ताज़ा खबर
 

भारत-दक्षिण अफ्रीका टेस्‍ट सीरीज: डेल स्‍टेन सीरीज से बाहर, ड्वेन ओलीविर और लुंगी गिरि को मिला मौका

डेल स्‍टेन चोटिल होने के कारण टेस्‍ट सीरीज से बाहर हो चुके हैं।

Author नई दिल्‍ली | January 9, 2018 10:03 AM
दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज डेल स्टेन टेस्‍ट सीरीज से बाहर हो गए हैं। (फाइल फोटो-Twitter/@OfficialCSA)

दक्षिण अफ्रीका को बड़ा झटका लगा है। तेज गेंदबाज डेल स्‍टेन चोटिल होने के कारण भारत के साथ चल रही मौजूदा टेस्‍ट सीरीज से बाहर हो गए हैं। वह चार से छह सप्‍ताह तक मैदान पर नहीं उतर पाएंगे। इसे देखते हुए तेज गेंदबाज ड्वेन ओलीविर और लुंगी गिरि को टीम में जगह दी गई है। युवा तेज गेंदबाज लुंगी गिरि को पहली बार राष्‍ट्रीय टेस्‍ट टीम में जगह दी गई है। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच दूसरा टेस्‍ट मैच 13 जनवरी से शुरू होगा। केपटाउन टेस्‍ट जीत कर दक्षिण अफ्रीका ने 1-0 की बढ़त बना ली है।

ड्वेन दक्षिण अफ्रीका की ओर से अब तक पांच टेस्‍ट मैच खेल चुके हैं। लुंगी गिरि इस फॉर्मेट में कदम रखने जा रहे हैं। युवा तेज गेंदबाज T20 सीरीज में श्रीलंका के साथ खेल चुके हैं, लेकिन उन्‍होंने अभी तक एकदिवसीय और टेस्‍ट करियर का आगाज नहीं किया है। डेल स्‍टेन के टीम से हटने के बाद दक्षिण अफ्रीका द्वारा कोई और बदलाव करने की संभावना कम ही है। दक्षिण अफ्रीका जीतने वाली टीम के साथ ही मैदान में उतर सकती है। डेल स्‍टेन श्रृंखला से ही बाहर हो चुके हैं। चार-छह सप्‍ताह के बाद उनका मेडिकल टेस्‍ट किया जाएगा। इसके बाद ही यह तय हो पाएगा कि वह आने वाले कुछ दिनों में दक्षिण अफ्रीका की गेंदबाजी की कमान संभाल पाएंगे या नहीं। हालांकि, घायल होने के बावजूद टीम की जरूरत को देखते हुए स्‍टेन दूसरी पारी में बल्‍लेबाजी करने मैदान पर उतरे थे। डेल स्‍टेन के टीम से इस तरह बाहर होने को दक्षिण अफ्रीकी टीम के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है।

वहीं, दूसरी ओर भारत के लिए बड़ी समस्‍या खड़ी हो गई है। पहले मैच में हार के बाद भारतीय टीम प्रबंधन शिखर धवन के स्‍थान पर केएल राहुल को टीम में जगह देने और रोहित शर्मा के बजाय अजिंक्‍या रहाणे को टीम में खिलाने पर पुनर्विचार कर सकता है। रहाणे को रविचंद्रन अश्विन के जगह पर भी टीम में जगह दी जा सकती है। हालांकि, इस पर अंतिम फैसला टीम प्रबंधन और कप्‍तान विराट कोहली ही करेंगे, लेकिन पहले टेस्‍ट मैच में बल्‍लेबाजों के बेहद लचर प्रदर्शन को देखते हुए बदलाव से इनकार भी नहीं किया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App