ताज़ा खबर
 

जब आठ ओवर में भी तीन रन नहीं बना सकी थी साउथ अफ्रीका की टीम

इस मैच में आखिरी 8 ओवर में दक्षिण अफ्रीका 3 रन नहीं बना पाया था। इस मैच में भारतीय तेज गेंदबाज मुनाफ पटेल का शानदार प्रदर्शन आज भी इतिहास के पन्नो में दर्ज हैं।

इस मैच में मुनाफ पटेल ने चार विकेट चटकाए थे। (pc- Indian express file)

क्रिकेट अनिश्चिताओं का खेल हैं। कई बार टीम जीत हुआ मैच गवां देती हैं तो कभी मैच हार रही टीम आखिरी मिनट में जीत जाती हैं। ऐसा ही कुछ 2011 में भारत के दक्षिण अफ़्रीकी दौरे के दौरान हुआ था। पांच मैचों की वनडे सीरीज का दूसरा वनडे जोहानसबर्ग के वांडरर्स स्टेडियम में खेला जा रहा था। इस मैच से पहले दक्षिण अफ्रीका भारत से 1-0 से आगे चल रहा था। लेकिन इस मैच में भारत ने शानदार प्रदर्शन किया और लगभग हारा हुआ मैच आपने नाम कर सीरीज 1-1 से बराबर कर ली। इस मैच में आखिरी 8 ओवर में दक्षिण अफ्रीका 3 रन नहीं बना पाया था। इस मैच में भारतीय तेज गेंदबाज मुनाफ पटेल का शानदार प्रदर्शन आज भी इतिहास के पन्नो में दर्ज हैं।

इस मैच में भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। उनका ये फैसला सही साबित नहीं हुआ और भारत ने 67 रनों पर तीन विकेट खो दिए। गौतम गंभीर और वीरेन्द्र सहवाग की गैमौजूदगी में सचिन के साथ सलामी बल्लेबाजी करने उतरे मुरली विजय कुछ खास नहीं कर पाए। विजय के आउट होने के बाद सचिन और विराट कोहली भी जल्द आउट हो गए। चौथे नुबेर पर बल्लेबाजी करने उतरे युवराज सिंह ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए अर्धशतक लगाया। युवी ने 68 गेंदों में 53 रनों की पारी खेली। लेकिन एक तरफ से लगातार विकेट गिरते रहे और भारत 472 ओवरों में 190 पर ढेर हो गया। दक्षिण अफ्रीका के लिए डेल स्टेन और पर्नेल ने चार चार विकेट लिए। वहीं लोंवाबो ट्सोतसोबे ने तीन विकेट चटकाए।

जवाब में आसान लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका को पहला झटका जल्द लगा। लेकिन कप्तान ग्रीम स्मिथ ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए टीम को संभाला और अर्धशतक लगाया। स्मिथ ने 98 गेंदों में 77 रन ठोके। स्मिथ की इस पारी के बाद मैच लगभग भारत के हाथ से फिसल गया। लेकिन तभी मुनाफ पटेल ने स्मिथ को बोल्ड कर भारत को मैच में वापसी कराई। इसके बाद भारतीय गेंदबाज अफ़्रीकी बल्लेबाजों पर हावी हो गए और एक के बाद एक विकेट गिरते गए। लेकिन दक्षिण अफ्रीका तबतक लक्ष्य के करीब पहुंच गया था। आखिरी आठ ओवर में दक्षिण अफ्रीका को जीतने के लिए तीन रनों की जरुरत थी। गेंद एक बार फिर इस मैच में शानदार गेंदबाजी कर रहे मुनाफ पटेल के हाथ में थी। मुनाफ ने पर्नेल को पहली गेंद डाली उन्होंने धीरे से एक सिंगल ले लिया। अगली गेंद पर मोर्केल मुनाफ को चौका मार मैच ख़त्म करना चाहते थे। लेकिन पॉइंट पर लगे युसूफ पठान ने शानदार कैच लपक लिया और दक्षिण अफ्रीका को नौवां झटका दिया। अब अफ्रीका को जीत के लिए 3 रन चाहिए थे और मात्र एक विकेट बचा हुआ था। बल्लेबाजी करने ट्सोतसोबे आए। मुनाफ की पहली गेंद ट्सोतसोबे ने सावधानी से खेली और अगली गेंद पर पॉइंट में एक रन ले लिया। अब दक्षिण अफ्रीका को जीतने के लिए 2 रन चाहिए थे। तभी मुनाफ ने युवी को पॉइंट में लगाया और पर्नेल ने अगली गेंद वहीं मारी और आउट हो गए। इसी के साथ भारत ने ये मैच मात्र एक रन से जीत लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App