ताज़ा खबर
 

कप्तान के तौर पर विराट कोहली को भारत में मिली पहली बार हार, 19 मुकाबलों में रहे थे अपराजित

दरअसल, विराट कोहली कप्तान के तौर पर सबसे कम वनडे मुकाबलों में 1000 रन बनाने के मामले में पहले स्थान पर पहुंच गए हैं। विराट कोहली ने कप्तान के रूप में 17 इनिंग्स खेलकर 1000 वनडे रन पूरे किए।

Virat Kohli, Virat Kohli as Indian Captain, Virat Kohli first Defeat as Captain in India, India vs England Kolkata ODI, Virat Kohli faces Defeat as Captain After nineteen Matches, India vs England Cricket Series 2017, Cricket NEws, Virat Kohli Statistics as Captainकोलकाता वनडे में इंग्लैंड से मिली हार विराट कोहली को कप्तान के तौर पर भारत में मिली पहली हार है। (Photo: BCCI)

इंग्लैंड ने कोलकाता के ईडन गार्डंस मैदान पर खेले गए तीन वनडे मैचों की सीरीज के आखिरी मुकाबले में भारत को पांच रन से हरा दिया। आखिरी गेंद तक चले इस रोमांचक मुकाबले में भारतीय टीम 322 रनों का पीछा करते हुए 9 विकेट के नुकसान पर 316 रन ही बना सकी। केदार जाधव और हार्दिक पांड्या ने एक समय भारत को जीत की दहलीज पर पहुंचा दिया था, लेकिन क्रिस वोक्स ने आखिरी ओवर की अंतिम चार गेंदों पर कोई रन नहीं दिया और इंग्लैंड को टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप झेलने के बाद वनडे सीरीज में भी क्लीन स्वीप होने से बचा लिया। इस मैच से पहले टीम इंडिया विराट कोहली के नेतृत्व में खेलते हुए भारत में 19 मुकाबलों में अपराजित रही थी, जिसमें 10 टेस्ट मैचों में भारत ने जीत दर्ज की, दो टेस्ट मैच ड्रॉ रहे और सात वनडे मुकाबलों में भारत ने जीत दर्ज की।

इस मुकाबले के दौरान विराट कोहली ने कप्तान के रूप में एक और बड़ी उपलब्धि हासिल की। दरअसल, विराट कोहली कप्तान के तौर पर सबसे कम वनडे मुकाबलों में 1000 रन बनाने के मामले में पहले स्थान पर पहुंच गए हैं। विराट कोहली ने कप्तान के रूप में 17 इनिंग्स खेलकर 1000 वनडे रन पूरे किए। इस मामले में उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान एबी डिविलियर्स को पीछे छोड़ दिया। डिविलियर्स ने 18 इनिंग्स में यह मुकाम हासिल किया था। वहीं, न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन 20 इनिंग्स में इस मुकाम तक पहुंचे थे। विराट कोहली ने वनडे मुकाबलों में कप्तान के तौर पर 17 इनिंग्स में 69 की औसत और 100.77 की स्ट्राइक रेट से 1000 रन पूरे किए हैं, जिसमें उनके पांच शतक और 4 अर्धशतक शामिल हैं।

इस सीरीज के तीनों मैचों में इंग्लैंड की टीम ने 300 से ज्यादा का स्कोर बनाया। यह दूसरा मौका है जब इंग्लैंड की टीम ने किसी द्विपक्षीय सीरीज में तीन या उससे अधिक बार 300 प्लस का स्कोर बनाया हो। इससे पहले इंग्लैंड की टीम ने 2015 में न्यूजीलैंड के साथ खेली गई द्विपक्षीय सीरीज में चार बार 300 प्लस का स्कोर बनाया था। इस सीरीज में दोनों टीमों ने मिलकर 2090 रन बनाए। यह तीन मैचों की वनडे सीरीज में पहला मौका है जब दोनों टीमों ने मिलकर 2000 से अधिक रन बनाए हों। इससे पहले 2007 में भारत में खेले गए तीन मैचों की एफ्रो एशिया कप सीरीज में 1892 रन बने थे।

Next Stories
1 केदार जाधव के पराक्रम के बावजूद भारत को मिली हार, जानिए आखिरी ओवर की रोमांचक लड़ाई की कहानी
2 कोलकाता वनडे: विराट कोहली ने तोड़ा एबी डिविलियर्स का वर्ल्‍ड रिकॉर्ड, कप्‍तान के रूप में पूरे किए हजार रन
3 विराट कोहली ने की एमएस धोनी की अनदेखी, बिना पूछे लिया डीआरएस तो मुंह की खानी पड़ी
यह पढ़ा क्या?
X