ताज़ा खबर
 

BCCI के चीफ सेलेक्‍टर ने ऋषभ पंत को बताया ‘चैंपियन’ खिलाड़ी, खेल सकते हैं 2019 वर्ल्‍ड कप!

ऋषभ पंत की तारीफों में बोले बीसीसीआई सेलेक्टर चीफ, कहा- चैम्पियन क्रिकेटर बनने की ओर बढ़ रहा है पंत और यहां तक कि उसमें इस तरह की काबिलियत है, जिससे वह खुद ही पूरी तरह से वाकिफ नहीं है। ’’

Author नई दिल्ली | January 14, 2019 10:18 AM
पंत 29 और 31 जनवरी को खेले जाने वाले चौथे और पांचवें मैच में टीम का हिस्सा होंगे। इसके बाद वह छह फरवरी से न्यूजीलैंड के खिलाफ शुरू हो रही टी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला के लिए भारतीय टीम से जुड़ेंगे।

मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद को लगता है कि ऋषभ पंत ‘‘चैम्पियन क्रिकेटर’’ बनने की ओर बढ़ रहा है और खेल के अलग प्रारूपों में बिना किसी परेशानी खुद को ढालने की काबिलियत से वह 2019 विश्व कप अभियान के लिये निश्चित रूप से भारतीय टीम की योजना में शामिल हैं। आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे श्रृंखला के लिये आराम दिये जाने के बाद इंग्लैंड जाने वाली टीम में उसके स्थान को लेकर अटकलें लगने लगी, लेकिन प्रसाद ने ऋषभ और शुभमन गिल जैसी प्रतिभाओं के बारे में चयन समिति की योजना का खुलासा किया। उन्होंने पीटीआई को दिये साक्षात्कार में कहा, ‘‘ऋषभ पंत ने आस्ट्रेलिया में तीन टी20 और चार टेस्ट मैच खेले, इससे उसके शरीर पर असर पड़ा। उसे दो हफ्तों के पूरे आराम की जरूरत है, उसके बाद ही हम फैसला करेंगे कि वह इंग्लैंड लायंस के खिलाफ कितने मैच खेलेगा। आपको सही बताऊं, वह हमारी विश्व कप योजनाओं का हिस्सा है।

वह चैम्पियन क्रिकेटर बनने की ओर बढ़ रहा है और यहां तक कि उसमें इस तरह की काबिलियत है, जिससे वह खुद ही पूरी तरह से वाकिफ नहीं है। ’’ प्रसाद इस बात से खुश हैं कि ऋषभ इस बात को समझ रहा है कि कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री की उससे क्या उम्मीदें हैं और सिडनी में प्रदर्शन इसी को दर्शाता है। भारत के पूर्व कप्तान ने कहा, ‘‘रवि और विराट ने उसे मैच के हालात का सम्मान करने को कहा और उसने बिलकुल वैसा ही किया। उसने साबित किया कि वह बिना किसी परेशानी के खुद को खेल के अनुरूप ढाल सकता है। जब हमने उसे टेस्ट मैचों के लिये चुना था तो विशेषज्ञ उसकी विकेटकींपिंग को लेकर संशय में थे लेकिन इंग्लैंड में एक टेस्ट में 11 कैच, आस्ट्रेलियाई श्रृंखला में आउट करने के रिकार्ड से साबित होता है कि चयन समिति का पक्ष सही रहा। ’’ चयन समिति के प्रमुख युवा शुभमन गिल के बारे में काफी उत्साहित हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि पंजाब का यह प्रतिभाशाली बल्लेबाज अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लिये तैयार है।

उन्होंने कहा, ‘‘शुभमन पारी का आगाज करने और मध्यक्रम में बल्लेबाजी करने दोनों में सहज है। न्यूजीलैंड श्रृंखला में हम उसे शिखर (धवन) और रोहित (शर्मा) के पीछे रिजर्व खिलाड़ी के रूप में देख रहे हैं। वह विश्व कप में खेलेगा या नहीं, मैं इस पर टिप्पणी नहीं करूंगा लेकिन उसने न्यूजीलैंड में भारत ए की ओर से सलामी बल्लेबाज के तौर पर शानदार प्रदर्शन किया। ’’ प्रसाद ने कहा, ‘‘हमने राहुल द्रविड़ से चर्चा की कि शुभमन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लिये तैयार है। सबसे अहम चीज ए दौरों पर पकड़ रही जिसने इन सभी खिलाड़ियों को बड़ी चुनौतियों के लिये तैयार किया है। ’’ हनुमा विहारी, मयंक अग्रवाल, पृथ्वी साव, खलील अहमद जैसे खिलाड़ी भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में काफी प्रभावी रहे हैं जिससे प्रसाद काफी खुश हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं नियमित रूप से रवि और राहुल के साथ खिलाड़ियों की प्रगति पर चर्चा करता रहता हूं। जरा देखिये, हमने रणजी ट्राफी, ए टीम से सीनियर टीम तक खिलाड़ियों की प्रगति की योजना बनायी है। हनुमा विहारी और मयंक अग्रवाल को देखिये। ’’ रविचंद्रन अश्विन और रंविंद्र जडेजा की जगह कलाई के दो स्पिनरों कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल का वनडे टीम में शामिल करने के जोखिम लेने के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘हमने जब दुनिया के एक और दो नंबर के स्पिनर (आईसीसी रैंकिंग के अनुसार) की जगह दो युवा कलाई के स्पिनरों को शामिल किया। डेढ़ साल के बाद उन्होंने (कुलदीप और चहल) ने भारत की सीमित ओवरों में मिली 70 प्रतिशत जीत में योगदान दिया। ’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App