ताज़ा खबर
 
  • राजस्थान

    BJP+ 3
    Cong+ 6
    RLM+ 0
    OTH+ 0
  • मध्य प्रदेश

    BJP+ 3
    Cong+ 1
    BSP+ 0
    OTH+ 0
  • छत्तीसगढ़

    BJP+ 2
    Cong+ 2
    JCC+ 0
    OTH+ 0
  • तेलांगना

    BJP+ 0
    TDP-Cong+ 1
    TRS-AIMIM+ 1
    OTH+ 0
  • मिजोरम

    BJP+ 0
    Cong+ 0
    MNF+ 0
    OTH+ 0

* Total Tally Reflects Leads + Wins

विदेश में हुई पाकिस्तानी खिलाड़ियों की फजीहत, प्लेयर्स बोले-पैसा कमाने की जगह हो गई जेब ढीली

खिलाड़ी पाकिस्तान क्रिकेट टीम की अनुमति से युगांडा के कम्पाला में टी20 लीग खेलने गए थे।

Author नई दिल्ली | December 22, 2017 1:48 PM
पाकिस्तान के पूर्व स्पिनर सईद अजमल।

पाकिस्तान के करीब 20 क्रिकेटर एक टी20 लीग के आयोजक के साथ भुगतान विवाद को लेकर युगांडा में फंस गए हैं, जिनमें सईद अजमल, यासिर हमीद और इमरान फरहत शामिल हैं। ये खिलाड़ी पाकिस्तान क्रिकेट टीम की अनुमति से युगांडा के कम्पाला में टी20 लीग खेलने गए थे। कम्पाला पहुंचने के बाद उन्हें पता चला कि आयोजकों ने यह कहकर पैसा देने से इनकार कर दिया कि लीग के प्रमुख प्रायोजक ने हाथ खींच लिए हैं। एक खिलाड़ी ने कहा ,‘‘ हमें तब बताया गया कि मुख्य प्रायोजक के पीछे हटने के कारण हमें पैसा नहीं मिलेगा। हम तुरंत लौटना चाहते थे, लेकिन हवाई अड्डा पहुंचने पर हमें बताया गया कि आयोजकों ने उस ट्रैवल एजेंसी को भी पैसे नहीं दिए हैं, जिसने टिकट जारी किए हैं तो हमें होटल लौटना पड़ा। ’’

खिलाड़ियों ने कहा कि उन्होंने पीसीबी और पाकिस्तान दूतावास से संपर्क किया और अब वे स्वदेश लौट रहे हैं । उन्होंने कहा ,‘‘ उम्मीद है कि हम शनिवार तक पाकिस्तान पहुंच जाएंगे। यह बहुत खराब अनुभव रहा और पैसा कमाने की बजाय हमें अपनी जेब से पैसा देना पड़ा है ।’’ पीसीबी ने एक बयान में कहा कि वह मामले की जांच कर रहा है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने कहा कि एफ्रो टी20 क्रिकेट लीग में आठ टीमें हैं, जो युगांडा क्रिकेट एसोसिएशन (यूसीए) द्वारा समर्थित है। इसे आईसीसी द्वारा अनुमोदित किया गया है। टूर्नामेंट 17 दिसंबर को शुरू हुआ और 1 जनवरी तक इसके चलने की उम्मीद थी।

लीग ने कथित तौर पर अग्रीमेंट में हर खिलाड़ी के साथ विजेता टीम के लिए $ 50,000 की राशि निर्धारित की थी। पाकिस्तानी स्पिनर सईद अजमल ने कहा कि उन्हें आयोजकों ने कई मौखिक आश्वासन दिए, जिसमें यह भी कहा गया कि उनके लिए पेमेंट और रिटर्न की व्यवस्था की जाएगी।

देखें वीडियो ः

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App