ताज़ा खबर
 

टी20 मैच में भिड़े खिलाड़ी, बॉलर ने बल्‍लेबाज को दिया धक्‍का तो अश्विन ने खोया आपा, दिखाया बल्‍ला

तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन के अध्‍यक्ष एन श्रीनिवासन ने इस टूर्नामेंट का आयोजन कराया है।

तमिलनाडु प्रीमियर लीग में चेपॉक सुपर गिलिज और डिंडीगुल ड्रेगंस के मैच के दौरान ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन आपा खो बैठे। (Photo Source: Twitter)

तमिलनाडु प्रीमियर लीग में गुरुवार को खिलाडि़यों के बीच धक्‍कामुक्‍की और गाली-गलौच हो गया। अंपायर्स और बाकी खिलाडि़यों ने बीचबचाव कर मामला शांत किया। यह घटना चेपॉक सुपर गिलिज और डिंडीगुल ड्रेगंस के मैच के दौरान हुई। इसमें टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन भी उलझ गए। मामला गिलिज के स्पिनर आर सार्इ किशोर के डिंडीगुल के बल्‍लेबाज जगदीशन नारायण को आउट किए जाने के बाद हुआ। किशोर की गेंद पर नारायण एंटनी दास को कैच दे बैठे। इसके बाद जश्‍न मना रहे साई किशोर ने नारायण को धक्‍का दे दिया। यह देखकर आर अश्विन भी अपना आपा खो बैठे। उन्‍होंने किशोर को कुछ कहा। इसके बाद अपना हेलमेट उतार दिया और बैट दिखाते हुए कुछ बोले।

चेपॉक टीम के कप्‍तान आर सतीश और बाकी खिलाडि़यों ने उन्‍हें शांत कराने की कोशिश की। दोनों अंपायर्स ने भी अश्विन को अलग किया। हालांकि अश्विन रूके नहीं और जब चेपॉक टीम के खिलाड़ी विकेट का जश्‍न मना रहे थे तब भी अश्विन वहां गए। वहां उन्‍होंने गेंदबाज से कुछ कहा। मैच के बाद अश्विन और सतीश ने कहा कि यह घटना एक क्षण कर प्रतिक्रिया थी। इससे ज्‍यादा कुछ नहीं थी। इस मामले में मैच रैफरी अनुशासनात्‍मक कार्रवार्इ करेंगे। इस मैच में डिंडीगुल की टीम को 6 रन से हार का सामना करना पड़ा। चेपॉक ने 6 विकेट पर 172 रन का स्‍कोर खड़ा किया था। इसके जवाब में डिंडीगुल की टीम 5 विकेट पर 166 रन ही बना सकी। इस टूर्नामेंट में डिंडीगुल टीम की यह पहली हार थी। वह अंक तालिका में पहले पायदान पर है। अश्विन हाल ही में वेस्‍टइंडीज के खिलाफ टेस्‍ट और टी20 सीरीज खेलकर लौटे हैं। भारत लौटने के बाद वे तमिलनाडु प्रीमियर लीग से जुड़ गए। मुरली विजय, दिनेश कार्तिक, एल बालाजी जैसे बाकी बड़े नाम भी इस टूर्नामेंट में खेल रहे हैं।

तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन के अध्‍यक्ष एन श्रीनिवासन ने इस टूर्नामेंट का आयोजन कराया है। चेन्‍नई सुपर किंग्‍स पर दो साल का बैन लगा होने के कारण तमिलनाडु में आर्इपीएल के मैच का आयोजन नहीं हो रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App