ताज़ा खबर
 

क्‍या संदीप पाटिल ने करवाया था सचिन को रिटायर? चीफ सेलेक्‍टर का जवाब आया- कुछ बातें गुप्‍त ही रहनी चाहिए

संदीप पाटिल का भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्‍य चयनकर्ता के रूप में कार्यकाल समाप्‍त होने जा रहा है। सोमवार को न्‍यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू टेस्‍ट सीरीज के लिए आखिरी बार उन्‍होंने टीम का एलान किया।

Author मुंबर्इ | September 13, 2016 5:18 PM
संदीप पाटिल का भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्‍य चयनकर्ता के रूप में कार्यकाल समाप्‍त होने जा रहा है। (Source: Express photo by Kevin D’Souza)

संदीप पाटिल का भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्‍य चयनकर्ता के रूप में कार्यकाल समाप्‍त होने जा रहा है। सोमवार को न्‍यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू टेस्‍ट सीरीज के लिए आखिरी बार उन्‍होंने टीम का एलान किया। इस दौरान उन्‍होंने कई बातों पर अपनी राय रखी। एक चयनकर्ता के लिए कितनी मुश्किल होती है इस बारे में उन्‍होंने कहा कि ‘कुछ दोस्‍त खो दिए हैं।’ संदीप पाटिल के मुख्‍य चयनकर्ता रहते हुए भारतीय क्रिकेट के कई बड़े नाम रिटायर हो गए। इनमें सचिन तेंदुलकर से लेकर राहुल द्रविड़, वीवीएस लक्ष्‍मण, वीरेंद्र सहवाग और जहीर खान शामिल है। इनमें से कई लोगों ने समय से ही पहले ही अलविदा कह दिया।

इंडियन एक्‍सप्रेस ने रिपोर्ट दी थी कि संदीप पाटिल ने ही सचिन को संन्‍यास के बारे में सोचने को कहा था। सचिन ने 16 नवंबर 2013 को मुंबई में वेस्‍ट इंडीज के खिलाफ संन्‍यास लिया था। इससे पहले 10 अक्‍टूबर को इंडियन एक्‍सप्रेस ने रिपोर्ट दी थी, ”पाटिल ने सचिन तेंदुलकर से कहा कि उनके 200वें टेस्‍ट के बाद उनके चयन का आधार फॉर्म होगी न कि उनका पिछला रिकॉर्ड।” रिपोर्ट में आगे कहा गया था कि पाटिल ने सचिन को नए सिनेरियो के बारे में बताया कि युवाओं को मौका देना होगा। उन्‍होंने सचिन से कहा कि उनका वनडे कॅरियर काफी ज्‍यादा हो चुका है। अब वे उन्‍हें टीम में जगह की गारंटी दे सकते।

india vs new zealand, ind vs nz, india vs new zealand 2016, india squad for new zealand, sachin tendulkar, tendulkar, sandeep patil, bcci, cricket news, cricket

पाटिल से सोमवार को जब सचिन के संन्‍यास के बारे में पूछा गया तो उन्‍होंने कहा, ”कुछ मामले चयनकर्ताओं और बीसीसीआई के बीच होते हैं और गोपनीय रहने चाहिए। इनका खुलासा नहीं किया जा सकता। मैं केवल बीसीसीआई के प्रति जवाबदेह हूं।” सचिन के रिटायर होने का फैसला ऐसे समय में आया था जब भारत को न्‍यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका, इंग्‍लैंड और ऑस्‍ट्रेलिया और श्रीलंका का दौरा करना था। बावजूद इसके यह जोखिम लिया गया। सचिन के जाने के बाद विराट कोहली और अजिंक्‍या रहाणे को मौके मिले और आज वे टीम इंडिया के मिडिल ऑर्डर की जान हैं।

युवराज ने खोली विराट कोहली की पोल, कहा-‘टीम इंडिया के सबसे बड़े कंजूस, कभी नहीं चुकाते हैं बिल’

संदीप पाटिल की अगुवाई वाली चयन समिति ने दिग्‍गजों को भरपूर मौका दिया और उनके नाकाम होने के बाद नए चेहरों को शामिल किया। फिर चाहे वो हरभजन सिंह की जगह आर अश्‍विन को प्राथमिकता देना हो या गौतम गंभीर की जगह शिखर धवन को। पाटिल ने इस बारे में कहा, ”हमने भारतीय क्रिकेट के भविष्‍य को देखते हुए कुछ कड़े फैसले लिए। कार्यकाल पूरा होने के बाद हम खुश हैं कि टीम तीनों फॉर्मेट में अच्‍छा कर रही हैं।”

चयनकर्ता होने की वजह से आपको अपने दोस्त गंवाने पड़ते हैं: संदीप पाटिल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App