ताज़ा खबर
 

सुपर सीरीज फाइनल्स में हारे साइना और श्रीकांत

भारत के दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ियों साइना नेहवाल और किदांबी श्रीकांत के लिए बुधवार को यहां बीडल्यूएफ सुपर सीरीज फाइनल्स में अभियान की शुरुआत निराशाजनक रही..

Author दुबई | December 10, 2015 03:51 am
साइना नेहवाल (रॉयटर्स फाइल फोटो)

भारत के दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ियों साइना नेहवाल और किदांबी श्रीकांत के लिए बुधवार को यहां बीडल्यूएफ सुपर सीरीज फाइनल्स में अभियान की शुरुआत निराशाजनक रही जब इन दोनों को सीधे गेम में शिकस्त का सामना करना पड़ा। टखने की चोट से जूझती दिख रही दुनिया की दूसरे नंबर की खिलाड़ी साइना को महिला एकल में जापान की नोजोमी ओकुहारा के खिलाफ 35 मिनट में 14-21, 6-21 से शिकस्त झेलनी पड़ी। विश्व चैम्पियनशिप की रजत पदक विजेता साइना आज ग्रुप के अपने दूसरे मुकाबले में दुनिया की नंबर एक कैरोलिना मारिन से भिड़ेंगी।

दुनिया के नौवें नंबर के खिलाड़ी श्रीकांत को भी पुरुष एकल में ग्रुप बी के अपने पहले मैच में जापान के केंतो मामोता के खिलाफ 13-21, 13-21 से हार झेलनी पड़ी। श्रीकांत दूसरे मुकाबले में आज डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसन से भिड़ेंगे।

साइना ने इससे पहले नोजोमी के खिलाफ अपने चारों मुकाबले जीते थे लेकिन बुधवार को यह भारतीय खिलाड़ी लय में नहीं दिखी और टखने की चोट के कारण कोर्ट पर उनकी मूवमेंट में भी असर पड़ा। नोजोमी ने तेज शुरुआत करते हुए 5-1 की बढ़त बनाई लेकिन साइना ने लंबी रैली और ड्रॉप शॉट का शानदार इस्तेमाल करके स्कोर 8-8 पर बराबर कर दिया। नोजोमी ने हालांकि मध्यांतर तक 11-10 की मामूली बढ़त बना ली।

साइना ने इसके बाद कुछ गलतियां की जिससे नोजोमी ने 17-12 की मजबूत बढ़त बनाई। साइना ने दो अंक जुटाए लेकिन नेट पर गलती और फिर गलत ड्रॉप शॉट से उन्होंने जापानी खिलाड़ी को गेम प्वाइंट दे दिया। भारतीय खिलाड़ी ने शॉट बाहर मारकर पहला गेम नोजोमी की झोली में डाला। दूसरे गेम में नोजोमी ने तूफानी शुरुआत करते हुए 11-3 की बढ़त बनाई और फिर उन्हें गेम और मैच जीतने में कोई परेशानी नहीं हुई।

दूसरी तरफ पुरुष एकल में श्रीकांत प्रतिष्ठा के अनुसार प्रदर्शन नहीं कर पाए और मामोता ने पूरे मैच में दबदबा बनाए रखा। श्रीकांत ने पहले गेम में 3-1 की बढ़त बनाई लेकिन मामोता ने 7-3 की बढ़त हासिल की। श्रीकांत ने स्कोर 8-10 किया लेकिन मामोता ने लगातार छह अंक के साथ 16-8 की बढ़त बनाई और फिर आसानी से गेम जीत लिया।

दूसरे गेम में भी मामोता ने 6-5 की बढ़त बनाने के बाद लगातर पांच अंक के साथ स्कोर 11-5 किया और फिर जल्द ही 19-9 की बढ़त बना ली। श्रीकांत ने कुछ अंक बनाए लेकिन मामोता को मैच जीतने से नहीं रोक पाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App