ताज़ा खबर
 

रविंद्र जडेजा ने 37 साल बाद दोहराया कपिल देव का कारनामा, टेस्ट में सिर्फ तीन खिलाड़ी ही कर सके हैं यह काम

रविंद्र जडेजा ने धर्मशाला टेस्‍ट मैच की पहली पारी में एक बार फिर ऐसे वक्‍त पर 63 रन की पारी खेली, जब टीम इंडिया को इसकी सख्‍त जरूरत थी।

Author धर्मशाला | March 27, 2017 1:00 PM
धर्मशाला टेस्ट मैच में भारत की पहली पारी में अपनी अर्धशतकीय पारी के दौरान रविंद्र जडेजा। (Photo: Reuters)

भारतीय टीम के आॅलराउंडर रविंद्र जडेजा क्रिकेट के तीनों ही फॉर्मेट में टीम इंडिया के प्रमुख सदस्य बन चुके ​हैं। जडेजा की भारतीय टीम में एंट्री एक बैटिंग आॅलराउंडर के रूप में हुई थी, समय के साथ जडेजा ने अपनी गेंदबाजी को काफी निखारा लेकिन वो बल्लेबाजी में अपने कद के अनुसार प्रदर्शन नहीं कर पाए। रविंद्र जडेजा भारत के इकलौते ऐसे क्रिकेटर हैं, जिनके नाम प्रथम श्रेणी क्रिकेट में तीन तिहरे शतक दर्ज ​हैं। पिछले एक वर्ष के दौरान रविंद्र जडेजा ने गेंदबाजी से तो जलवा बिखेरा ही है, अपनी बल्लेबाजी से भी भारत को कई मौकों पर मुश्किल से बाहर निकाला है। जडेजा ने धर्मशाला टेस्‍ट में विपरीत परिस्थितियों में शानदार बल्‍लेबाजी का प्रदर्शन कर आलोचकों के मुंह एक हद तक बंद करने की कोशिश की।

रविंद्र जडेजा ने धर्मशाला टेस्‍ट मैच की पहली पारी में एक बार फिर ऐसे वक्‍त पर 63 रन की पारी खेली, जब टीम इंडिया को इसकी सख्‍त जरूरत थी। इस पारी ने टीम इंडिया को ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ पहली पारी के आधार पर बढ़त दिलाने में अहम योगदान दिया। जडेजा ने इंटरनेशनल क्रिकेट में अभी तक एक भी शतक नहीं लगाया है। टेस्‍ट में सात (धर्मशाला की पारी को मिलाकर)और वनडे में 10 अर्धशतक जरूर उनके नाम पर दर्ज हैं। रवींद्र जडेजा इस समय दुनिया के नंबर एक टेस्ट गेंदबाज और नंबर तीन ऑल राउंडर हैं। टेस्ट मैचों की बात करें तो वह इन दिनों गेंद और बल्ले दोनों से कमाल दिखा रहे हैं। जडेजा ने एक सीजन में 500 रन बनाने के साथ ही 50 विकेट लेने का कारनामा किया है। ऐसा करने वाले वह दुनिया के केवल तीसरे खिलाड़ी हैं। इससे पहले भारतीय ऑल राउंडर कपिल देव और ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज मिचेल जॉनसन भी ऐसा कर चुके हैं।

कपिल देव ने सबसे पहले 1979-80 में यह कारनामा किया था। मिचेल जॉनसन ने 2008-09 में यह कमाल किया था तो रवींद्र जडेजा ने इस सीजन (2016-17) में इसे दोहराने का काम किया है। जडेजा ने धर्मशाला में 63 रनों की पारी के दौरान यह कारनामा किया। उन्होंने पहली पारी में 1 विकेट भी लिया था। भारतीय टीम ने इस सीजन में काफी टेस्ट मैच खेले हैं। इसमें से ज्यादातर सीरीज भारत में ही खेली गई हैं। रवींद्र जडेजा इन सीरीज में गेंद और बल्ले से अप्रत्याशित रूप से सफल रहे हैं। रविंद्र जडेजा ने 2016-17 सीजन में आर अश्विन और रिद्धिमान साहा से अधिक रन और अर्धशतक दोनों लगाए हैं। इस सीजन में जडेजा के नाम धर्मशाला की पारी को लेकर कुल 6 अर्धशतक दर्ज हो गए हैं। इस तरह जडेजा गेंदबाजी में अश्विन को चुनौती दे ही रहे हैं, टेस्ट आॅलराउंडर्स की सूची में भी वो अश्विन को चुनौती दे रहे हैं।

वीडियो: सबसे ज्यादा कमाई करने वाले 10 क्रिकेटर्स, टॉप पर है ये भारतीय खिलाड़ी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App