ताज़ा खबर
 

CWG 2018: वेंकट राहुल रागला ने वेटलिफ्टिंग में जीता स्वर्ण पदक, भारत को मिला चौथा गोल्ड

CWG 2018, Commonwealth Games 2018: स्नैच में वेंकट का सबसे अच्छा प्रदर्शन 151 किलोग्राम का था, वहीं क्लीन एंड जर्क में दूसरी बारी में उन्होंने सबसे अच्छा प्रदर्शन करते हुए 187 किलोग्राम का भार उठाया। इस स्पर्धा में सामोआ के डोन ओपेलोगे को रजत और मलेशिया के मोहम्मद फाजरुल को कांस्य पदक हासिल हुआ।

वेंकट राहुल रागाला (REUTERS फोटो)

आंध्र प्रदेश के 21 वर्षीय निवासी वेंकट राहुल रंगाला ने यहां जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में शनिवार को तीसरे दिन पुरुषों की 85 किलोग्राम भारोत्तोलन स्पर्धा के फाइनल में जीत हासिल कर भारत को चौथा स्वर्ण पदक दिलाया। वेंकट तीसरे दिन भारत के लिए स्वर्ण पदक जीतने वाले दूसरे भारोत्तोलक हैं। इससे पहले, शनिवार को ही सतीश कुमार शिवालिंगम ने पुरुषों की 77 किलोग्राम भार वर्ग स्पर्धा में भारत को सोने का तमगा दिलाया। वेंकट ने करारा स्पोर्ट्स एरीना-1 में आयोजित इस स्पर्धा में स्नैच और क्लीन एंड जर्क में कुल 338 किलोग्राम का भार उठाकर सोना अपने नाम किया।

स्नैच स्पर्धा में वेंकट ने पहली बारी में 147 किलो का वजन उठाया। हालांकि, दूसरी बार में वह 151 किलो का भार उठाने में असफल रहे, लेकिन तीसरी बारी में उन्होंने इसी भार को उठाकर शानदार प्रदर्शन किया। यह स्नैच में उनका सबसे अच्छा प्रदर्शन था। क्लीन एंड जर्क में दूसरी बारी में उन्होंने सबसे अच्छा प्रदर्शन करते हुए 187 किलोग्राम का भार उठाया। पहली बारी में उन्होंने 182 किलो का भार उठाया था। वह तीसरी बारी में 191 किलोग्राम का भार उठाने में असफल रहे, लेकिन शानदार प्रदर्शन करते हुए वह स्वर्ण अपने नाम कर चुके थे।

इस स्पर्धा में सामोआ के डोन ओपेलोगे को रजत पदक हासिल हुआ। उन्होंने कुल 331 किलो का भार उठाया। वह क्लीन एंड जर्क में दूसरी और तीसरी बारी में असफल रहे। मलेशिया के मोहम्मद फाजरुल अजेरी मोहदाद को कांस्य पदक हासिल हुआ। मोहम्मद ने कुल 328 किलोग्राम का भार उठाया। वह स्नैच स्पर्धा में अच्छा प्रदर्शन कर पाने में असफल रहे। वहीं इससे पहले शनिवार को ही भारोत्तोलक खिलाड़ी सतीश कुमार शिवालिंगम ने पुरुषों के 77 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक जीता था। कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के हिस्से अभी तक छह पदक आ चुके हैं, जिनमें से चार स्वर्ण पदक हैं तो एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज मेडल है। खास बात है कि अब तक सभी मेडल वेटलिफ्टिंग से ही आए हैं। इससे पहले राष्ट्रमंडल खेलों के दूसरे दिन संजीता चानू महिलाओं के 53 किलोग्राम भार वर्ग में भारत को दूसरा गोल्ड दिलाया था। वहीं पहला गोल्ड मीराबाई चानू ने गुरुवार को महिलाओं के 48 किलोग्राम भार वर्ग स्पर्धा में जीता था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App