ताज़ा खबर
 

डेब्‍यू मैच में एक भी रन नहीं बना पाया था यह क्रिकेटर, इस मामले में आज है वर्ल्‍ड का चौथा बल्लेबाज

एल्गर टेस्ट क्रिकेट के इतिहास के ऐसे चौथे बल्लेबाज बन गए हैं, जिन्होंने अपने टेस्ट डेब्यू की दोनों पारियों में डक पर आउट होने के बाद सबसे ज्यादा रन बनाए हैं। इस मामले में सबसे आगे इंग्लैंड के ग्राहम गूच का नाम है। पहले मैच की दौनों पारियों में डक पर आउट होने के बावजूद उन्होंने टेस्ट करियर में कुल 8900 रन बनाए हैं।
डीन एल्गर।

दक्षिण अफ्रीका के सलामी बल्लेबाज डीन एल्गर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में एक खास रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। इस मैच में दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फॉफ डु प्लेसिस ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। दक्षिण अफ्रीका की शुरुआत अच्छी नहीं रही और सलामी बल्लेबाज एडन मार्करम बिना खाता खोले ही हेजलवुड की गेंद पर पवेलियन लौट गए। इसके बाद हाशिम अमला भी 31 रन बनाकर आउट हो गए। एक तरफ जहां लगातार विकेट गिर रहे थे, तो वहीं दूसरी ओर डीन एल्गर काफी समझदारी के साथ पारी को संभालने का काम कर रहे थे। डीन एल्गर ने इस मैच में टीम के लिए सबसे अधिक 141 रनों की पारी खेली। उनकी शतकीय पारी की बदौलत टीम पहली पारी में 311 रन बनाने में कामयाब रही। इस पारी के साथ ही डीन एल्गर ने 48 टेस्ट मैच में अपने 3064 रन भी पूरे किए। ऐसा करते ही एल्गर एक खास रिकॉर्ड अपने नाम करने में सफल रहे। दरअसल, एल्गर ने अपने डेब्यू टेस्ट मैच की दोनों ही पारियों में रन नहीं  बना पाए थे। इसके बावजूद भी वह आज दक्षिण अफ्रीका के एक कामयाब टेस्ट क्रिकेटर माने जाते हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शतक जड़ते ही एल्गर ने अपने टेस्ट करियर का 11वां शतक भी पूरा किया।

डीन एल्गर।

एल्गर टेस्ट क्रिकेट के इतिहास के ऐसे चौथे बल्लेबाज बन गए हैं, जिन्होंने अपने टेस्ट डेब्यू की दोनों पारियों में डक पर आउट होने के बाद सबसे ज्यादा रन बनाए हैं। इस मामले में सबसे आगे इंग्लैंड के ग्राहम गूच का नाम है। पहले मैच की दोनों पारियों में डक पर आउट होने के बावजूद उन्होंने टेस्ट करियर में कुल 8900 रन बनाए है। वहीं, श्रीलंका के मार्वन अटापट्टू और पाकिस्तान के सईद अनवर के नाम भी अपने पहले मैच के दौरान डक पर आउट होने के नाम दर्ज है।

इसके बावजूद अटापट्टू ने 5502 टेस्ट रन बनाए तो वहीं अनवर 4052 रन बनाने में कामयाब रहे। इन तीनों के बाद सबसे अधिक रन बनाकर एल्गर अब चौथे स्थान पर आ गए हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एल्गर ने शुरू से एक छोर संभाला और कमिंस के नेतृत्व में आस्ट्रेलियाई गेंदबाजों द्वारा लगातार लिए जा रहे विकेटों के बीच अपना बल्ला ताने रखा। पहले दिन के अंत तक टीम ने अपनी पहली पारी में आठ विकेट के नुकसान पर 266 रनों के साथ किया। वहीं, दूसरे दिन पूरी टीम 311 रनों पर ढेर हो गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App