ताज़ा खबर
 

टेस्ट सीरीज में विराट कोहली से निपटने के लिए कुछ इस तरह ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की मदद करेंगे स्मिथ-वॉर्नर

सीरीज शुरू होने से पहले ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों की मदद के लिए स्मिथ और वॉर्नर आगे आए हैं। दोनों ही खिलाड़ी नेट पर गेंदबाजों को प्रैक्टिस कराते नजर आएंगे। स्मिथ और वॉर्नर गेंदबाजों की तैयारी में मदद करके भारत के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज में अपनी कुछ भूमिका निभाएंगे।

स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और भारतीय खिलाड़ी।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 6 दिसंबर से चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जानी है। टी-20 के बाद दोनों ही टीमों की कोशिश टेस्ट अपना बेस्ट देने की होगी। भारतीय टीम पिछले कुछ समय से टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन पर मौजूद है। वहीं स्टीव स्मिथ और ड्विड वॉर्नर पर बैन लगने के बाद से ही ऑस्ट्रेलियाई टीम की रैंकिंग में लगातार गिरावट आई है। पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका से हार झेलने के बाद टिम पेन की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया मजबूत शुरुआत करना चाहेगी। सीरीज शुरू होने से पहले ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों की मदद के लिए स्मिथ और वॉर्नर आगे आए हैं। दोनों ही खिलाड़ी नेट पर गेंदबाजों को प्रैक्टिस कराते नजर आएंगे। स्मिथ और वॉर्नर गेंदबाजों की तैयारी में मदद करके भारत के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज में अपनी कुछ भूमिका निभाएंगे। गेंदबाज विराट कोहली को आउट करने के लिए नेट में अधिक से अधिक अभ्यास करेंगे। पूर्व कप्तान स्मिथ और वॉर्नर तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड और पैट कमिंस की तैयारियों के लिए ऑस्ट्रेलियाई नेट अभ्यास में भाग लेने पर सहमत हो गए हैं।

स्मिथ और वॉर्नर की जल्द ही बैगी ग्रीन कैप पहनने की उम्मीदों पर तब पानी फिर गया जब क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उन पर लगाए गए प्रतिबंध को बरकरार रखने का फैसला किया। गौरतलब है कि स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर के अलावा बैनक्रॉफ्ट पर दक्षिण अफ्रीका के केप टाउन में इसी साल मार्च में खेले गए टेस्ट मैच में गेंद से छेड़छाड़ के कारण प्रतिबंध लगा था। स्मिथ और वॉर्नर पर सीए ने एक-एक साल का प्रतिबंध लगाया था तो वहीं बैनक्रॉफ्ट पर 9 महीने का प्रतिबंध है।

उल्लेखनीय है कि स्मिथ और वॉर्नर इस समय अपने प्रतिबंध के 8वें महीने में हैं और जबकि बैनक्रॉफ्ट का प्रतिबंध दिसंबर में समाप्त हो जाएगा। आईपीएल के दौरान स्मिथ और वॉर्नर को एक बार फिर क्रिकेट मैदान पर देखा जा सकता है। बता दें कि बैन की वजह से दोनों ही खिलाड़ियों को इस साल आईपीएल में खेलने की अनुमति नहीं मिली थी। इसके बावजूद भी दोनों ही खिलाड़ियों को फ्रेंचाइजियों ने अगले सीजन के लिए टीम में रिटेन किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App