India vs England 2nd Test: इंग्लैंड से टेस्ट में अश्विन ने बनाया ये कैसा रिकॉर्ड! हंसते बने न रोते - R Ashwin 33 in 2nd innings is the highest individual score for India in this Test match - Jansatta
ताज़ा खबर
 

India vs England 2nd Test: इंग्लैंड से टेस्ट में अश्विन ने बनाया ये कैसा रिकॉर्ड! हंसते बने न रोते

इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए भारत को पहली पारी में 107 रन पर ऑलआउट कर दिया और फिर उसने अपनी पहली पारी में सात विकेट पर 396 रन बनाकर पारी घोषित कर दी तथा 289 रनों की बढ़त हासिल कर ली।

Author August 13, 2018 11:20 AM
भारतीय टेस्ट टीम। (फोटो सोर्स- पीटीआई)

जेम्स एंडरसन (23/4) और स्टुअर्ट ब्रॉड (44/4) की कहर बरपाती गेंदों के आगे भारतीय बल्लेबाज एक बार फिर नतमस्तक नजर आए। बल्लेबाजों के शर्मनाक प्रदर्शन के कारण भारत को यहां ऐतिहासिक लॉर्डस मैदान पर दूसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन रविवार को इंग्लैंड के हाथों पारी और 159 रन से करारी हार का सामना करना पड़ा। मेजबान इंग्लैंड ने पहला टेस्ट मैच 31 रन से जीता था और अब उसने दूसरा मैच भी जीतकर पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-0 की बढ़त हासिल कर ली है। बारिश के कारण पहले दिन पहले दिन का खेल ना होने के बावजूद इंग्लैंड का तीन दिन के अंदर ही मैच जीतना उसके खिलाड़ियों के शानदार फार्म को दर्शाता है।

इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए भारत को पहली पारी में 107 रन पर ऑलआउट कर दिया और फिर उसने अपनी पहली पारी में सात विकेट पर 396 रन बनाकर पारी घोषित कर दी तथा 289 रनों की बढ़त हासिल कर ली। इंग्लैंड के इस स्कोर के जवाब में भारतीय टीम मैच के चौथे दिन दूसरी पारी में चायकाल के बाद 47 ओवर में 130 रन पर ऑलआउट हो गई। हालांकि इस मैच में आर अश्विन के नाम ऐसा रिकॉर्ड दर्ज हो गया जिसपर किसी भारतीय प्रशंसक के हंसते बने ना रोते। दरअसल दूसरे टेस्ट मैच टीम इंडिया के गेंदबाज अश्विन ने सबसे अधिक रन बनाए। उन्होंने 48 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से सर्वाधिक नाबाद 33 रन बनाए। 1996 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ बॉक्सिंग डे टेस्ट के बाद ऐसा पहली बार है जब किसी खिलाड़ी का व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ स्कोर 33 नाबाद हो। इससे पहले यह रिकॉर्ड किसी खिलाड़ी द्वारा 27 रन बनाकर नाबाद रहने का था। खास बात यह है कि ऐसा सिर्फ तीन बार हुआ जब टेस्ट में किसी भारतीय खिलाड़ी का व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ स्कोर 33 या इससे कम रहा हो।

गौरतलब है कि दूसरे टेस्ट में हार्दिक पांड्या ने 26, कप्तान विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा ने 17-17 तथा अजिंक्य रहाणे ने 13 रन का योगदान दिया। हार्दिक और अश्विन ने सातवें विकेट के लिए 55 रन की साझेदारी जरुर की अन्यथा मेहमान टीम को पारी और 200 रनों से हार का सामना करना पड़ता। भारतीय टीम के चार बल्लेबाज खाता खोले बिना प्वेलियन लौट गए। इंग्लैंड की ओर से एंडरसन और ब्रॉड के अलावा क्रिस वोक्स ने 24 रन पर दो विकेट लिया। इससे पहले, इंग्लैंड ने सुबह अपने कल के स्कोर छह विकेट के नुकसान पर 357 रन से आगे खेलना शुरू किया और सात विकेट पर 396 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित कर दी। मेजबान टीम ने चौथे दिन अपने स्कोर में 39 रन का और इजाफा किया और एक विकेट गंवाया।

सैम कुरेन (40) के आउट होते कप्तान जोए रूट ने पारी घोषित कर दी। इंग्लैंड के लिए क्रिस वोक्स ने 177 गेंदों पर 21 चौकों की मदद से नाबाद 137 रन बनाए। वोक्स को मैन आफ द मैच का पुरस्कार मिला। इसके अलावा जॉनी बेयर्सस्टो ने 144 गेंदों पर 12 चौकों की सहायता से 93 रन, सैम कुरेन ने 49 गेंदों पर पांच चौके और एक छक्के की मदद से 40 रन बनाए। वहीं अपना पदार्पण मैच खेल रहे ओली पोप ने 38 गेंदों पर 28, जोस बटलर ने 22 गेंदों पर 24 और एलेस्टर कुक ने 21 रन बनाए। वोक्स और कुरेन के बीच सातवें विकेट के लिए 76 रन की साझेदारी हुई। भारतीय टीम के लिए हार्दिक पांड्या ने 66 रन पर तीन विकेट और मोहम्मद शमी ने 96 रन पर तीन विकेट लिए। इशांत शर्मा को 101 रन पर एक विकेट मिला।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App