ताज़ा खबर
 

कानपुर टेस्ट: जीत के बाद बोले कोहली, पुछल्ले बल्लेबाज़ों ने न्यूज़ीलैंड को दबाव में लाया

निचले क्रम के बल्लेबाज रविंद्र जडेजा ने पहले टेस्ट मैच में नाबाद 42 और 50 रन बनाए जबकि अश्विन ने पहली पारी में 40 रन की पारी खेली।

Author कानपुर | September 26, 2016 4:32 PM
कानपुर के ग्रीनपार्क स्टेडियम में पहले टैस्ट मैच के तीसरे दिन न्यूजीलैंड के ल्यूक रोंची का विकेट गिरने के बाद अपनी भावनाएं जाहिर करते भारतीय कप्तान विराट कोहली। (REUTERS/Danish Siddiqui/24 Sep, 2016)

गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया लेकिन भारतीय कप्तान विराट कोहली का मानना है कि वह उनकी टीम के निचले क्रम के बल्लेबाज थे जिन्होंने टीम की ऐतिहासिक 500वें टेस्ट मैच में जीत के दौरान न्यूजीलैंड पर मनोवैज्ञानिक दबाव बनाया। कोहली ने भारत की पहले टेस्ट मैच में 197 रन से जीत के बाद कहा, ‘टेस्ट क्रिकेट में सबसे महत्वपूर्ण चीज निचले क्रम में मजबूत बल्लेबाजी होती है जो कि उपयोगी योगदान दे सके और इस क्षेत्र में हम गेंदबाजों के साथ काम कर रहे हैं। अश्विन से लेकर हर कोई योगदान देना चाहता है और इससे विरोधी टीम पर मनोवैज्ञानिक दबाव पड़ा।’ उन्होंने कहा, ‘उन्हें लग रहा था कि वे हमें 300 रन के आसपास आउट कर देंगे लेकिन जब 340-360 रन बने तो हमने पकड़ बना दी। हमने इस विभाग में सुधार किया है और हमें इस पर काम करते रहना होगा क्योंकि जब आप विदेशों में खेल रहे होते हैं तो ये 40-50 रन अहम होते हैं।’

रविंद्र जडेजा ने पहले टेस्ट मैच में नाबाद 42 और 50 रन बनाए जबकि अश्विन ने पहली पारी में 40 रन की पारी खेली। कोहली ने कहा, ‘खिलाड़ियों ने वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया। शुरू में जब हम बल्लेबाजी कर रहे थे हम लय में थे लेकिन इसके बाद एक दो बल्लेबाज आसानी से विकेट गंवाकर पवेलियन लौट गए। लेकिन जडेजा और अश्विन ने पहली पारी में वास्तव में अच्छी बल्लेबाजी की। उमेश यादव ने भी योगदान दिया और इन 30-40 रन से मनोवैज्ञानिक अंतर पैदा किया।’ कोहली ने कहा, ‘मैं अब भी कप्तानी में अपने शुरुआती दौर में हूं और मैं अन्य से सलाह लेता हूं। पूर्व में हम एकतरफा आक्रमण करते थे और फिर रन गंवाते थे। हमने इससे सीख ली कि जब विकेट नहीं मिल रहे हों तो हमें धैर्य बनाये रखना होगा। रन प्रवाह रोकना होगा और बल्लेबाजों पर दबाव बनाना होगा।’

कोहली ने इसे यादगार जीत करार दिया लेकिन न्यूजीलैंड के जज्बे की भी सराहना की। उन्होंने कहा, ‘यह यादगार टेस्ट मैच था। यह दूसरे दिन से अच्छा बन गया था जब न्यूजीलैंड ने वास्तव में अच्छी बल्लेबाजी की। तब मैं और अश्विन बात कर रहे थे कि यह रोमांचक टेस्ट मैच होगा और हमें उन्हें दबाव में लाने के लिये अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।’ भारतीय कप्तान ने कहा, ‘उन्होंने अच्छी चुनौती पेश की जैसा कि आप विरोधी टीम से देखना पसंद करते हो। मेरा मानना है कि न्यूजीलैंड को भी श्रेय जाता है जो मैच पांचवें दिन के दूसरे सत्र तक खिंचा। मुझे पूरा विश्वास है कि श्रृंखला के बाकी मैच अधिक कड़े होंगे।’

न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने शुरुआती टेस्ट को सकारात्मक रूप से लेने की कोशिश की। उन्होंने कहा, ‘इस मैच से अगले मैच के लिए काफी सकारात्मक चीजें और सबक रहे। सच में दो सत्र ऐसे थे जिसमें हमारे हाथों से मैच फिसल गया था और भारत ने इसका पूरा फायदा उठाया।’ न्यूजीलैंड की टीम भारत को पहली पारी में 262 रन पर समेटने के बाद एक विकेट पर 158 रन बनाकर अच्छी स्थिति में थी। उन्होंने कहा, ‘अगर हम 300 रन बना लेते तो यह अच्छा होता लेकिन हम लय को कायम नहीं रख सके और उन्होंने काफी अच्छी गेंदबाजी की इसलिए इसमें काफी चीजों का संयोजन था। लेकिन दिन के अंत में भारत निश्चित रूप से बेहतर टीम रही।’

विलियमसन ने कहा, ‘वे काफी शानदार रहे, विशेषकर आज क्योंकि तेजी से उछाल ले रही गेंद के साथ खेलना आसान नहीं था और वो भी दुनिया के दो बेहतरीन स्पिनरों के खिलाफ। इसलिए मिशेल सैंटनर (71) ने बल्ले और गेंद से जो योगदान दिया, वो शानदार था और ल्यूक रोंची (80) भी टीम में आने के बाद अच्छा कर रहे हैं।’ भारत और न्यूजीलैंड की टीमें अब शुक्रवार (30 सितंबर) से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट के लिए कोलकाता जाएंगी। विलियमसन ने कहा, ‘अब यह उबरने का समय है। ये मुश्किल हालात थे और इससे बेहतर तरीके से उबरना और अगले टेस्ट के लिए चुनौतीपूर्ण मुकाबला खेलना अहम है।’

मैन ऑफ द मैच चुने गए जडेजा ने अपने ऑल राउंड प्रदर्शन के बारे में कहा, ‘मुझे बल्ले से अपनी भूमिका निभाने की जरूरत थी। इसलिए मैंने शुरू में समय लेने का प्रयास किया ताकि मैं अपने शॉट खेल सकूं। दलीप ट्रॉफी में खेलने से मुझे काफी मदद मिली। मुझे वहां विकेट मिले थे। इसलिये मैं आत्मविश्वास से भरा था और जब भी मैं उछाल भरी पिच पर गेंदबाजी करता हूं मुझे विकेट मिलते हैं। इसलिए मैं इसी पर ध्यान लगाना चाहता था और मैं अपनी गेंदबाजी का लुत्फ उठा रहा हूं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App