ताज़ा खबर
 

कैनबरा में प्रतिष्ठा बचाने उतरेगा भारत, शृंखला में 3-0 से आगे है ऑस्ट्रेलिया

शृंखला गंवा चुकी भारतीय टीम आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ बुधवार को चौथा एक दिवसीय क्रिकेट मैच जीतकर मेजबान को ‘क्लीन स्वीप’ करने से रोकने की कोशिश करेगी।

Author कैनबरा | January 20, 2016 1:42 AM
पांच मैचों की शृंखला के आखिरी दो मैचों में भारत के लिए प्रश्न सिर्फ प्रतिष्ठा का है। (फाइल फोटो)

शृंखला गंवा चुकी भारतीय टीम आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ बुधवार को चौथा एक दिवसीय क्रिकेट मैच जीतकर मेजबान को ‘क्लीन स्वीप’ करने से रोकने की कोशिश करेगी। इसके लिए उसे अपने गेंदबाजों को अपने प्रदर्शन में काफी सुधार करना होगा। पांच मैचों की शृंखला के आखिरी दो मैचों में भारत के लिए प्रश्न सिर्फ प्रतिष्ठा का है। उसे इस निराशाजनक दौरे पर पहली जीत दर्ज करने के लिए अपने गेंदबाजों से बेहतरीन प्रदर्शन की उम्मीद करनी होगी। भारतीय बल्लेबाजों ने अपने काम को बखूबी अंजाम देते हुए बड़े स्कोर बनाए हैं। लेकिन गेंदबाजों ने निराश किया है। पहले तीनों मैचों में बड़ा स्कोर बनाने के बावजूद महेंद्र सिंह धोनी की टीम को पराजय का सामना करना पड़ा।

मानुका ओवल पर भारतीय टीम पहली बार ऑस्ट्रेलिया से खेलेगी। भारत ने यहां एकमात्र मैच 2007-08 की सीबी सीरिज में श्रीलंका के खिलाफ खेला था जिसमें पराजय का सामना करना पड़ा। उस समय टीम में सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर जैसे खिलाड़ी थे। मौजूदा टीम में से सिर्फ धोनी, रोहित शर्मा और ईशांत शर्मा ने इस मैदान पर खेला है। उस टीम में शामिल रहे युवराज सिंह और हरभजन सिंह इस सप्ताह टी20 टीम में लौटेंगे। 2007-08 के दौरे पर रोहित और ईशांत पहली बार आस्ट्रेलिया में खेले थे। आठ साल बाद उनकी जिम्मेदारी टीम में बढ़ गई है, जबकि युवा मनीष पांडे, गुरकीरत मान और ऋषि धवन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का ककहरा सीख रहे हैं। धोनी जब अंतिम एकादश का एलान करेंगे तो फोकस इन तीनों पर होगा।

पहले दो मैचों में भारत ने अपनी पहली पसंद की एकादश उतारी थी लेकिन तीसरे मैच में मान और धवन को मौका दिया गया। पांडे ने सिर्फ एक मैच में बल्लेबाजी की लिहाजा उन्हें बाहर करना जल्दबाजी होगी। शिखर धवन ने मेलबर्न में शृंखला का पहला अर्धशतक जमाया जो आठ वनडे में उनका दूसरा अर्धशतक था। इसके मायने हैं कि आखिरी दो मैचों में भी टीम में उनकी जगह सुरक्षित है। उन्होंने हालांकि काफी धीमी पारी खेली। इसमें 54 डाट गेंदें थीं और गैर जिम्मेदाराना तरीके से अपना विकेट गंवा दिया।

धोनी अगर समान एकादश को उतारते हैं, तो इसमें कोई हैरानी नहीं होगी। इसमें मान और पांडे में से एक को चुनना होगा और ऐसे में मान का हरफनमौला होना उनके पक्ष में जाएगा। एक मैच के बाद आर अश्विन की वापसी हो सकती है दो स्पिनरों को चुनने की दशा में ऋषि धवन को बाहर रहना पड़ सकता है। मान के खेलने की संभावना अधिक होगी। वैसे भी टीम प्रबंधन को स्वदेश भेजने से पहले इन युवाओं को एक-दो मौके और देने चाहिए। इन तीनों में से कोई टी20 टीम का हिस्सा नहीं है। बरिंदर सरन मेलबर्न में थके हुए लगे। उमेश यादव सत्र की शुरुआत से खेल रहे हैं। जबकि ईशांत शर्मा ने भी काफी मैच खेले हैं। तीनों में से अगर एक तेज गेंदबाज को आराम दिया गया तो भुवनेश्वर कुमार को उतारा जा सकता है।

इस बीच चौथे वनडे से पहले अभ्यास सत्र में आस्ट्रेलियाई खेमा निश्चिंत नजर आया। ग्लेन मैक्सवेल ने तीसरे मैच में मिली जीत के बाद ही कहा था कि वे 5-0 से सफाया करना चाहेंगे। मेजबान टीम इसके लिए कोई कोताही नहीं बरतेगी और अपनी सर्वश्रेष्ठ टीम उतारना चाहेगा। डेविड वार्नर पितृत्व अवकाश से लौट चुके हैं और पिच को देखते हुए नाथन लियोन का खेलना तय है। ऐसे में देखना होगा कि किस गेंदबाज को बाहर किया जाता है। स्काट बोलैंड बाहर रह सकते हैं, जो काफी महंगे साबित हुए थे।

टीमें इस प्रकार हैं,

भारत : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान और विकेटकीपर), शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, मनीष पांडे, गुरकीरत मान, ऋषि धवन, आर अश्विन, रविंद्र जडेजा, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, ईशांत शर्मा, उमेश यादव, बरिंदर सरन।

आस्ट्रेलिया : स्टीव स्मिथ (कप्तान), डेविड वार्नर, आरोन फिंच, जार्ज बेली, जान हेस्टिंग्स, ग्लेन मैक्सवेल, जेम्स फाकनेर, मैथ्यू वेड, मिशेल मार्श, नाथन लियोन, स्कॉट बोलैंड, शान मार्श और केन रिचर्डसन।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App