ताज़ा खबर
 

IND vs SL: श्रीलंकाई खिलाड़ियों पर भड़के सौरव गांगुली, पूछा- बैटिंग के वक्त कहां गया मास्क?

सौरव गांगुली ने सवाल किया है कि जब श्रीलंकाई खिलाड़‍ियों को दिल्‍ली के प्रदूषण से तकलीफ हो रही थी तो वे बल्‍लेबाजी के समय मास्‍क पहनकर क्‍यों नहीं आए?

प्रदूषण के चलते श्रीलंका के कई खिलाड़ी मास्‍क पहनकर मैदान में उतरे। (Photo: PTI)

पूर्व भारतीय कप्‍तान सौरव गांगुली दिल्‍ली टेस्‍ट के दूसरे दिन श्रीलंकाई टीम के रवैये से नाराज हैं। भारत और श्रीलंका के बीच टेस्‍ट सीरीज के आखिरी मैच के दूसरे दिन फिरोज शाह कोटला मैदान पर खूब ड्रामा हुआ। भारतीय पारी घोषित होने से पहले मैदान पर कई नाटकीय मोड़ आए। दिन के दूसरे सत्र में पांच से ज्यादा श्रीलंकाई खिलाड़ी प्रदूषण के कारण मैदान पर मास्क पहन कर उतरे। कई बार खेल रुका जिससे आजिज आकर भारतीय कप्‍तान विराट कोहली ने पारी घोषित कर दी। दिन का खेल खत्‍म होने के बाद दोनों टीमों के कोच अलग-अलग बयान देते नजर आए। दूसरे सत्र में 123वें ओवर में भारत जब पांच विकेट खोकर 509 रनों पर था तभी श्रीलंकाई गेंदबाज लाहिरू गमागे को सांस लेने में परेशानी हुई और खेल रोका गया। इसी बीच श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने खराब वातावरण की शिकायत मैदानी अंपायरों से की, जिसके कारण तकरीबन 15 मिनट का खेल रुका। सौरव गांगुली ने सवाल किया है कि जब श्रीलंकाई खिलाड़‍ियों को दिल्‍ली के प्रदूषण से तकलीफ हो रही थी तो वे बल्‍लेबाजी के समय मास्‍क पहनकर क्‍यों नहीं आए?

गांगुली ने इंडिया टुडे से कहा, ”विराट और टीम मैनेजमेंट को लगा कि गेम उनके हाथ से निकल रहा है, उनका वक्‍त जाया हो रहा है इसलिए उन्‍होंने डिक्‍लेयर कर दिया। विराट अपनी एकाग्रता खो बैठे, और आउट हो गए। लेकिन जब वे (श्रीलंका) बल्‍लेबाजी करने आए तो मैंने उन पांचों बल्‍लेबाजों के मुंह पर कोई मास्‍क नहीं देखा जो क्रीज पर रहे। किसी ने मास्‍क नहीं लगा रखा था और अगर आप पवेलियन की तरफ देखें जहां वे बैठे थे, वहां भी कोई मास्‍क नहीं था। इसलिए, मुझे नहीं समझ आता कि इतनी जल्‍दी सबकुछ कैसे बदल गया।”

पूर्व कप्‍तान ने आगे कहा, ”अगर गामगे और लकमल को मास्‍क के साथ दौड़ रहे थे तो एंजेलो मैथ्‍यूज भी सिंगल और डबल ले रहे थे। ये तो एक ही बात है। मुझे जिस चीज ने चौंकाया कि उन्‍होंने कभी शिकायत नहीं की, मास्‍क पहना और इसका बतंगड़ बना दिया। ये परेशान करने वाली बात है और मुझे उम्‍मीद है कि इसके पीछे कोई बुरी भावना नहीं है।”

भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने तीन बार खेल रोके जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मेहमान टीम के खिलाड़ियों का ध्यान शायद प्रदूषण पर था, मैच पर नहीं। भरत ने कहा कि विराट ने तकरीबन दो दिन तक बल्लेबाजी की लेकिन उन्होंने मास्क नहीं पहना। वहीं, श्रीलंका के कोच निक पोथास ने कहा ”दिल्ली में प्रदूषण का स्तर काफी अधिक है और एक समय यह काफी बढ़ गया था। हमारा एक खिलाड़ी मैदान से उलटी करते हुए बाहर आया। ड्रेसिंग रूम में ऑक्सीजन का स्तर कम हो गया था।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App