ताज़ा खबर
 

ऋषभ पंत ने खोला राज, बताया डेब्यू मैच में दूसरी ही गेंद पर क्यों लगाया छक्का

टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले पंत ने अपनी पारी के दूसरी ही गेंद पर छक्का लगाकर सभी को हैरान कर दिया। दूसरी ही गेंद पर छक्का लगाकर डेब्यू करने वाले पंत पहले भारतीय बल्लेबाज बनें। ऋषभ पंत ने मैच के बाद एक इंटरव्यू के दौरान छक्का लगाकर डेब्यू करने का कारण बताया।

ऋषभ पंत।

भारतीय टीम के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने टेस्ट करियर का डेब्यू भी खास अंदाज में किया। टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले पंत ने अपनी पारी के दूसरी ही गेंद पर छक्का लगाकर सभी को हैरान कर दिया। दूसरी ही गेंद पर छक्का लगाकर डेब्यू करने वाले पंत पहले भारतीय बल्लेबाज बनें। ऋषभ पंत ने मैच के बाद एक इंटरव्यू के दौरान छक्का लगाकर डेब्यू करने का कारण बताया। पंत ने बताया पहला टेस्ट मैच खेलने के दौरान वह काफी घबराए हुए थे लेकिन जब गेंद उनके पाले में आई तो वह खुद को रोक नहीं पाए। पंत ने कहा कि गेंद आने के बाद वह ज्यादा सोचते नहीं बस अपना स्वभाविक खेल खेलते हैं। आदिल राशिद के ओवर में भी पंत ने इसी बात को ध्यान रखा और अपना खेल खेला। पहले मैच में डेब्यू को लेकर पंत ने कहा, ”पहला मैच शानदार रहा, भारत के लिए खेलना उनका सपना था। पहले मैच के दौरान उन्हें काफी कुछ सीखने को मिला और टीम के खिलाड़ियों के साथ मैदान पर उनका अनुभव अच्छा रहा।”

ऋषभ पंत और विराट कोहली।

वहीं इस मैच के दौरान विकेटकीपिंग में भी पंत कई जबरदस्त कैच पकड़ने में कामयाब रहे। पंत ने कहा, ”नॉटिंघम में विकेटकीपिंग करना आसान नहीं था, गेंद गिरने के बाद घूम रही थी। पंत को लेकर क्रिकेट के कई दिग्गज अपनी राय रख चुके हैं। भारतीय टीम के हेड कोच रवि शास्त्री ने पहले ही पंत को टीम में शामिल करने की बात कर दी थी। शास्त्री ने कहा था कि ऋषभ पंत टेस्ट टीम में चयन के हकदार हैं क्योंकि उन्होंने अपने आप को साबित किया है और साथ ही यह समय है जब एक दूसरे विकेटकीपर-बल्लेबाज को तैयार किया जाए जो युवा हो। पंत इन सभी पैमानों पर फिट बैठते हैं।

शास्त्री से जब पूछा गया कि चयनकर्ताओं ने पंत का चयन कर बेहद बोल्ड कदम उठाया है? इस पर कोच ने कहा, “बोल्ड क्यों? वह इंडिया-ए से खेलते हुए रन बना रहे थे। वह युवा हैं। यह समय है जब हमें एक एक और विकेटकीपर को तैयार करना है। उनमें वो प्रतिभा है। उनकी बल्लेबाजी देखें तो उसमें कुछ अलगपन सा है। वह मैच बदलने वाले खिलाड़ी साबित हो सकते हैं, तो उनको मौका क्यों नहीं दिया जा सकता।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App