ताज़ा खबर
 

महेंद्र सिंह धोनी को बिहारी कहकर चिढ़ाते थे साथी खिलाड़ी, युवराज सिंह को दे दिया था ऐसा जवाब कि…

महेंद्र सिंह धोनी ने 296 वनडे मैचों में 88.07 की स्ट्राइक के साथ 9496 रन बनाए हैं। इस दौरान धोनी ने 10 शतक और 64 अर्धशतक जड़े हैं।

मैच के दौरान आपस में बातचीत करते महेंद्र सिंह धोनी-युवराज सिंह। (Photo Courtesy: BCCI)

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी काफी कूल मिजाज के माने जाते हैं लेकिन जब वो टीम के साथ जुड़े तो शुरुआती दौर में उन्हें युवी समेत साथी खिलाड़ी बिहारी कहकर पुकारते थे। धोनी को इस बात का बुरा भी लगता लेकिन वह ये बखूबी समझते कि साथी खिलाड़ी ये सब मजाकिया अंदाज में कहते हैं तो इसे माही इग्नोर कर दिया करते थे। मगर एक बार युवराज सिंह ने उन्हें कुछ ऐसा कहा, जिसपर धोनी ने आखिरकार अपनी चुप्पी तोड़ ही दी।

दरअसल हुआ यूं कि युवराज सिंह धोनी से पहले ही टीम में अपनी जगह बना चुके थे। माही 2005 में जब भारतीय टीम से जुड़े तो वह अक्सर चौके-छक्के लगाने की फिराक करते और ऐसे में अपना विकेट भी गंवा बैठते। ऐसे में अक्सर युवराज सिंह उन्हें चिढ़ाते और कहते कि चौके-छक्के लगाने से कुछ नहीं होता बिहारी, मैच जिताने वाली इनिंग भी खेलनी पड़ती है।

एक दिन महेंद्र सिंह धोनी इस बात पर बेहद गुस्सा गए और उन्होंने पलटकर युवी को कहा कि तुम हमेशा गुस्से में क्यों रहते हो? माही का ये जवाब सुन युवराज सिंह को भी अपनी गलती का एहसास हुआ और आलम ये रहा कि आगे चलकर दोनों बेहद खास दोस्त बन गए।

 

बता दें कि महेंद्र सिंह धोनी ने 296 वनडे मैचों में 88.07 की स्ट्राइक के साथ 9496 रन बनाए हैं। इस दौरान धोनी ने 10 शतक और 64 अर्धशतक जड़े हैं। वहीं बात टेस्ट की करें तो 90 मैचों में उन्होंने 16 बार नाबाद रहते हुए 4876 रन बनाए हैं। धोनी वनडे और टेस्ट को मिलाकर 529 कैच और 132 स्टंप आउट कर चुके हैं।

धोनी मैच के दौरान भी बेहद कूल रहते हैं। आलम ये रहता है कि बेहद कम ही मौके पर वो गुस्सा करते दिखे हैं। अपनी कप्तानी में माही अपने अनोखे ही अंदाज में साथी खिलाड़ियों को टोक दिया करते थे ताकि किसी को उनकी बात का बुरा ना लगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App