ताज़ा खबर
 

World Cup 2019: ऋषभ पंत को बाहर करने से हैरान हैं गावस्कर, गिनाईं विकेटकीपर-बल्लेबाज की खूबियां

World cup 2019: चयनकर्ताओं के इस फैसले से पूर्व भारतीय कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर हैरान हैं। गावस्कर हैरान हैं क्योंकि पंत काफी ‘बेहतरीन’ बल्लेबाजी फार्म में हैं और उसके विकेटकीपिंग कौशल में काफी सुधार हुआ हैं।

World cup 2019: ऋषभ पंत को विश्वकप टीम में नहीं चुने जाने से हैरान गावस्कर। (pc- Indian express file)

world cup 2019: आईपीएल के बाद इंग्लैंड एंड वेल्स में 30 मई से शुरू होने जा रहे क्रिकेट के महाकुम्भ एकदिवसीय विश्वकप के लिए भारतीय टीम का ऐलान कर दिया गया है। बीसीसीआई की सीनियर चयनसमिति ने 15 सदस्यीय टीम की घोषणा कर दी है। इस टीम में ऋषभ पंत के युवा जोश पर दिनेश कार्तिक का अनुभव भारी पड़ गया।चयनकर्ताओं के इस फैसले से पूर्व भारतीय कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर हैरान हैं। गावस्कर हैरान हैं क्योंकि पंत काफी ‘बेहतरीन’ बल्लेबाजी फार्म में हैं और उसके विकेटकीपिंग कौशल में काफी सुधार हुआ हैं।

पंत को नहीं चुने जाने पर गावस्कर ने कहा कि यह कदम हैरानी भरा है लेकिन उन्होंने बेहतर विकेटकीपर के तौर पर कार्तिक का समर्थन किया। गावस्कर ने इंडिया टुडे से कहा ‘‘पंत की फार्म को देखते हुए यह थोड़ा हैरानी भरा है। वह सिर्फ आईपीएल में ही नहीं बल्कि इससे पहले भी काफी बेहतरीन बल्लेबाजी कर रहे थे। वह विकेट कीपिंग में भी काफी सुधार दिखा रहे हैं। वह शीर्ष छह में बायें हाथ का बल्लेबाजी विकल्प मुहैया करते जो गेंदबाजों के खिलाफ काफी अच्छा होता।” उन्होंने कहा ‘‘गेंदबाजों को बायें हाथ के बल्लेबाजों के लिए अपनी लाइन एवं लेंथ में बदलाव करना पड़ता है जिस से कप्तान को मैदान में काफी इंतजाम करने होते हैं।’’ पंत ने इस मौजूदा आईपीएल में अभी तक 245 रन जबकि कार्तिक ने 111 रन बनाए हैं।

गावस्कर ने हालांकि इस फैसले फायदेमंद बताते हुए कहा ‘‘किसी दिन अगर महेंद्र सिंह धोनी को फ्लू होता है और वह नहीं खेल पते तो आप ऐसा खिलाड़ी चाहोगे जो बेहतर विकेटकीपर हो। मुझे लगता है कि कार्तिक को किसी और चीज से ज्यादा विकेट कीपिंग कौशल से ही टीम में जगह मिली हैं।’’ उन्होंने कहा कि तमिलनाडु के आलराउंडर विजय शंकर की ‘त्रिआयामी विशेषताओं’ को देखते हुए वह टीम के लिए काफी उपयोगी खिलाड़ी होंगे। उन्होंने कहा ‘‘वह ऐसा क्रिकेटर है जिसने पिछले एक साल में काफी सुधार किया है। उसके आत्मविश्वास में बढ़ोतरी हुई है। शंकर काफी उपयोगी क्रिकेटर भी है। वे काफी अच्छे बल्लेबाज उपयोगी गेंदबाज और बेहतरीन फील्डर भी हैं।”

पूर्व भारतीय बल्लेबाज आकाश चोपड़ा ने कहा कि पंत को केंद्रीय अनुबंध में शीर्ष वर्ग में शामिल किए जाने से उन्हें लगा था कि यह युवा खिलाड़ी भारत की विश्व कप टीम में जगह बना लेगा। उन्होंने अपने ट्विटर पर लिखा, ‘‘कुछ हफ्ते पहले पंत को केंद्रीय अनुबंधों में शीर्ष वर्ग में शामिल किया था। भारत ने चौथे स्थान के विकल्प के लिए शंकर को चुना है। लेकिन उन्हें यह नहीं पता कि यह कारगर होगा या नहीं। डीके तभी खेलेंगे जब धोनी उपलब्ध नहीं होंगे। कोई चौथा तेज गेंदबाज नहीं हैं। उम्मीद करते हैं कि यह कारगर होगा। गुडलक।’’ भारत की 2007 विश्व टी20 जीत के स्टार रहे पूर्व भारतीय क्रिकेटर आर पी सिंह ने कहा, ‘‘स्पष्ट रूप से टीम चयन में दिनेश कार्तिक के रूप में अनुभव और संयम को चुना गया है। मध्यक्रम देखना काफी दिलचस्प होगा जिसमें लोकेश राहुल और दिनेश कार्तिक चौथे नंबर पर हो सकते हैं। बाकी सब ठीक दिखता है।”

(भाषा इनपुट्स के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App