ताज़ा खबर
 

Ind vs Eng 3rd Test: इंग्लैंड को उसके घर में ही पीटा, जीत के हीरो रहे भारत के ये 5 प्‍लेयर्स

Ind vs Eng, India vs England 3rd Test Match: इस मैच में भारत ने इंग्लैंड के सामने चौथी पारी में 521 रनों का विशाल लक्ष्य रखा था। आखिरी दिन बुधवार को रविचंद्रन अश्विन ने जेम्स एंडरसन (11) के रूप में इंग्लैंड का आखिरी विकेट 317 के कुल स्कोर पर लेकर भारत को सीरीज की पहली जीत दिलाई।

भारतीय टीम।

Ind vs Eng, India vs England 3rd Test Match: इंग्लैंड के खिलाफ ट्रेंट ब्रिज मैदान पर खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में भारतीय टीम के खिलाड़ियों ने जबरदस्त वापसी की। पहले दो मैच में बुरी तरह से हार झेलने के बाद भारतीय टीम तीसरा मैच 203 रनों से जीतने में कामयाब रही। हालांकि तीन मैच खत्म होने के बाद इंग्लैंड से 2-1 से पीछे है। सीरीज के अभी दो मैच बाकी हैं। भारतीय टीम की कोशिश इन दो मैचों को भी जीत सीरीज पर कब्जा जमाने की होगी। इस मैच में भारत ने इंग्लैंड के सामने चौथी पारी में 521 रनों का विशाल लक्ष्य रखा था। आखिरी दिन बुधवार को रविचंद्रन अश्विन ने जेम्स एंडरसन (11) के रूप में इंग्लैंड का आखिरी विकेट 317 के कुल स्कोर पर लेकर भारत को सीरीज की पहली जीत दिलाई। इस जीत के साथ ही भारतीय खिलाड़ियों का मनोबल भी काफी बढ़ा होगा। आइए जानते हैं ट्रेंट ब्रिज टेस्ट में जलवा बिखरने वाले भारतीय खिलाड़ियों के बारे में…

विराट कोहली – भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने एक बार पिर साबित किया कि उन्हें मौजूदा समय का सबसे बेहतरीन बल्लेबाज क्यों कहा जाता है। विराट कोहली इस मैच में पहली पारी के दौरान शतक लगाने से चूक गए, लेकिन दूसरी पारी में उन्होंने कोई गलती नहीं की और शानदार शतक जड़ टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाने का काम किया। दोनों पारियों में कुल 200 रन बनाने वाले विराट कोहली को मैन ऑफ द मैच भी चुना गया।

England v India भारतीय कप्तान विराट कोहली शतक पूरा करने के बाद खुशी मनाते हुए। ( Images via Reuters/Paul Childs)

हार्दिक पंड्या – भारतीय टीम के हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पंड्या पहले दो टेस्ट में फ्लॉप रहे थे। जिसके बाद उनके टीम में होने पर सवाल उठने लगे थे। तीसरे टेस्ट में पंड्या ने अपने आलोचकों करारा जवाब देते हुए पहले अर्धशथक जड़ा और फिर इंग्लैंड के पांच विकेट भी चटका दिए। पहली पारी में जहां उन्होंने गेंद से कमाल दिखाया तो दूसरी पारी में वह अंत में तेज गति से टीम के लिए रन जोड़ने में कामयाब रहे।

जसप्रीत बुमराह – पहले दो मैचों के दौरान जसप्रीत बुमराह की गैर मौजूदगी से भारतीय टीम की गेंदबाजी कमजोर दिखाई पड़ रही थी। बुमराह चोट के कारण शुरुआती मैच नहीं खेल पाए थे, लेकिन तीसरे मैच में टीम में शामिल होते ही उन्होंने बता दिया कि उन्हें क्यों टीम का सबसे भरोसेमंद गेंदबाज माना जाता है। बुमराह ने दूसरी पारी में पांच विकेट चटकाए और भारतीय टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई।

अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा – भारतीय टेस्ट टीम के सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज अजिंक्या रहाणे और चेतेश्वर पुजारा का फॉर्म में नहीं होना टीम की मुश्किलों को बढ़ाने का काम कर रही थी, लेकिन तीसरे टेस्ट में दोनों के ही बल्ले से रन निकले। पहली पारी में कोहली के साथ 159 रनों की साझेदारी करने वाले रहाणे का फॉर्म में आना टीम के लिए अच्छी खबर है। वहीं अपनी बल्लेबाजी को लेकर लगातार आलोचनाओं का सामना कर रहे चेतेश्वर पुजारा ने भी दूसरी पारी में कोहली के साथ चौथे विकेट के लिए 113 रनों की साझेदारी निभाई।

ऋषभ पंत – दिनेश कार्तिक को बाहर बिठाकर युवा ऋषभ पंत को प्लेइंग इलेवन शामिल करने का विराट कोहली का फैसला तीसरे मैच में बिल्कुल सही सही साबित रहा। पहले दो टेस्ट में भारतीय टीम ने विकेट के पीछे कई कैच छोड़े थे, लेकिन इस मैच के दौरान पंत ने कुल सात कैच लेकर एक नया रिकॉर्ड अपने नाम किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App