ताज़ा खबर
 

अब अरुण जेटली स्टेडियम कहलाएगा दिल्ली का फिरोजशाह कोटला मैदान, डीडीसीए ने लिया फैसला

अरुण जेटली का 24 अगस्त को निधन हो गया था। वे काफी दिनों से एम्स में भर्ती थे। उन्होंने दोपहर 12 बजकर 7 मिनट पर अंतिम सांस ली थी।

बदलेगी फिरोजशाह कोटला मैदान का नाम

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली को शृद्धांजलि देते हुए दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट एसोसिएशन (डीडीसीए) ने मंगवलार को फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम बदलकर अरुण जेटली स्टेडियम रखने का फैसला किया। डीडीसीए ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर यह जानकारी दी है। अरुण जेटली डीडीसीए के अध्यक्ष भी रह चुके थे।

अरुण जेटली का 24 अगस्त को निधन हो गया था। वे काफी दिनों से एम्स में भर्ती थे। उन्होंने दोपहर 12 बजकर 7 मिनट पर अंतिम सांस ली थी। 12 सितंबर को एक समारोह में नामकरण होगा। यह समारोह जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में होगा। इसमें गृह मंत्री अमित शाह और खेल मंत्री किरण रिजिजू भी मौजूद रहेंगे।

 

डीडीसीए के ट्वीट में कहा गया है, कोटला नाम अब अरुण जेटली स्टेडियम किया गया है। डीडीसीए के पूर्व प्रेसिडेंट के लिए यह हमारी ऋद्धांजलि है। अरुण जेटली 1999 से 2003 तक डीडीसीए के अध्यक्ष रहे थे।इस पहल पर बात करते हुए डीडीसीए के मौजूदा अध्यक्ष रजत शर्मा ने कहा, यह अरुण जेटली का समर्थन और प्रोत्साहन ही था कि विराट कोहली, वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, आशीष नेहरा, ऋषभ पंत जैसे अन्य कई क्रिकेटर भारत का मान बढ़ा रहे हैं।

जेटली के डीडीसीए के अध्यक्ष रहने के दौरान ही फिरोजशाह कोटला का कायाकल्प हुआ था। इसे आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित किया गया था। स्टेडियम की दर्शक क्षमता भी बढ़ाई गई थी। इसके अलावा विश्व स्तरीय ड्रेसिंग रूम का भी निर्माण किया गया था। अरुण जेटली ने नरेंद्र मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में वित्त और रक्षा समेत कई मंत्रालयों की जिम्मेदारी संभाली थी।

Next Stories
1 एमएस धोनी की गैरमौजूदगी को लेकर सौरव गांगुली ने टीम इंडिया को दी ये सलाह, कहा- माननी होगी ये बात
2 अभी नहीं वक्त आने पर लेंगे राष्ट्रमंडल खेलों के बहिष्कार पर फैसलाः खेल मंत्री
3 विश्वविजेता पीवी सिंधु से पीएम मोदी ने की मुलाकात, गोल्डन गर्ल को कुछ इस तरह दी शुभकामना
ये पढ़ा क्या?
X