ताज़ा खबर
 

फीफा विश्वकप: रूस में रोनाल्डो, नेमार और मेस्सी की धूम

अर्जेंटीना के महान फॉरवर्ड खिलाडी लियोनल मेस्सी 180 मिलियन यूरो के साथ फीफा विश्व कप में सबसे महंगे खिलाड़ी हैं।

Author May 31, 2018 6:20 AM
फीफा विश्व कप का कारवां अपने 21वें संस्करण में रूस पहुंच चुका है। 14 जून से शुरू हो रहे इस टूर्नामेंट की धूम अभी से दिखाई देने लगी है।

संदीप भूषण

फीफा विश्व कप का कारवां अपने 21वें संस्करण में रूस पहुंच चुका है। 14 जून से शुरू हो रहे इस टूर्नामेंट की धूम अभी से दिखाई देने लगी है। मोहम्मद सालाह से क्रिस्टियानो रोनाल्डो तक और लियोनल मेस्सी से नेमार तक के पोस्टर रूस की सड़कों पर देखे जा सकते हैं। रूस को पहली बार इस टूर्नामेंट की मेजबानी का मौका मिला है। इस टूर्नामेंट में 32 टीमें अपनी किस्मत आजमाएंगी। 31 टीमों का चयन क्वालीफिकेशन मैचों के माध्यम से किया गया है जबकि रूस मेजबान के तौर पर अपने आप ही विश्व कप का हिस्सा बना। फुटबॉल के इस महाकुंभ में 20 ऐसी टीमें हैं जो लगातार विश्व कप का हिस्सा रही हैं जबकि आइसलैंड और पनामा की टीमें पहली बार चुनौती पेश करेंगी। 11 शहरों के 12 स्टेडियम में कुल 64 मैच होंगे जिसके बाद फुटबॉल के चैंपियन का पता चलेगा। फाइनल मैच मास्को में 15 जुलाई को खेला जाएगा। विश्व कप विजेता टीम स्वत: ही 2021 फीफा कन्फेडरेशन कप के लिए क्वालीफाई कर जाएगी।

मेजबान देश आयोजन पर खर्च कर रहा 11.8 सौ करोड़

आपको यह जान कर आश्चर्य होगा कि 1998 में फ्रांस में आयोजित फीफा विश्व कप के आयोजन में कुल सौ करोड़ डॉलर खर्च हुए तो 2018 में रूस पहुंचते-पहुंचते यह आंकड़ा लगभग 11.8 सौ करोड़ डॉलर पहुंच गया। हालांकि 2014 में जो विश्व कप ब्राजील में आयोजित हुआ उसमें मेजबान देश ने पूरे 12 सौ करोड़ डॉलर खर्च किए थे।

पुरस्कार राशि के तौर पर खर्च होंगे 79.1 करोड़ डॉलर

भला यह किसे मालूम नहीं कि फुटबॉल में पैसों की बरसात होती है। रूस में भी कुछ ऐसा ही होने वाला है। आंकड़ों के मुताबिक रूस में खिलाड़ियों के बीच पुरस्कार राशि के तौर पर 79.1 करोड़ डॉलर खर्च किए जाएंगे। ब्राजील में यह राशि 57.6 करोड़ डॉलर थी। 2012 में शुरू हुई क्लब सुरक्षा योजना के तहत 100 करोड़ डॉलर की राशि अलग से उन्हें दी गई।

ब्राजील में 53 हजार प्रति मैच स्टेडियम पहुंचे थे दर्शक

फुटबॉल का मैच हो और दर्शक स्टेडियम न पहुंचे ऐसा हो ही नहीं सकता। पिछले पांच फीफा विश्व कप के आंकड़ों को देखें तो 1998 में फ्रांस में आयोजित विश्व कप में 44,676 लोग प्रति मैच स्टेडियम पहुंचे थे। तो वहीं जापान में 42,571, जर्मनी में 52,609, दक्षिण अफ्रीका में 49,499 और ब्राजील में 53,592 लोग स्टेडियम पहुंचे थे।

920 मिलियन डॉलर के साथ ब्राजील सबसे महंगी टीम

फीफा विश्व कप में शीर्ष की पांच महंगी टीमों की बात करें तो सबसे पहला नंबर जर्मनी का है जिसका बाजार मूल्य 920.25 मिलियन डॉलर है। दूसरे नंबर पर स्पेन है जिसका बाजार मूल्य 918 मिलियन डॉलर है। तीसरे पर फ्रांस, चौथे नंबर पर ब्राजील और पांचवें नंबर पर इंग्लैंड है।

शीर्ष महंगे खिलाड़ियों में मेस्सी पहले स्थान पर

अर्जेंटीना के महान फॉरवर्ड खिलाडी लियोनल मेस्सी 180 मिलियन यूरो के साथ फीफा विश्व कप में सबसे महंगे खिलाड़ी हैं। वे स्पेनिश क्लब बार्सीलोना के लिए खेलते हैं। 180 मिलियन यूरो के साथ ब्राजील के नेमार भी उनको टक्कर दे रहे हैं। तीसरे स्थान पर पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो हैं जिनकी मार्केट वैल्यू 120 मिलियन यूरो है।
सबसे कीमती खिलाड़ी (मिलियन यूरो)

नाम- देश -कीमत

मेस्सी – अर्जेंटीना – 180
नेमार – ब्राजील – 180
रोनाल्डो – पुर्तगाल – 120
बप्पी – फ्रांस – 120
हैरी केन – इंग्लैंड – 120
फीफा की ब्रांड वैल्यू (मिलियन डॉलर)

साल – ब्रांड वैल्यू
2012 – 147
2013 – 160
2014 – 170
2015 – 229
2016 – 229
2017 – 229

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App