ताज़ा खबर
 

2011 में भारत को विश्‍व कप जिताने वाले कोच गैरी कर्स्‍टन इस बार बांग्‍लादेशी खिलाड़ियों को करेंगे तैयार?

भारतीय क्रिकेट टीम को विश्‍व विजेता बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले दक्षिण अफ्रीका के पूर्व दिग्‍गज बल्‍लेबाज गैरी कर्स्‍टन बांग्‍लादेश क्रिकेट टीम से जुड़ सकते हैं। बांग्‍लादेश क्रिकेट बोर्ड उन्‍हें सलाहकार के तौर पर टीम से जोड़ना चाहता है।

भारतीय टीम के पूर्व कोच और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व दिग्‍गज बल्‍लेबाज गैरी कर्स्‍टन। (एक्‍सप्रेस फोटो)

सात साल पहले वर्ष 2011 में भारत को विश्‍व कप जिताने वाले कोच गैरी कर्स्‍टन अब बांग्‍लादेशी खिलाड़ि‍यों को तैयार करेंगे। जी हां! मीडिया रिपोर्ट के अनुसार दक्षिण अफ्रीका के पूर्व धुरंधर बल्‍लेबाज बांग्‍लादेश क्रिकेट टीम के सलाहकार बन सकते हैं। दरअसल, बांग्‍लादेश ने अगले साल होने वाले विश्‍व कप की तैयारियां अभी से शुरू कर दी हैं। इसके तहत पड़ोसी देश कर्स्‍टन को हायर करना चाहता है। बांग्‍लादेश क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों ने बताया कि पूर्व दिग्‍गज खिलाड़ी से इस मसले पर बातचीत चल रही है। बताया जाता है कि बांग्‍लादेश क्रिकेट टीम को लंबे समय से एक कोच की तलाश है। क्रिकेट बोर्ड पिछले साल अक्‍टूबर से ही टीम के लिए मुख्‍य कोच की तलाश में जुटा है, लेकिन उन्‍हें अभी तक सफलता नहीं मिली है। इस बीच, बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के प्रवक्ता जलाल युनूस ने कहा कि उन्होंने भारत के पूर्व कोच कर्स्टन को मुख्य कोच की भूमिका देने का प्रस्ताव नहीं रखा है। युनूस ने कहा, ‘वह हमारी सूची में हैं, लेकिन टीम के सलाहकार के तौर पर। फिलहाल यह भी तय नहीं है। आईपीएल के बाद उनके साथ करार होने की उम्‍मीद है।’ बांग्‍लादेश की टीम ने हाल में ही श्रीलंका में संपन्‍न निदास ट्रॉफी में बेहतरीन प्रदर्शन किया था, लेकिन फाइनल में भारत के हाथों हार का सामना करना पड़ा था।

गैरी कर्स्‍टन ने वर्ष 2008 में भारत के कोच की जिम्‍मेदारी संभाली थी। उनके कार्यकाल में भारतीय टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन किया था। कर्स्‍टन का खिलाड़ि‍यों के साथ भारतीय क्रिकेट बोर्ड के शीर्ष अधिकारियों से भी अच्‍छे संबंध थे, जिसके कारण टीम प्रबंधन और खिलाड़ि‍यों के बीच बेहतर संतुलन बना हुआ था। टीम में सकारात्‍मक बदलाव होने के कारण ही वर्ष 2011 में महेंद्र सिंह धौनी के नेतृत्‍व में भारत ने विश्‍व कप पर कब्‍जा किया था। भारतीय टीम ने फाइनल में श्रीलंका को मात दी थी। कर्स्‍टन को उस वक्‍त टीम में कई बदलाव करने का श्रेय दिया जाता है, जिसके चलते भारतीय टीम ने लगातार बेहतरीन प्रदर्शन किया था। बांग्‍लादेश की मौजूदा टीम में कई प्रतिभाशाली खिलाड़ी मौजूद हैं। टीम प्रबंधन को उम्‍मीद है कि कर्स्‍टन के टीम से जुड़ने के बाद युवाओं के प्रदर्शन में सुधार आएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App