ताज़ा खबर
 

बॉल टैंपरिंग स्‍कैंडल: आशीष नेहरा ने किया स्‍टीव स्मिथ का समर्थन, बोले- आजीवन प्रतिबंध ठीक नहीं, कप्‍तानी छोड़ना ही काफी

पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज आशीष नेहरा ने कहा कि एक कप्‍तानी से हटाना और एक टेस्‍ट मैच के लिए प्रतिबंधित करने की सजा ही काफी है। बॉल टैंपरिंग में स्‍टीव स्मिथ, डेविड वार्नर और कैमरन बैंक्रॉफ्ट का नाम सामने आया है। स्मिथ ने यह बात कबूल भी की है।

ऑस्‍ट्रेलियाई क्रिकेटर स्‍टीव स्मिथ। (फाइल फोटो)

बॉल टैंपरिंग स्‍कैंडल में भारत के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा ने चौंकाने वाला बयान दिया है। उन्‍होंने ऑस्‍ट्रेलियाई कप्‍तान स्‍टीव स्मिथ का बचाव किया है। नेहरा ने स्‍मिथ पर आजीवन प्रतिबंध लगाने का विरोध किया है। उन्‍होंने कहा कि कप्‍तानी से हटाना ही काफी है। नेहरा ने कहा, ‘आजीवन प्रतिबंध लगाना हकीकत में उनके लिए (स्‍टीव स्मिथ और डेविड वार्नर) बेहद कठोर होगा। सिर्फ उनके लिए ही नहीं किसी भी खिलाड़ी के लिए यह बेहद सख्‍त दंड होगा। आपको इस बात का श्रेय तो देना ही होगा कि उन्‍होंने अपनी गलती स्‍वीकार की है। मेरे खयाल में कप्‍तानी से हटना और एक टेस्‍ट मैच के लिए प्रतिबंधित करना दोनों के लिए काफी है।’ ऑस्‍ट्रेलिया-दक्षिण अफ्रीका के बीच तीसरे टेस्‍ट मैच में बॉल से छेड़छाड़ का मामला सामने आया था। ऑस्‍ट्रेलियाई कप्‍तान स्मिथ ने इस बात को स्‍वीकार भी किया था। जांच के बाद आईसीसी ने उन्‍हें द. अफ्रीका के खिलाफ खेले जाने वाले चौथे और आखिरी टेस्‍ट से निलंबित कर दिया था। इसमें टीम के उपकप्‍तान डेविड वार्नर की भूमिका भी सामने आई थी। दोनों के खिलाफ जुर्माना भी लगाया गया। इस पूरे मामले में कैमरन बैंक्रॉफ्ट नेे भी अहम भूमिका निभाई थी।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Space Grey
    ₹ 25799 MRP ₹ 30700 -16%
    ₹3750 Cashback
  • I Kall Black 4G K3 with Waterproof Bluetooth Speaker 8GB
    ₹ 4099 MRP ₹ 5999 -32%
    ₹0 Cashback

आजीवन प्रतिबंध का खतरा: आईसीसी की कार्रवाई दोनों क्रिकेट प्‍लेयरों के लिए समस्‍याओं की शुरुआत भर हो सकती है। क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया के प्रावधानों के तहत दोनों के क्रिकेट खेलने पर आजीवन प्रतिबंध भी लगाया जा सकता है। इस गंभीर मामले की जांच के लिए क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया के इंटेग्रिटी हेड (प्‍लेयर्स के व्‍यवहार पर नजर रखने वाला विभाग) इयान रॉय और टीम के परफॉर्मेंस मैनेजर पैट होवार्ड खुद केपटाउन पहुंचे थे। ऑस्‍ट्रेलिययाई खेल आयोग के दबाव के कारण क्रिकेट बोर्ड को स्मिथ और वार्नर को कप्‍तान और उपकप्‍तान के पद से हटाना पड़ा था। बॉल टैंपरिंग की घटना सामने आने के बाद क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी जेम्‍स सदरलैंड ने ऑस्‍ट्र‍ेलियाई प्रशंसकों से सार्वजनिक तौर पर माफी मांगी थी। यहां तक कि इस मामले में देश के प्रधानमंत्री मैल्‍कम टर्नबुल ने भी तीखी टिप्‍पणी की थी। उन्‍होंने खुद क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया के अध्‍यक्ष से बात की थी। ऐसे में स्मिथ और वार्नर के खिलाफ आजीवन प्रतिबंध की आशंका बढ़ गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App