ताज़ा खबर
 

आईपीएल 2018: दस साल में जो नहीं कर सका कोई क्र‍िकेटर, ऋषभ पंत ने कर द‍िखाया, टूटा गौतम गंभीर का 10 साल पुराना रिकॉर्ड

दिल्ली की टीम ने इस युवा बल्लेबाज को साल 2016 में 1 करोड़ 90 लाख रुपए खर्च कर अपनी टीम में शामिल किया था। पिछले तीन सालों से दिल्ली के लिए खेलने वाले पंत का यह सीजन बेहद दमदार रहा। पंत इस सीजन अभी तक खेले गए 12 मुकाबलों में 582 रन बना चुके हैं।

ऋषभ पंत और गौतम गंभीर।

आईपीएल में इस साल भी दिल्ली की टीम बेदम नजर आई, आरसीबी के खिलाफ मैच हारते ही दिल्ली टूर्नामेंट से बाहर होने वाली पहली टीम बन गई। दिल्ली की टीम में कप्तान गौतम गंभीर ने इस सीजन वापसी जरूर की, लेकिन वो टीम की किस्मत को बदल नहीं सकें। टीम भले ही प्लेऑफ से बाहर हो गई हो, लेकिन टीम के युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत ने इस साल अपनी बल्लेबाजी से सभी को प्रभावित किया है। दिल्ली की टीम ने इस युवा बल्लेबाज को साल 2016 में 1 करोड़ 90 लाख रुपए खर्च कर अपनी टीम में शामिल किया था। पिछले तीन सालों से दिल्ली के लिए खेलने वाले पंत का यह सीजन बेहद दमदार रहा। पंत ने इस सीजन अभी तक खेले गए 12 मुकाबलों में 582 रन बना चुके हैं। दिल्ली की तरफ से खेलते हुए किसी खिलाड़ी द्वारा बनाया गया एक सीजन का यह सर्वाधिक स्कोर है। दिल्ली को अभी भी दो मैच और खेलने हैं और पंत की कोशिश इन मैचों के दौरान भी अपने फॉर्म को इसी तरह जारी रखने की होगी।

शतक जमाने के बाद फैंस का अभिवादन स्वीकारते पंत। (फोटोः टि्वटर)

पंत से पहले दिल्ली की ओर से सर्वाधिक रन गौतम गंभीर ने बनाए थे। गंभीर ने शुरुआती साल 2008 में 534 रन बनाया था। पिछले दस सालों से गंभीर का यह रिकॉर्ड यूं ही बरकरार था, लेकिन इस साल पंत ने इसे अपने नाम कर लिया है। गंभीर के अलावा साल 2012 में वीरेंद्र सहवाग बी दिल्ली की तरफ से खेलते हुए 495 रन बन बनाने में कायाब रहे थे। वहीं 2009 के सीजन में एबी डीविलियर्स 465 तो 2016 के सीजन में क्विंटन डी कॉक 445 रन बनाकर दिल्ली की किस्मत को बदलने की कोशिश की थी।

पंत इस सीजन स्ट्राइक रेट के साथ-साथ रन बनाने पर भी ध्यान दे रहे हैं। इस सीजन पंत ने 324 गेंदों का समना किया है, जिस दौरान वह 582 रन बनाने में सफल रहे हैं। बता दें कि इस सीजन दिल्ली की टीम ने पंत को रिटेन किया था। वहीं पंत के अलावा युवा कप्तान श्रेयस अय्यर के लिए भी यह सीजन बेहतर गुजरा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App