umesh yadav comment on pitch india vs england test series - Jansatta
ताज़ा खबर
 

IND vs ENG चेन्नई टैस्ट: पिच से नाख़ुश उमेश यादव ने कहा, गेंदबाजी करना बहुत मुश्किल

चेपक स्टेडियम के विकेट से गेंदबाजों को खास मदद नहीं मिल रही है और यदि तीसरे दिन टर्न मिलता है तभी इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें और अंतिम टेस्ट मैच का परिणाम निकल पाएगा।

Author चेन्नई | December 18, 2016 2:51 AM
भारतीय तेज गेंदबाज उमेश यादव। (पीटीआई फाइल फोटो)

भारतीय तेज गेंदबाज उमेश यादव ने स्वीकार किया कि चेपक स्टेडियम के विकेट से गेंदबाजों को खास मदद नहीं मिल रही है और यदि तीसरे दिन टर्न मिलता है तभी इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें और अंतिम टेस्ट मैच का परिणाम निकल पाएगा। इंग्लैंड ने पहली पारी में 477 रन बनाये जिसमें उसके निचले क्रम के बल्लेबाजों ने महत्वपूर्ण योगदान दिया क्योंकि पिच से तेज गेंदबाजों और स्पिनरों दोनों को कोई खास मदद नहीं मिल रही है। उमेश लगता है कि पिच से बहुत खुश नहीं थे। उन्होंने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने के बाद कहा, ‘मुझे लगता है कि इस विकेट पर गेंदबाजी करना बहुत मुश्किल है क्योंकि गेंद बहुत अधिक टर्न नहीं हो रही है। यह थोड़ा भिन्न है। उन्होंने कुछ तेज रन बनाये लेकिन मुझे लगता है कि गेंद बहुत अधिक टर्न नहीं ले रही है। यह समस्या है। हम विकेट नहीं ले पाये और लय गंवा बैठे।’

उमेश से पूछा गया कि क्या इस विकेट पर परिणाम हासिल किया जा सकता है विदर्भ के इस गेंदबाज ने कहा कि यह इस पर निर्भर करेगा कि चौथे दिन से पर्याप्त टर्न मिलता है या नहीं। उन्होंने कहा, ‘अभी तीन दिन का खेल बचा है। देखते हैं कि विकेट का मिजाज कैसा रहता है। यदि यह तीसरे दिन के बाद टर्न लेता है तो फिर इस मैच में कुछ दिलचस्पी बनी रहेगी।’ उमेश से पूछा गया कि मोईन अली को आउट करने में इतनी देर क्यों लगी जबकि वह शॉर्ट पिच गेंदों के सामने जूझ रहे थे, उन्होंने कहा, ‘‘मारी यह रणनीति थी। कल तेज गेंदबाजों ने ज्यादा गेंदबाजी नहीं की। आज हमने रणनीति बनायी हम मोईन के लिये शॉर्ट पिच गेंद करेंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि वह सभी गेंदों को खेलें। हम उसके बायें कंधे के पास गेंद करना चाहते थे और उसके बाद हमने लय हासिल की। उसने कुछ गेंदों को पुल करने की भी कोशिश की।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App