ताज़ा खबर
 

कमेंट्री बॉक्स में भी जारी है वीरू का जलवा, जानिए किसको बताया भारत का ‘बेटा और पोता’

वीरेंद्र सहवाग ने भारतीय पारी के दौरान पाकिस्तान और बांग्लादेश दोनों को एक साथ ट्रोल करते हुए मजाकिया अंदाज में कहा, 'भारत बेटे के साथ भिड़ने से पहले पोते के साथ प्रैक्टिस कर रहा है।'

इस तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ खबर के प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।(Photo: YouTube ScreenShot)

वीरेंद्र सहवाग भारतीय क्रिकेट के सबसे शानदार ओपनर्स में शामिल हैं। लेकिन, वो सिर्फ अपनी कातिलाना बल्लेबाजी के लिए ही नहीं बल्कि अपने मजाकियां अंदाज के लिए भी जाने जाते हैं। वीरेंद्र सहवाग अपने मजाकिया और हाजिरजवाब ट्वीट्स के चलते ट्विटर स्टार बन चुके हैं। उन्होंने एक बार फिर वही किया है जिसके लिए वो इन दिनों अक्सर चर्चा में रहते हैं। आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी से पहले भारत और बांग्लादेश के बीच खेले गए अभ्यास मैच में वीरेंद्र सहवाग ने एक बार फिर अपने सेंस आॅफ ह्यूमर का परिचय दिया। उन्होंने पाकिस्तान को लेकर एक ऐसा मजाक किया कि दर्शक हंसे बिना नहीं रह पाए होंगे। इस मैच में कमेंद्री कर रहे वीरेंद्र सहवाग ने भारतीय पारी के दौरान पाकिस्तान और बांग्लादेश दोनों को एक साथ ट्रोल करते हुए मजाकिया अंदाज में कहा, ‘भारत बेटे के साथ भिड़ने से पहले पोते के साथ प्रैक्टिस कर रहा है।’

वीरेंद्र सहवाग ने पोता शब्द बांग्लादेश के लिए और बेटा शब्द पाकिस्तान के लिए इस्तेमाल किया। गौरतलब है कि पाकिस्तान भारत से अलग होकर एक नया देश बना था, वहीं 1971 में बांग्लादेश पाकिस्तान से अलग होकर एक नया देश बना था। वीरेंद्र सहवाग ने कमेंट्री के दौरान तीनों देशों को एक संबंध में बांधने की कोशिश की। वीरेंद्र सहवाग के इस कमेंट के बाद कमेंट्री बॉक्स में हंसी का दौर चल पड़ा। इसके बाद सोशल मीडिया में भी सहवाग के इस बयान को शेयर किया जाने लगा है और लोग अपनी हंसी नहीं रोक पा रहे हैं। इससे पहले वीरेंद्र सहवाग ने आईसीसी ​वर्ल्ड कप क्वालीफायर मुकाबलों में भारतीय महिला टीम की पाकिस्तान पर जीत के बाद बधाई देते हुए ट्वीट किया था, ‘पाकिस्तान को 7 विकेट से हराने के​ लिए इंडियन विमेंस टीम को बधाई। अब तो आदत सी हो गई है!’ गौरतलब है कि पाकिस्तान आज तक किसी भी लेवल के विश्व कप में भारत को हरा नहीं पाया है।

Video: विराट कोहली से आखिर क्यों नाराज हैं भारत का यह पूर्व क्रिकेटर?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App