ताज़ा खबर
 

पूर्व क्रिकेटर डीन जोन्स ने भी माना टेस्ट क्रिकेट के लिए नहीं बने हैं रोहित शर्मा, बताई ये वजह

India vs South Africa 2nd Test, Ind vs SA (इंडिया वस साउथ अफ्रीका): डीन जोन्स ने कहा, ''रोहित शर्मा अच्छे बल्लेबाज हैं, लेकिन वह टेस्ट क्रिकेट के लिए नहीं बने हैं। टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजों की सबसे बड़ी खासियत डिफेंस होता है, जो रोहित शर्मा नहीं कर पा रहे हैं''।
टीम इंडिया के बल्लेबाज रोहित शर्मा। (फाइल फोटो – बीसीसीआई)

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले दो मैचों में भारतीय टीम के विस्फोटक बल्लेबाज रोहित शर्मा का प्रदर्शन निराशाजनक रहा। क्रिकेट एक्सपर्ट पहले से ही रोहित शर्मा की जगह टीम में अजिंक्य रहाणे को लेने की बात कर रहे हैं। रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ खेले गए सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया था, उनकी फॉर्म को देखते हुए कप्तान उन्हें बार-बार मौका दे रहे हैं। रोहित शर्मा को लेकर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज डीन जोन्स ने अब बड़ा बयान दिया है। डीन जोन्स ने कहा, ”रोहित शर्मा अच्छे बल्लेबाज हैं, लेकिन वह टेस्ट क्रिकेट के लिए नहीं बने हैं। टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजों की सबसे बड़ी खासियत डिफेंस होता है, जो रोहित शर्मा नहीं कर पा रहे हैं”। जोन्स के मुताबिक रोहित शर्मा वनडे और टी-20 के लिए वर्ल्ड के बेस्ट बल्लेबाज हैं, लेकिन टेस्ट में वह अभी तक असरदार साबित नहीं हुए हैं। बेहतर होगा कि विराट कोहली अगले मैच में रोहित शर्मा की जगह अजिंक्य रहाणे को वापस टीम में शामिल करें।

रोहित शर्मा। (फोटो सोर्स – क्रिकइंफो)

उन्होंने कहा, ”पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण, सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ जैसे खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया टूर से तीन महीने पहले से ही प्रैक्टिस करना शुरू कर देते थे”। बता दें कि मौजूदा फॉर्म को देखते हुए विराट कोहली ने अजिंक्य रहाणे की जगह रोहित शर्मा को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया था। रोहित ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पिछली चार पारियों में 19.50 की औसत से सिर्फ 78 बनाया है।

जोन्स ने आगे कहा, ”टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजी का 70 प्रतिशत हिस्सा रक्षात्मक तकनीक पर निर्भर करता है और वनडे में इसकी जरूरत 40 प्रतिशत होती है। रोहित की रक्षात्मक तकनीक उन्हें विफल बना रही है”। लगातार दो मैच हारने के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली पर भी टीम चयन को लेकर कई तरह के सवाल खड़े हो गए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App