ताज़ा खबर
 

टीम को जीत के करीब तक ले जाने वाले विराट कोहली की कप्तानी पर इस दिग्गज ने उठाए सवाल

विराट कोहली को छोड़ भारत का कोई भी बल्लेबाज इंग्लैंड के गेंदबाजों के सामने ज्यादा देर तक नहीं टिक पाया। पहली पारी में कोहली ने जहां 149 रनों की पारी खेली तो वहीं दूसरी पारी में उनके बल्ले से 51 रन निकले। दोनों ही पारियों में भारत की ओर से वह टॉप स्कोरर रहे। मैच के बाद इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन का मानना है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली का पहले टेस्ट मैच में बल्लेबाज के रूप में प्रदर्शन असाधारण रहा।

विराट कोहली। (Photo Courtesy: ICC)

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में मिली 31 रनों से हार के बाद अगले मैच में टीम की रणनीति में सुधार करना चाहेंगे। विराट कोहली को छोड़ भारत का कोई भी बल्लेबाज इंग्लैंड के गेंदबाजों के सामने ज्यादा देर तक नहीं टिक पाया। पहली पारी में कोहली ने जहां 149 रनों की पारी खेली तो वहीं दूसरी पारी में उनके बल्ले से 51 रन निकले। दोनों ही पारियों में भारत की ओर से वह टॉप स्कोरर रहे। मैच के बाद इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन का मानना है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली का पहले टेस्ट मैच में बल्लेबाज के रूप में प्रदर्शन असाधारण रहा। नासिर ने विराट की कप्तानी पर सवाल उठाए और कहा कि ‘भारत की 31 रन से हार के लिए उन्हें भी कुछ जिम्मेदारी लेनी चाहिए। हुसैन ने स्काई स्पोर्ट्स से कहा, ‘‘कोहली का प्रदर्शन इस मैच में असाधारण रहा। जिस तरह से उन्होंने पुछल्ले बल्लेबाजों के साथ बल्लेबाजी की उसे देखते हुए उन्हें जीतना चाहिए था।

nasser hussain इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन। (image source-Facebook)

कोहली ने अपने दम पर भारत को मैच में वापसी दिलायी। मेरा हालांकि तब भी मानना है कि हार के लिये उन्हें भी थोड़ी जिम्मेदारी लेनी चाहिए।’’उन्होंने कहा, ‘‘इंग्लैंड का स्कोर सात विकेट पर 87 रन था तथा कुर्रन और आदिल क्रीज पर थे और तब रविचंद्रन अश्विन को एक घंटे तक गेंदबाजी नहीं सौंपी गई। भारत ने नियंत्रण खो दिया। उन्हें अपनी कप्तानी में पीछे मुड़कर देखना चाहिए और कहना चाहिए ‘जब मेरे पास ऐसा गेंदबाज है जिसका बायें हाथ के बल्लेबाजों के सामने औसत 19 है और बायें हाथ का 20 वर्षीय बल्लेबाज खेल रहा है तब मैंने उसे गेंदबाजी से क्यों हटाया था।’’

वहीं पहली पारी में 149 रनों के बारे में पूछे जाने पर कोहली ने कहा, “टीम के लिहाज से देखा जाए तो मैंने पहली पारी में जो रन बनाए उसकी जरूरत थी। ऐडिलेड के बाद दूसरी पारी जिसे मैं हमेशा याद रखूंगा।” कप्तान ने कहा, “अगर हम यह मैच जीत गए होते तो और अच्छा होता। दूसरी पारी में एक और साझेदारी हमें मैच जीता सकती थी। हमें सोचना होगा कि हम किस तरह से दोबारा एक साथ आकर जीत सकते हैं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App