former Afghanistan coach Lalchand Rajput reveals strategy to tackle Rashid Khan -राशिद खान की घूमती गेंदों से कैसे निपटेगी टीम इंडिया? पूर्व कोच ने बताया प्लान - Jansatta
ताज़ा खबर
 

राशिद खान की घूमती गेंदों से कैसे निपटेगी टीम इंडिया? पूर्व कोच ने बताया प्लान

आईसीसी से मान्यता मिलने के बाद अफगानिस्तान की टीम 14 जून को इकलौता टेस्ट मैच बेंगलुरु में भारत के खिलाफ खेलेगी।अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच के लिए सिर्फ एक दिक्कत भारतीय टीम को महसूस हो रही है,वह है ऑलराउंडर राशिद खान की शानदार फॉर्म।

Author नई दिल्ली | June 7, 2018 4:48 PM
राशिद खान। (Photo Courtesy: ICC)

आईसीसी से मान्यता मिलने के बाद अफगानिस्तान की टीम 14 जून को इकलौता टेस्ट मैच बेंगलुरु में भारत के खिलाफ खेलेगी।अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच के लिए सिर्फ एक दिक्कत भारतीय टीम को महसूस हो रही है,वह है ऑलराउंडर राशिद खान की शानदार फॉर्म। आईपीएल में जबर्दस्त गेंदबाजी  से चर्चा में आए गेंदबाज राशिद खान को भारतीय नागरिकता देने की मांग भी भारतीय प्रशंसक उठा चुके हैं।

राशिद खान के आक्रमण का सामना करने के लिए अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कोच लालचंद राजपूत ने भारतीय टीम को कीमती सलाह दी है।उन्होंने कहा है कि अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच के लिए भारत को टर्निंग विकेट नहीं तैयार करने चाहिए। अगर ऐसा हुआ तो राशिद खान और उनके साथी गेंदबाज घातक साबित हो सकते हैं। राजपूत ने कहा-अगर हमने अफगानिस्तान को टर्निंग विकेट दिए तो इससे नुकसान होगा। राशिद सहित उनके साथी गेंदबाज खतरनाक साबित हो सकते हैं।वजह कि अफगानिस्तान के पास तीन अच्छे स्पिनर हैं।
अफगानिस्तान खिलाड़ियों को कोचिंग दे चुके लालचंद राजपूत ने राशिद खान को काबू में करने की रणनीति भी बताई। उन्होंने कहा कि राशिद को नियंत्रित करना काफी सरल है। इसके लिए बैकफुट पर नहीं बल्कि आगे बढ़कर फ्रंटफुट पर खेलना है।आपको यह ध्यान रहना है कि राशिद खान को अपने ऊपर हावी नहीं होने देना है। लालचंद राजपूत इस वक्त जिम्बांबे के कोच हैं।उन्होंने सुझाव देते हुए कहा कि अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच के लिए भारत को सीमिंग ट्रैक बनाना चाहिए।क्योंकि अफगानिस्तान की तेंज गेंदबाजी अपेक्षाकृत कमजोर है।राजपूत ने कहा कि भारत को अफगानिस्तान के सामने ग्रीन विकेट देना चाहिए, इससे भारतीय गेंदबाज तीन दिन के अंदर भी टेस्ट मैच समेट सकते हैं।

बता दें कि अमूमन यह माना जाता है कि भारतीय उपमहाद्वीप की पिचें स्पिनरों के लिए मददगार होतीं हैं। खासतौर से भारतीय पिचों को लेकर यह धारणा कुछ ज्यादा ही है।भारतीय टीम के पास इस वक्त अच्छे स्पिनर्स की एक पूरी लाइन है। इसमें रविचंद्रन अश्विन, कुलदीप यादव, रविंद्र जडेजा शुमार हैं। मगर अफगानिस्तान के पास भी अच्छे स्पिनर्स हैं। राशिद खान ने हालिया प्रदर्शन से यह दिखाया है कि क्यों वह टी-20 फार्मेट के नंबर वन गेंदबाज हैं।हाल में देहरादून में आयोजित तीन मैचों के टी-20 मुकाबले में उन्होंने बांग्लादेश पर अफगानिस्तान को 2-0 से हरा दिया।आईपीएल के 11 वें सीजन में अफगानिस्तान के गेंदबाज राशिद खान ने सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खेलते हुए 6.73 के औसत से 21 विकेट लिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App