ताज़ा खबर
 

मौरिस का खुलासा, बायो बबल टूटने से मच गई थी अफरातफरी, घबरा गए थे इंग्लैंड के खिलाड़ी, कांप उठा था ये युवा गेंदबाज

राजस्थान रॉयल्स के दिग्गज ऑलराउंडर ने बताया कि बायो बबल में कोविड-19 के मामले पाये जाने के बाद अफरातफरी का माहौल बन गया था और वह स्वदेश लौटकर राहत महसूस कर रहे हैं। आईपीएल को स्थगित किये जाने के बाद मौरिस और 10 अन्य दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी स्वदेश लौट गये हैं।

IPL 2021: राजस्थान रॉयल्स के दिग्गज ऑलराउंडर क्रिस मौरिस। (source: PTI)

दक्षिण अफ्रीका के ऑलराउंडर और आईपीएल के सबसे महंगे खिलाड़ी क्रिस मौरिस ने अपने देश लौटकर जैव सुरक्षित वातावरण (बायो बबल) को लेकर कई बड़े खुलासे किए हैं। कई खिलाड़ियों के पॉज़िटिव पाये जाने के बाद इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2021 को स्थगित कर दिया गया है। लेकिन बायो बबल टूटने के बाद स्थिति इतनी सामान्य नहीं थी जितनी दिखाई दे रही है। मीडिया से बात करते हुए इस बात की जानकारी क्रिस मौरिस ने दी है।

राजस्थान रॉयल्स के दिग्गज ऑलराउंडर ने बताया कि बायो बबल में कोविड-19 के मामले पाये जाने के बाद अफरातफरी का माहौल बन गया था और वह स्वदेश लौटकर राहत महसूस कर रहे हैं। आईपीएल को स्थगित किये जाने के बाद मौरिस और 10 अन्य दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी स्वदेश लौट गये हैं। आईपीएल में कोविड-19 के छह मामले पाये गये थे जिसमें चार खिलाड़ी और दो कोच शामिल थे।

अभी अपने घर में 10 दिन के अनिवार्य आइसोलेशन पर रह रहे मौरिस ने आईओएल.सीओ.जेडए से कहा, ‘‘निश्चित तौर पर मैं राहत महसूस कर रहा हूं।’’ मौरिस ने कहा कि उन्हें कोलकाता नाइट राइडर्स के दो खिलाड़ियों वरुण चक्रवर्ती और संदीप वारियर के पॉजिटिव पाये जाने के बारे में रविवार की रात को पता चला।

उन्होंने कहा, “जैसा ही हमें इस बारे में पता चला कि बायो बबल के अंदर खिलाड़ी पॉजिटिव पाये गये हैं तो सभी ने सवाल करने शुरू कर दिये। हम सभी के अंदर निश्चित तौर पर खतरे की घंटी बजनी शुरू हो गयी थी।” मौरिस ने कहा, ‘‘सोमवार तक जब उन्होंने वह मैच (कोलकाता और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर) स्थगित किया तब तक हमें पता चल गया था कि टूर्नामेंट जारी रखने के लिये दबाव बना हुआ है।”

सनराइजर्स हैदराबाद के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा और दिल्ली कैपिटल्स के अमित मिश्रा के मंगलवार को पॉजिटिव आने के बाद इस टी20 लीग को स्थगित कर दिया गया था। चेन्नई सुपरकिंग्स के गेंदबाजी कोच एल बालाजी और बल्लेबाजी कोच माइकल हसी भी वायरस से संक्रमित पाये गये थे।

मौरिस ने कहा, ‘‘मैं अपनी टीम के डॉक्टर से बात कर रहा था। कुमार संगकारा ने तब इशारा किया और तब हमें पता चला कि अब टूर्नामेंट आगे नहीं बढ़ पाएगा। इसके बाद का माहौल अफरातफरी वाला था। इंग्लैंड के खिलाड़ी विशेषरूप से घबराये हुए थे क्योंकि उन्हें इंग्लैंड में होटलों में अलग थलग रहने की जरूरत थी और जाहिर था कि उनके पास कमरे नहीं थे।”

ऑस्ट्रेलियाई एंडूयू टाइ की जगह चुने गये गेराल्ड कोएट्जी पिछले सप्ताह ही भारत पहुंचे थे और मौरिस ने कहा कि वह इस युवा तेज गेंदबाज को धीरज बंधा रहे थे क्योंकि वह अधिक घबराया हुआ था। उन्होंने कहा, ‘‘मैं जानता था कि गेराल्ड अधिक घबराया हुआ है। मेरे कहने का मतलब है कि वह अभी 20 साल का है और उसके सामने यह सब कुछ हो गया। मैंने उसे धीरज बंधाने की कोशिश की।”

Next Stories
1 क्रिकेटर के घर कोरोना का कहर: पहले मां गईं, अब वह बहन भी जिसने सच कराया था खिलाड़ी बनने का सपना
2 जब रवैया को लेकर मांजरेकर ने गांगुली पर निकाला था अपना गुस्सा, वेंगसरकर ने कहा – ये टीम इंडिया के लायक नहीं
3 BCCI उपाध्यक्ष ने किया साफ – IPL रद्द नहीं टाला गया है, वर्ल्डकप से पहले खेले जा सकते हैं बचे हुए मैच
ये  पढ़ा क्या?
X