scorecardresearch

विराट कोहली के टी-20 करियर पर लग सकता है विराम, इंग्लैंड के खिलाफ व्हाइट बॉल सीरीज तय करेगी भविष्य : रिपोर्ट

रिपोर्ट के अनुसार रोहित, पंत और पांड्या के वनडे के बाद पांच मैचों की टी-20 सीरीज के लिए टीम के साथ कैरिबियाई दौरे पर जाने की संभावना है। टी-20 में कोहली का भविष्य इस बात पर निर्भर करेगा कि वह अगले 10 दिनों में इंग्लैंड में दो टी-20 और वनडे में कैसा प्रदर्शन करते हैं।

virat kohli, krk, anushka sharma
भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली (फोटो: ट्विटर/विराट कोहली)

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली का खराब प्रदर्शन जारी है। वह पिछले ढाई साल से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शतक नहीं लगा पाए हैं। इस बीच खबरें हैं कि अगर वह इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 और वनडे सीरीज में खराब प्रदर्शन करते हैं तो उनके टी-20 करियर पर विराम लग सकता है। उन्होंने 9 महीने पहले ही टी-20 क्रिकेट से कप्तानी छोड़ी थी। बुधवार को चयनकर्ताओं ने इस महीने के अंत में वेस्टइंडीज में तीन मैचों के लिए एकदिवसीय टीम चुनी। टीम का नेतृत्व शिखर धवन करेंगे जबकि रवींद्र जडेजा उपकप्तान होंगे।

तीनों फॉर्मेंट में टीम इंडिया के नियमित कप्तान रोहित शर्मा, विराट कोहली, ऋषभ पंत, हार्दिक पांड्या और जसप्रीत बुमराह को आराम दिया गया है। हालांकि, टाइम्स इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार रोहित, पंत और पांड्या के वनडे के बाद पांच मैचों की टी-20 सीरीज के लिए टीम के साथ कैरिबियाई दौरे पर जाने की संभावना है। टी-20 में कोहली का भविष्य इस बात पर निर्भर करेगा कि वह अगले 10 दिनों में इंग्लैंड में दो टी-20 और वनडे में कैसा प्रदर्शन करते हैं।

सूत्रों के मुताबिक, भारतीय टीम प्रबंधन और चयनकर्ता कोहली को टी20 मध्यक्रम में फिट करने को लेकर संशय में हैं। एक सूत्र ने कहा, “शीर्ष खिलाड़ियों को आराम देने का मूल्यांकन करने के लिए टी-20 टीम की घोषणा नहीं हुई है। रोहित, पंत और पांड्या के वेस्टइंडीज में टी20 मैच खेलने की संभावना है। यह भी संभावना है कि बुमराह कैरिबियाई दौरे पर नहीं जाएंगे। जहां तक कोहली की बात है तो यह देखने की जरूरत है कि टी20 विश्व कप के लिए टीम प्रबंधन क्या फैसला करता है? इंग्लैंड में सीमित ओवरों की यह सीरीज कोहली के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।”

पिछले एक साल से अधिक समय से किसी भी फॉर्मेट में कोहली की फॉर्म अच्छी नहीं रही है। टी20 क्रिकेट में उनका संघर्ष इस साल के आईपीएल में भी देखने को मिला। टीम इंडिया के पास मिडिल ऑर्डर में सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत, हार्दिक पंड्या, रविंद्र जडेजा, दीपक हुड्डा, संजू सैमसन और श्रेयस अय्यर के रूप में कई युवा विकल्प हैं। ऐसे में कोहली दौड़ में पीछे रह सकते हैं।

सूत्र ने आगे कहा, ““हर चयन बैठक में वर्कलोड मैनेजमेंट का मुद्दा उठता है। रोहित, कोहली, पांड्या, बुमराह और शमी जैसे खिलाड़ियों के बारे में हमेशा चर्चा की जाती है कि उन्हें आराम की जरूरत है। इन सभी खिलाड़ियों को हमेशा इस मामले में तरजीह मिली है। प्रशिक्षक और फिजियो टीम प्रबंधन के माध्यम से चयनकर्ताओं को नोट भेजते हैं कि इन खिलाड़ियों को आराम देने की जरूरत है।”

पढें क्रिकेट (Cricket News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X