ताज़ा खबर
 

विराट कोहली ने खुलकर की एमएस धोनी की तारीफ, बोले- डीआरएस में उन पर भरोसा करूंगा, उनका कोई सानी नहीं

भारत में पहली बार किसी द्विपक्षीय एकदिवसीय श्रृंखला में निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) का उपयोग किया जाएगा।

Author पुणे | Published on: January 14, 2017 6:10 PM
virat kohli, ms dhoni, kohli dhoni, india england ODI series, virat kohli DRS, dhoni kohli, virat kohli captain, indian cricket team, cricket newsकप्तान विराट कोहली का मानना है कि इंग्लैंड के खिलाफ शुरू होने वाली श्रृंखला में महेंद्र सिंह धोनी की विकेटकीपर के रूप में दी गयी सलाह इसमें अहम साबित होगी। (Photo:PTI)

विराट कोहली को लगता है कि कप्तानी में बदलाव सहज होगा क्योंकि वह अंतिम फैसला लेने के जिम्मेदार होंगे और महेंद्र सिंह धोनी के ‘अमूल्य सुझाव’ का हमेशा ही स्वागत किया जाएगा। कोहली ने इंग्‍लैंड के खिलाफ मैच की पूर्व संध्या पर प्रेस कांफ्रेस में कहा, ‘‘यह एक जैसी ही चीज है। अब सिर्फ इतना ही है कि अब मैं फैसले लेने वाला हूं और वह (धोनी) अपनी सलाह देंगे जैसे कि पहले वह किया करते थे। मुझे लगता है कि हम दोनों बतौर पेशेवर क्रिकेटर एक दूसरे को समझते हैं और यह बदलाव काफी सहज होगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘जब धोनी कप्तान थे तो मैं हमेशा अपने विचार उनसे साझा किया करता था। अंत में उन्होंने ही फैसले लिये थे। कभी कभार ये तुरंत आते थे और वह उन बदलावों को तुरंत कर देते थे। कभी कभार वह अपने विचार को लागू करने में और ज्यादा समय लेते और इसे दूसरे विकल्प के तौर पर रखते। बतौर क्रिकेटर हम समझते हैं कि यह खेल के बारे में और कप्तानी के बारे में भी अलग अलग राय रखना बिलकुल सामान्य सी चीज है।’’

लेकिन कोहली ने कहा कि धोनी के विचार उनके लिये अमूल्य हैं। उन्होंने कहा, ‘‘उनके विचार मेरे लिये हमेशा मूल्यवान रहेंगे। लेकिन मैं अपनी तैयारी पहले करूंगा और उनके विचार दिमाग में रखूंगा, हो सकता है कि मैं ज्यादा बार अपने विचारों को अपनाऊं।’’ कोहली दो साल से टेस्ट टीम की अगुवाई कर रहे हैं और उन्हें कुछ भी अलग नहीं लग रहा। उन्होंने कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो मुझे कुछ भी अलग नहीं लग रहा। मैं सिर्फ एक चीज के बारे में उत्साहित हूं, वह है जब मैं कल पूर्णकालिक कप्तान के रूप में टॉस के लिये जाऊंगा। इसके अलावा मुझे नहीं लगता कि मानसिक रूप से कुछ भी बदला है। सब कुछ वैसा ही है। बस मुझे कप्तान बना दिया गया है, सिर्फ यही बदला है।’’

भारत में पहली बार किसी द्विपक्षीय एकदिवसीय श्रृंखला में निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) का उपयोग किया जाएगा। कप्तान विराट कोहली का मानना है कि इंग्लैंड के खिलाफ शुरू होने वाली श्रृंखला में महेंद्र सिंह धोनी की विकेटकीपर के रूप में दी गयी सलाह इसमें अहम साबित होगी। कोहली ने कहा, ‘‘यह अमूल्य होगी। मैंने कल रिकॉर्ड देखे कि अपने कॅरियर में उन्होंने जो अपील की उनमें से 95 प्रतिशत सफल रही। जहां तक डीआरएस का सवाल है तो एक कप्तान के रूप में मुझे इस पर अतिरिक्त सोचने की जरूरत नहीं है। उनका फैसला अंतिम होगा। यदि वह कहते हैं कि गेंद लाइन से बाहर जा रही थी तो फिर वही फैसला होगा। इसमें आगे कोई संदेह नहीं रहेगा और इस पर आगे कोई चर्चा भी नहीं होगी।’’

कोहली ने धोनी की तारीफ करते हुए कहा, ‘‘निर्णय लेने में धोनी का कोई सानी है विशेषकर जहां तक अपील का सवाल है। जहां तक डीआरएस का सवाल है तो उनके फैसले पर मैं पूरा भरोसा करूंगा। वह फैसला करने के लिये सबसे अच्छी पोजीशन पर होंगे और इसके अलावा हमारे साथ सबसे तेजतर्रार क्रिकेटर हैं। इसलिए मेरे मन में कोई संदेह नहीं है।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 गुजरात 66 साल बाद फाइनल में पहुंचा और बन गया रणजी ट्रॉफी विजेता, मुंबई 26 साल में पहली बार फाइनल हारा
2 बांग्‍लादेशी बल्‍लेबाजों ने टेस्‍ट क्रिकेट में किए बड़े कारनामे, न्‍यूजीलैंड के खिलाफ तोड़ा 43 साल पुराना रिकॉर्ड
3 ‘धोनी का कप्तानी छोड़ने का फैसला शानदार, विराट कर रहे अच्छा काम’