ताज़ा खबर
 

विराट कोहली की गैरमौजूदगी में नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने आए विजय शंकर, मैच के बाद कही ये बड़ी बात

India vs New Zealand, Ind vs NZ 2nd T20: शंकर ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 3 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में से 2 में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी की। उन्होंने अंतिम मैच में 28 गेंदों में 43 और श्रृंखला के पहले मैच में 23 रन बनाए। उन्होंने वनडे में डेब्यू ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में किया था और न्यूजीलैंड के खिलाफ वे 5 वनडे में से 3 में और सभी टी-20 मैचों में खेले थे।

Author February 11, 2019 9:46 AM
विजय शंकर। (फोटो सोर्स- एपी)

भारत के ऑलराउंडर विजय शंकर ने रविवार को कहा कि तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतारा जाना उनके लिए हैरानीभरा था और ऑस्ट्रेलिया व न्यूजीलैंड के पहले दौरे के बाद वे काफी सुधरे क्रिकेटर के तौर पर स्वदेश लौटेंगे। शंकर ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 3 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में से 2 में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी की। उन्होंने अंतिम मैच में 28 गेंदों में 43 और श्रृंखला के पहले मैच में 23 रन बनाए। उन्होंने वनडे में डेब्यू ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में किया था और न्यूजीलैंड के खिलाफ वे 5 वनडे में से 3 में और सभी टी-20 मैचों में खेले थे।  28 साल के खिलाड़ी ने हालांकि विश्व कप स्थान के लिए दावेदारी बनाने के लिए मजबूत प्रदर्शन भले ही नहीं किया हो लेकिन उन्होंने अपनी हरफनमौला काबिलियत से प्रभावित किया। शंकर ने कहा कि वे बल्लेबाजी क्रम में ऊपर खेलना पसंद करेंगे। उन्होंने तीसरे टी-20 में 4 रनों की हार के बाद कहा कि यह मेरे लिए बहुत हैरानी की बात थी, जब उन्होंने मुझे तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए कहा।

शंकर ने आगे कहा, ‘यह बड़ी चीज है। मैं इस स्थिति में खेलने के लिए तैयार था। अगर आप भारत जैसी टीम के लिए खेल रहे हो तो आपको हर चीज के लिए तैयार रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ इन दोनों श्रृंखलाओं से मैंने काफी कुछ सीखा। मैंने भले ही ज्यादा गेंदबाजी नहीं की हो लेकिन मैंने विभिन्न हालात में गेंदबाजी करना सीखा। बल्लेबाजी में विराट कोहली, रोहित शर्मा और महेंद्र सिंह धोनी जैसे सीनियर खिलाड़ियों को देखने से मैंने काफी कुछ सीखा।

बता दें कि तीसरे टी-20 मैच में न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 4 विकेट पर 212 रन का विशाल स्कोर बनाया और फिर भारत को निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट पर 208 रन पर रोक दिया। भारत की ओर से सबसे अधिक 43 रन विजय शंकर के ही बल्ले से निकले।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App