scorecardresearch

ऋद्धिमान साहा ने 15 साल, 122 मैच बाद छोड़ा बंगाल, इन दो राज्य क्रिकेट संघों के संपर्क में हैं भारतीय विकेटकीपर

37 वर्षीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा का कैब के एक अधिकारी के साथ अनबन के बाद बंगाल क्रिकेट के साथ संबंध खराब हो गए थे और उन्होंने उससे नाता तोड़ने का मन बना लिया।

ऋद्धिमान साहा। (सोर्स- ट्विटर)

ऋद्धिमान साहा को शनिवार को बंगाल क्रिकेट एसोसिशसन (CAB) से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट (NOC) मिल गया है। राज्य क्रिकेट बोर्ड ने एक बयान में इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा, ” ऋद्धिमान साहा ने कैब संपर्क किया और अध्यक्ष अविषेक डालमिया को एक आवेदन में एसोसिएशन से एनओसी मांगा। कैब ने साहा के अनुरोध पर मान लिया और उन्हें दूसरे राज्य के लिए खेलने के लिए एनओसी प्रदान की।” कैब ने भी उन्हें उनके भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी दीं।

37 वर्षीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा का कैब के एक अधिकारी के साथ अनबन के बाद बंगाल क्रिकेट के साथ संबंध खराब हो गए थे और उन्होंने उससे नाता तोड़ने का मन बना लिया। वह अगले घरेलू सत्र में किसी अन्य राज्य के लिए खेलना चाहते हैं। सूत्रों ने कहा कि अनुभवी विकेटकीपर-बल्लेबाज त्रिपुरा और गुजरात सहित कुछ राज्य संघों के साथ बातचीत कर रहे हैं।

गत फरवरी में साहा ने रणजी ट्रॉफी के ग्रुप चरण के लिए खुद को अनुपलब्ध बताया था। यह तब हुआ जब न्यूजीलैंड के खिलाफ बढ़िया पारी खेलने के बाद भी राष्ट्रीय चयन समिति ने उन्हें श्रीलंका के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की घरेलू सीरीज से बाहर कर दिया था। साहा को रणजी ट्रॉफी 2022 नॉकआउट चरण के लिए बंगाल टीम में चुना गया था, लेकिन उन्होंने खेलने से इन्कार कर दिया औ एनओसी मांगी।

साहा ने इसे लेकर कहा था, “आईपीएल से पहले एक घटना घटी और फिर मैंने बंगाल के लिए अब और नहीं खेलने का फैसला किया। बंगाल के लिए इतने लंबे समय तक खेलने के बाद अगर कोई आप पर भद्दी टिप्पणियां करता है, तो दुख होता है। मैं व्यक्तिगत रूप से आहत था और इसलिए मैंने अपना राज्य बदलने का फैसला किया। मैंने कई राज्यों से बात की है, लेकिन अभी कुछ भी फाइनल नहीं हुआ है।”

बता दें कि साहा ने आईपीएल 2022 में हार्दिक पांड्या की अगुवाई वाली गुजरात टाइटंस को पहले ही सीजन में चैंपियन बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। टाइटंस के लिए साहा ने 11 मैचों में तीन अर्द्धशतक की मदद से 317 रन बनाए। मैथ्यू वेड के फेल होने पर उन्हें बतौर ओपनर खेलने का मौका मिला और उन्होंने मौके को दोनों हाथों से लपका।

पढें क्रिकेट (Cricket News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X