Pune test: Australia take revenge of 2001 test defeat against India - पुणे टेस्‍ट: ऑस्‍ट्रेलिया ने 17 साल बाद लिया हार का बदला, भारत पांच साल में पहली बार घर में हारा - Jansatta
ताज़ा खबर
 

INDvsAUS पुणे टेस्‍ट: ऑस्‍ट्रेलिया ने 17 साल बाद लिया हार का बदला, भारत पांच साल में पहली बार घर में हारा

ऑस्‍ट्रेलिया ने पुणे टेस्‍ट में भारत को 333 रन से हराकर चार टेस्‍ट की सीरीज में 1-0 से बढ़त ले ली है।

INDvsAUS: ऑस्‍ट्रेलिया ने पुणे टेस्‍ट में भारत को 333 रन से हराकर चार टेस्‍ट की सीरीज में 1-0 से बढ़त ले ली है। (Photo: Reuters)

ऑस्‍ट्रेलिया ने पुणे टेस्‍ट में भारत को 333 रन से हराकर चार टेस्‍ट की सीरीज में 1-0 से बढ़त ले ली है। जीत के लिए मिले 431 रन का पीछा करते हुए मैच के तीसरे ही दिन भारत की पारी 107 रन पर सिमट गई। भारत की साल 2012 के बाद घर में पहली टेस्‍ट हार है। इससे पहले उसे इंग्‍लैंड ने 2012 में हराया था। पुणे टेस्‍ट में लेफ्ट आर्म स्पिनर स्‍टीव ओ’कीफी ने दूसरी पारी में 35 रन देकर छह विकेट झटके। इस तरह से उन्‍होंने पुणे टेस्‍ट में कुल 12 विकेट लिए। इस हार के साथ ही भारतीय टीम का कप्‍तान विराट कोहली के नेतृत्‍व में लगातार 19 टेस्‍ट में अजेय रहने का सफर भी थम गया। इस तरह से ऑस्‍ट्रेलिया ने लगभग 17 साल बाद भारत से हिसाब चुकता कर दिया है।

बता दें कि साल 2001 में सौरव गांगुली की कप्‍तानी में भारत ने ऑस्‍ट्रेलिया के लगातार टेस्‍ट जीतने के रिकॉर्ड को थाम दिया था। स्‍टीव वॉ के नेतृत्‍व में ऑस्‍ट्रेलिया लगातार 15 टेस्‍ट जीतकर भारत आई थी। मुंबई टेस्‍ट जीतकर उसने इसे 16 तक पहुंचा दिया। लेकिन इसके बाद भारत ने कोलकाता टेस्‍ट जीतकर ऑस्‍ट्रेलिया का विजयी रथ रोक दिया था। अब स्‍टीवन स्मिथ की कप्‍तानी वाली टीम ने कोहली की सेना के पराक्रम को भी उसी अंदाज में रोका है।

पुणे टेस्‍ट में ऑस्‍ट्रेलिया के दबदबे का पता इस बात से चलता है कि भारत किसी भी पारी में 40 ओवर से ज्‍यादा बल्‍लेबाजी नहीं कर पाया। साथ ही उसके बल्‍लेबाज 100 रन के इर्द-गिर्द ही सिमट गए। इस तरह से टीम इंडिया ढाई दिन में ही घुटने टेक बैठी और मैच हार गई। वहीं ऑस्‍ट्रेलिया टीम ने जहां लगभग पूरे दो दिन बल्‍लेबाजी की थी। वहीं भारतीय बल्‍लेबाज कुल मिलाकर लगभग तीन सत्र भी क्रीज पर नहीं टिक पाए। कप्‍तान विराट कोहली इस टेस्‍ट में कुल 13 रन बना पाए जो कि भारत में खेले गए टेस्‍ट में उनका सबसे खराब प्रदर्शन है। पुणे टेस्‍ट की पहली पारी में वे खाता भी नहीं खोल पाए थे तो दूसरी पारी में महज 13 रन बना पाए।

पुणे टेस्‍ट में ऑस्‍ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी चुनी थी और मैट रेनशॉ व मिचेल स्‍टार्क के अर्धशतकों के बूते उसने 260 रन बनाए। भारत की ओर से उमेश यादव ने सबसे ज्‍यादा चार विकेट लिए थे। इसके जवाब में भारत की पारी 105 रन पर सिमट गई। स्पिनर स्‍टीव ओ’कीफी ने छह विकेट झटके और अपनी टीम को 155 रन की बढ़त दिलवाई। दूसरी पारी में कंगारूओं ने कप्‍तान स्‍टीव स्मिथ (109) के शतक के बूते 285 रन बनाए। भारतीय बल्‍लेबाज दूसरी पारी में भी नाकाम रहे और 107 रन पर सिमट गए। स्‍टीव ओ’कीफी को 70 रन देकर 12 विकेट लेने के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App