ताज़ा खबर
 

एशेज सीरीज को फिक्स करने वाले थे दो भारतीय? जांच के आदेश

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच चल रही एशेज सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच को फिक्स करने की योजना बनाई जा रही थी।

Author पर्थ | December 14, 2017 12:40 pm
इस मामले से संबंधित एक फाइल द सन ने क्रिकेट चीफ को भेजी जिसके बाद जांच के आदेश दे दिए गए हैं। (Reuters)

इंग्लैंड के चर्चित टैबलॉयड न्यूजपेपर ‘द सन’ ने खुलासा किया है कि ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच चल रही एशेज सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच को फिक्स करने की योजना बनाई जा रही थी। इस मामले से संबंधित एक फाइल द सन ने क्रिकेट चीफ को भेजी जिसके बाद जांच के आदेश दे दिए गए हैं। इस फिक्सिंग के मामले में दो भारतीयों का भी नाम सामने आया है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद सहित क्रिकेट बोर्डों के प्रमुखों ने एशेज में मैच फिक्सिंग को लेकर किए गये दावों पर गहरी चिंता व्यक्त की लेकिन साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच गुरुवार से यहां शुरू हुए तीसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में भ्रष्टाचार का कोई सबूत नहीं मिला है।

‘द सन’ की रिपोर्ट में खुलासा किया गया है कि दो सट्टेबाजों ने पर्थ में चल रहे टेस्ट मैच में खेल के फिक्स किए गये हिस्सों को बेचने की पेशकश की थी जिसके आधार पर बड़ी रकम जीतने के लिये सट्टा लगाया जा सकता था। इनमें से एक सट्टेबाज भारतीय है जिसे ‘मिस्टर बिग’ नाम से जाना जाता है। एक सट्टेबाज ने विश्व कप विजेता आलराउंडर सहित पूर्व और वर्तमान अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के साथ काम करने का दावा किया है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि उन्होंने आस्ट्रेलियाई क्रिकेट के एक फिक्सर के साथ संपर्क किया, जिसे ‘द साइलेंट मैन’ के रूप में जाना जाता है। इसमें आस्ट्रेलिया या इंग्लैंड के किसी खिलाड़ी का नाम नहीं दिया गया है। समाचार पत्र ने कहा कि उनके अंडरकवर रिपोर्टर से एक ओवर में कितने रन बनेंगे जैसे स्पॉट फिक्स करने के लिए 140,000 पौंड तक की धनराशि मांगी गई थी।

रिपोर्ट में एक सट्टेबाज के हवाले से कहा गया है, ‘‘मैच से पहले मैं आपको बताऊंगा कि इस ओवर में इतने रन बनेंगे और फिर आप उस ओवर पर अपना सट्टा लगा सकते हो।’’ सट्टेबाज से पूछा गया कि क्या उसकी जानकारी बिल्कुल सही है, उसने कहा, ‘‘पूरी तरह से जानकारी सही है।’’ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने इस खुलासे पर ‘गहरी चिंता’ व्यक्त की और उन्होंने जांच शुरू कर दी है लेकिन विश्व संस्था को नहीं लगता कि यह मैच फिक्स है।

इंग्लैंड इस मैच में में पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला में 0-3 से पिछड़ने से बचने की कोशिश करेगा। आईसीसी के भ्रष्टाचार निरोधक प्रमुख एलेक्स मार्शल ने कहा, ‘‘इस मसले पर द सन या फिर हमारी जांच के आधार पर मेरे शुरूआती आकलन में ऐसा कोई सबूत नहीं मिला जिससे यह कहा जा सके कि वर्तमान टेस्ट मैच को फिक्स किया गया है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘अभी तक जांच से ऐसा कोई संकेत नहीं मिला है कि इस टेस्ट में खेलने वाला कोई खिलाड़ी कथित फिक्सरों के संपर्क में है। ’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App