ताज़ा खबर
 

CWG 2018: नाखूनों पर मनिका बत्रा ने उकेर रखा है तिरंगा, दो गोल्‍ड समेत झटक लिए 4 मेडल्‍स

गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की तरफ से सबसे सफल रहने वाली टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा ने अपनी उंगलियो के नाखूनों पर तिरंगा उकेर रखा है। नाखूनों पर तिरंगा वाली उनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर कई लोग शेयर कर रहे हैं।

मनिका बत्रा। (फोटो सोर्स- ट्विटर)

गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की तरफ से सबसे सफल रहने वाली टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा ने अपनी उंगलियो के नाखूनों पर तिरंगा उकेर रखा है। नाखूनों पर तिरंगा वाली उनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर कई लोग शेयर कर रहे हैं। मनिका ने टेबल टेनिस में भारत की तरफ से 4 मेडल जीते हैं, जिनमें 2 गोल्ड मेडल शामिल हैं। ऐसा करने वाली वह पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गई हैं। दिल्ली की 22 वर्षीय इस खिलाड़ी ने कमनवेल्थ गेम्स में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाकर अपने लाखों फैन्स बना लिए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यालय की तरफ से मनिका की उपलब्धियों पर बधाई दी गई। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी ट्वीट कर मनिका को गोल्ड जीतने पर बधाई दी। मनिका ने ये मेडल सिंगल्स, वुमेन्स टीम, वुमेन्स डबल्स और मिक्स्ड डबल्स में जीते। कॉमनवेल्थ गेम्स में मनिका ने सिंगापुर की वर्ल्ड नंबर-4 फेंग तेनवे (वुमेन्स टीम) और पूर्व वर्ल्ड नंबर-9 मेंगयू यू (सिंगल्स) को हराकर गोल्ड मेडल जीते। हालांकि इन दोनों ही खिलाड़ियों की जोड़ी से वह डबल्स के फाइनल में हार गईं।

HOT DEALS
  • JIVI Revolution TnT3 8 GB (Gold and Black)
    ₹ 2878 MRP ₹ 5499 -48%
    ₹518 Cashback
  • Honor 8 32GB Pearl White
    ₹ 14210 MRP ₹ 30000 -53%
    ₹1500 Cashback

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मनिका ने गोल्ड कोस्ट जाने से पहले जर्मनी में एक महीने की स्पेशल ट्रेनिंग ली थी। मनिका ने मीडिया को बताया कि ट्रेनिंग के दौरान उन्होंने गेम में फास्ट सर्विस, स्मैश और गेंद कंट्रोल को बेहतर करने की प्रेक्टिस की और इसका फायदा उन्हें कॉमनवेल्थ गेम्स में मिला। मनिका ने मीडिया को बताया कि वह चार साल की उम्र से टेबल टेनिस खेल रहीं, लेकिन कॉलेज की पढ़ाई के दौरान उन्हें मॉडलिंग का भी ऑफर मिला था, जिसे उन्होंने नहीं चुना।

मनिका ने कहा- “खुदकिस्मत हूं कि मेरे खेल की वजह से ही मुझे कॉमनवेल्थ गेम्स में लीड करने का मौका मिला और लीडर होने का रोल मैं अच्छे से निभा सकी। सिंगापुर की दोनो टॉप रैंक की प्लेयर को हराना सुखद अनुभव रहा। लेकिन, डबल्स में उनसे ही मिली हार से जरूर थोड़ी निराशा हुई।” मनिका की मां सुषमा बत्रा ने कहा कि उनकी बेटी मे देश का नाम ऊंचा करने के लिए सही रास्ता चुना, इसकी उन्हें खुशी है। बता दें कि इस बार भारत ने 26 गोल्ड, 20 सिल्वर और 20 ब्रॉन्ज समेत 66 पदक जीते हैं। रविवार (15 अप्रैल) को गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ का समापन हो गया है। भारत की तरफ से 217 खिलाड़ियों ने इन खेलों में भाग लिया था। लेकिन मनिका की खास उपलब्धियों के लिए हर तरफ से बधाइयों का तांता लगा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App