ताज़ा खबर
 

टेस्‍ट में धमाकेदार शुरुआत करने वाले पृथ्‍वी शॉ को वनडे में भी मिलेगा मौका!

मौजूदा वक्त में एक दिवसीय क्रिकेट की बात करें तो शिखर धवन और रोहित शर्मा की सलामी जोड़ी टीम की सफल जोड़ी बनकर उभरी है। सलामी जोड़ी के रूप में भी चयनकर्ताओं की भी यही पसंद है। लेकिन प्रबंधन अधिक विकल्प के रूप में पृथ्वी शॉ को भी एक दिवसीय क्रिकेट में मौका देने के लिए उत्सुक है।

सीनियर सिलेक्शन कमेटी, जिसके प्रमुख एमएसके प्रसाद हैं, पहले ही शुरुआती दो मैचों के लिए भारतीय टीम का ऐलान कर चुकी है। ऐसे में यह उम्मीद है कि बाकी मैचों में चयनकर्ता पृथ्वी शॉ को मौका देना चाहेंगे। (AP PHOTO)

वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट प्रारूप में धमाकेदार शुरुआत करने वाले भारत के युवा खिलाड़ी पृथ्वी शॉ अब एकदिवसीय प्रारूप में भी अपना जलाव दिखाने को तैयार है। काफी हद तक संभव है कि शॉ सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा संग वेस्टइंडीज के खिलाफ पारी की शुरुआत करने के लिए मैदान पर उतरें। पिछले सप्ताह हुई समीक्षा बैठक की मानें तो चयनकर्ताओं का इस बात पर खासा जोर है कि अगले साल विश्वकप से पहले सीनियर खिलाड़ियों को रोटेड किया जाए ताकि सुनिश्चित हो सके वो पूरी तरह फिट हैं। इस रणनीति के तहत युवा चेहरों को भी मौका देने की रणनीति हैं। इसके अलावा पृथ्वी शॉ को एकदिवसीय प्रारूप में मौका देने पर चर्चाएं अभी भी जारी हैं। अगर चयनकर्ता वेस्टइंडीज के खिलाफ ही शॉ को पर्दापण का मौका देते हैं तो इसमें आश्चर्य की कोई बात नहीं होगी।

हालांकि सीनियर सिलेक्शन कमेटी, जिसके प्रमुख एमएसके प्रसाद हैं, पहले ही शुरुआती दो मैचों के लिए भारतीय टीम का ऐलान कर चुकी है। ऐसे में यह उम्मीद है कि बाकी मैचों में चयनकर्ता पृथ्वी शॉ को मौका देना चाहेंगे। इस बैठक में चयनकर्ताओं के अलावा भारतीय कप्तान विराट कोहली, टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री, रोहित शर्मा और अजिंक्य रहाणे मौजूद थे। एक सूत्र ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि इस वक्त निगाहें विश्व कप पर हैं, इसलिए मीटिंग का प्रमुख मुद्दा था कि खिलाड़ियों कैसे रोटेड किया जाए। सूत्र के मुताबिक, ‘असल में रोटेशन से ज्यादा इस मुद्दे पर फोकस किया गया कि टीम के प्रमुख खिलाड़ियों को कैसे बचाकर रखा जाए। इसीलिए आप जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, हार्दिक पांड्या, मोहम्मद शमी की ओर देखते हैं, जो इस वक्त चयन टीम से बाहर हैं। ये खिलाड़ी लगातार भी नहीं खेल रहे हैं। जो खिलाड़ी सभी प्रारुपों के लिए बहुत जरुरी हैं, उनका प्रर्याप्त ध्यान रखना होगा।’

मौजूदा वक्त में एक दिवसीय क्रिकेट की बात करें तो शिखर धवन और रोहित शर्मा की सलामी जोड़ी टीम की सफल जोड़ी बनकर उभरी है। सलामी जोड़ी के रूप में भी चयनकर्ताओं की भी यही पसंद है। लेकिन प्रबंधन अधिक विकल्प के रूप में पृथ्वी शॉ को भी एक दिवसीय क्रिकेट में मौका देने के लिए उत्सुक है। हालांकि इसमें खासा जोर इस बात पर है कि ऐसा कर वरिष्ठ खिलाड़ियों को आराम दिया जाए तक वो विश्व कप में फ्रेश होकर खेलें।

यहां बता दें कि घरेलू क्रिकेट के 22 लिस्ट-A मैच में पृथ्वी शॉ ने 42.33 की औसत से 938 रन बनाए, इस दौरान उनका बल्लेबाज औसत 115.37 का रहा। इस दौरान तीन शतक और पांच अर्धशतक लगाए। इसके अलावा भारत-A में इग्लैंड दौरे पर गए पृथ्वी ने दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाए। यहां उन्होंने रिकॉर्ड 122.56 के स्ट्राइक रेट और 58.33 की औसत से 353 रन बनाए। शॉ अभी विजय हजारे ट्रॉफी में मुंबई के लिए खेल रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App