कानून के दायरे में था विराट कोहली का वॉकी-टॉकी यूज़ करना, जानें क्या कहते हैं ICC के नियम - Virat Kohli’s walkie-talkie usage during India-New Zealand T20I within ICC parameters - Jansatta
ताज़ा खबर
 

कानून के दायरे में था विराट कोहली का वॉकी-टॉकी यूज़ करना, जानें क्या कहते हैं ICC के नियम

फुटेज सामने आने के बाद मीडिया से लेकर सोशल मीडिया तक में चर्चा थी कि आईसीसी कोहली पर कार्रवाई कर सकती है।

मैच के दौरान वॉकी-टॉकी इस्‍तेमाल करते विराट कोहली। (Photo: HotStar Screenshot)

बुधवार को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में न्यूजीलैंड के साथ खेले गए पहले सीरीज़ के पहले टी20 मुकाबले में विराट कोहली डगआउट में बैठकर वॉकी-टॉकी इसल्तेमाल करते नजर आए थे। इसकी फुटेज सामने आने के बाद मीडिया से लेकर सोशल मीडिया तक में चर्चा थी कि आईसीसी कोहली पर कार्रवाई कर सकती है। इस कार्रवाई के पीछे हवाला दिया गया कि आईसीसी के नियमानुसार खिलाड़ियों व सपोर्ट स्‍टाफ को वॉकी-टॉकी इस्‍तेमाल करने की अनुमति है। ड्रेसिंग रूम के भीतर मोबाइल फोन पर पाबंदी है। हालांकि आईसीसी के 4.3.1 पॉइंट में जारी किये गए दिशानिर्देश के मुताबिक, ‘शक को समाप्त करने के लिए वॉकी-टॉकी का उपयोग किया जा सकता है ताकि डगआउट में बैठकर ड्रेसिंग रूम में संपर्क किया जा सके। इस दौरान मैच की रणनीति और मेडिकल संबंधी मामलों पर बातचीत की जा सकती है। इससे तीसरी पार्टी का हस्तक्षेप नहीं होता है।’

आपको बता दें कि जब कोहली द्वारा वॉकी-टॉकी के इस्तेमाल का मुद्दा मीडिया में उछला तो बाद में आईसीसी ने कोहली को क्‍लीन चिट देते हुए कहा कि उन्‍होंने इसकी इजाजत ली थी। हालांकि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि आईसीसी जल्‍द ही इस मामले में प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर सकती है।

इससे पहले बुधवार को वरिष्ठ तेज गेंदबाज आशीष नेहरा के आखिरी अंतर्राष्ट्रीय मैच में भारतीय टीम ने उन्हें जीत के साथ विदाई देते हुए न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 में अपनी पहली जीत दर्ज की है। मेहमान टीम ने टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाजी का आमंत्रण दिया जो उसके लिए उलटा साबित हुआ। रोहित शर्मा (80) और शिखर धवन (80) ने पहले विकेट के लिए 158 रनों की रिकार्ड साझेदारी करते हुए भारत को 20 ओवरों में तीन विकेट के नुकसान पर 202 रनों का विशाल स्कोर प्रदान किया। किवी टीम इस विशाल लक्ष्य के सामने 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 148 रन ही बना सकी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App