ताज़ा खबर
 

किसान आंदोलन: द्रोणाचार्य अवार्डी जीएस संधू ने पुरस्कार लौटाने की पेशकश की, अपनी कोचिंग में भारत को बॉक्सिंग में दिलाया था पहला ओलंपिक मेडल

विजेंदर सिंह जब 2008 में ओलंपिक पदक जीतने वहले भारतीय मुक्केबाज बने थे, तब संधू राष्ट्रीय कोच थे। उनकी कोचिंग के दौरान ही आठ भारतीय मुक्केबाजों ने लंदन 2012 ओलंपिक के लिए क्वालिफाई किया था।

Author नई दिल्ली | Updated: December 4, 2020 6:26 PM
GS Sandhu Boxing Coach Men and Womenजीएस संधू के कार्यकाल में ही भारत ने मुक्केबाजी का पहला ओलंपिक पदक हासिल किया था।

राष्ट्रीय मुक्केबाजी टीम के पूर्व कोच गुरबक्श सिंह संधू किसानों के समर्थन में उतर आए हैं। उन्होंने शुक्रवार को कहा कि अगर नए कृषि नियमों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों की मांगों को पूरा नहीं किया गया तो वह अपना द्रोणाचार्य पुरस्कार लौटा देंगे। संधू के कार्यकाल में ही भारत ने मुक्केबाजी का पहला ओलंपिक पदक हासिल किया था। वह दो दशक तक भारत के राष्ट्रीय पुरुष कोच रहे।

इसके बाद वह दो वर्षों से महिला मुक्केबाजों को कोचिंग दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह किसानों का समर्थन करने का उनका तरीका है, जो इतनी ठंड में खुद की परवाह किये बिना आंदोलन कर रहे हैं। संधू ने पटियाला में अपने घर से पीटीआई से कहा, ‘मैं किसानों के परिवार से आया हूं, उनके डर को संबोधित किया जाना चाहिए। अगर चल रही बातचीत से किसानों के लिए संतोषजनक नतीजा नहीं निकलता तो मैं पुरस्कार लौटा दूंगा।’ विजेंदर सिंह जब 2008 में ओलंपिक पदक जीतने वहले भारतीय मुक्केबाज बने थे, तब संधू राष्ट्रीय कोच थे। उनकी कोचिंग के दौरान ही आठ भारतीय मुक्केबाजों ने लंदन 2012 ओलंपिक के लिए क्वालिफाई किया था।

संधू को इससे पहले ही 1998 में द्रोणाचार्य पुरस्कार से नवाजा गया था। उन्होंने कहा, ‘यह पुरस्कार मेरे लिए काफी मायने रखता है, लेकिन साथी किसानों का दुख इससे भी ज्यादा अहमियत रखता है। इस सर्दी में उन्हें सड़कों पर बैठे हुए देखना मेरे लिये बहुत कष्टकारी है। सरकार को उनसे बातचीत करने की जरूरत है और उनके संदेहों को दूर करके उन्हें आश्वस्त करने की जरूरत है।’

उन्होंने कहा, ‘अगर इसका संतोषजनक हल निकलता है तो मैं ऐसा नहीं करूंगा लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है तो मैं पुरस्कार लौटा दूंगा।’ कई पूर्व खिलाड़ियों ने भी आंदोलन कर रहे किसानों का समर्थन किया है। उनमें पद्मश्री और अर्जुन पुरस्कृत पहलवान करतार सिंह, अर्जुन पुरस्कृत बास्केटबॉल खिलाड़ी साजन सिंह चीमा और अर्जुन पुरस्कार प्राप्त हॉकी खिलाड़ी राजबीर कौर शामिल हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 रविंद्र जडेजा के बदले बीच मैच प्लेइंग 11 में शामिल हुए युजवेंद्र चहल; झटके 3 विकेट, भड़क गए ऑस्ट्रेलियाई कोच
2 Ind vs Aus: रविंद्र जडेजा ने लगातार दूसरे मैच में ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को कूटा, MS Dhoni का 8 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा
3 भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 11 रन से हराया, जडेजा की जगह मैदान पर उतरे चहल बने मैन ऑफ द मैच
ये पढ़ा क्या ?
X