ताज़ा खबर
 

अब “विंडीज” के नाम से जानी जाएगी वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम

वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड ने अपनी 91वीं सालगिरह के मौके पर कुछ बड़े बदलावों की घोषणा की है।

वर्ल्‍ड कप जीतने के बाद कप्‍तान सैमी के अलावा ड्वेन ब्रावो ने वेस्‍टइंडीज क्रिकेट बोर्ड पर जमकर निशाना साधा। (PTI)

वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड ने अपनी 91वीं सालगिरह के मौके पर कुछ बड़े बदलावों की घोषणा की है। बोर्ड ने न सिर्फ अपना नाम बदला है बल्कि क्रिकेट टीम का नाम भी बदल दिया है। बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक क्रिकेट टीम अब वेस्टइंडीज नहीं बल्कि “WINDIES” के नाम से जानी जाएगी। वहीं वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड का नाम भी बदलकर अब “क्रिकेट वेस्टइंडीज” कर दिया जाएगा। पहले बोर्ड का नाम वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड था। वहीं इस मौके पर वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड के सीईओ जॉनी ग्रेव्स ने कहा है कि क्रिकेट वेस्टइंडीज एक बेहतर नाम है और यह बताता है कि हम कैसे काम करते हैं। उन्होंने आगे कहा- “हम खेल को नये स्तर पर ले जाने की कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए हम अपने निवेशकों के साथ काम कर रहे हैं और हमने 2018-2023 के लिए रणनीति भी बनाई है, जिसपर काम किया जा रहा है।”

वहीं इस मौके पर बोर्ड के प्रजिडेंट डेव कैमरॉन ने भी अपनी बात रखी। उन्होंने कहा- “नया नाम ज्यादा बेहतर और इंक्यूसिव है।” उन्होंने आगे कहा- “नया नाम हमारे खिलाड़ियों के महत्व, टेरिटोरल बोर्ड, स्टाफ, सपोर्टर्स, सरकार, कोच, मैच अधिकारियों और कार्यकर्ताओं के क्रिकेट में बड़ी भागीदारी को बेहतर तरीके से बयां करते हैं।” बता दें वेस्टइंडीज को आम बोल-चाल की भाषा में “वीडीज” के नाम से जाना जाता है और क्रिकेट की दुनिया में भी अब उसे इसी नाम से जाना जाएगा।

वहीं वेस्टइंडीज इस साल चैंपियंस ट्रॉफी से बाहर हो गई है। टीम इस बार दुनिया की बेस्ट आठ टीमों की लिस्ट में अपनी जगह बनाने में नाकाम रही थी। उनकी जगह पर इस बार बांग्लादेश टूर्नामेंट में है। वहीं बीते काफी समय से वेस्टइंडीज का खराब प्रदर्शन देखने को मिला है। वहीं गौरतलब है बोर्ड और खिलाड़ियों के बीच रिश्ते खराब होने की भी काफी खबरें सामने आई हैं। इन्हीं वजहों से टीम के कई दिग्गज खिलाड़ी जैसे क्रिस गेल, ड्वेन ब्रावो, डैरेन सैमी टीम से बाहर हैं। खिलाड़ियों के बाहर होने का असर टीम के प्रदर्शन पर भी साफ नजर आता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App