्होंने संन्यास लिया था।

31 वर्षीय बोल्ट इंग्लैंड के मैनचेस्टर यूनाइटेट फुटबॉल क्लब के बहुत बड़े फैन हैं। प्रोफोशनल फुटबॉल खेलना उनका सपना रहा है। 100 मीटर और 200 मीटर रिले रेस में विश्व रिकॉर्ड अपने नाम कर चुके पूर्व धावक ने इसी बाबत पिछले महीने नॉरवेजियन फुटबॉल क्लब स्टॉर्मगॉडसेट से ट्रेनिंग ली थी, जबकि मार्च में उन्होंने बुंदेसलीगा के क्लब बोरूसिया डर्टमुंड संग फुटबॉल की बारीकियां जानी-समझीं।

क्लब के मुख्य कार्यकारी अधिकारी शॉन मीलकैंप ने बताया कि बोल्ट ने ये सभी तैयारियां अगले महीने होने वाले ट्रायल को ध्यान में रखकर कीं, जो कि गॉसफोर्ड स्थित मरीनर्स बेस में छह हफ्तों तक चलेगा। अगर उनका प्रदर्शन ठीक-ठाक रहा, तो वह आगे भी खेल सकते हैं।

फुटबॉल की बारीकिया सीखते हुए जमैका के एथलीट। (फोटोः फेसबुक)

बोल्ट ने इससे पहले यूरोपियन क्लब्स के ट्रायल में भी हिस्सा लिया था। उसमें उनका प्रदर्शन ठीक था, जिसके जिक्र पर शॉन ने कहा कि बोल्ट कितने बेहतरीन फुटबॉलर हैं, यही बात सबसे पहले देखने योग्य होगी। बाएं पैर पर उनका गजब का कंट्रोल है। पर समय ही बताएगा कि वह इस खेल में उनका क्या स्तर है और वह कितना ए-लीग में खुद को फिट बिठा पाते हैं। यह चर्चा तभी और बड़ी होगी, जब वह अच्छा खेलेंगे और आगे तक जाएंगे। लेकिन अगर वह अच्छा न खेल पाए, तो यह कई के लिए निराशाजनक होगा।

चैनल सेवन से हुई बातचीत में शॉन यह भी बोले कि अगर सब कुछ ठीक रहा तो पूरे सेशन के लिए कॉन्ट्रैक्ट पर मुहर लग सकती है। फुटबॉल एजेंट टोनी रेलिस इस कॉन्ट्रैक्ट पर काम कर रहे हैं। उन्होंने स्काई स्पोर्ट्स रेडियो के बिग स्पोर्ट्स ब्रेकफास्ट कार्यक्रम में इस बारे में बताया कि कॉन्ट्रैक्ट पर सहमति बन गई है। हालांकि, अभी कुछ मानक हासिल किए जाने बाकी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App