ताज़ा खबर
 

Perth ODI: धोनी की तीन गलतियों के कारण ऑस्‍ट्रेलिया के सामने घुटने टेक बैठी टीम इंडिया

पर्थ वनडे में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ हार के लिए टीम इंडिया के कप्‍तान महेन्‍द्र सिंह धोनी ने स्पिनर्स को जिम्‍मेदार ठहराया।

पर्थ वनडे में हार के बाद एमएस धोनी ने कहा कि स्पिनर्स को अनुशासित गेंदबाजी करनी चाहिए थी। (Photo: BCCI)

भारतीय क्रिकेट टीम को ऑस्‍ट्रेलिया ने पांच मैचों की वनडे की सीरिज के पहले मैच में पांच विकेट से हरा दिया। भारत के 310 रन के लक्ष्‍य को ऑस्‍ट्रेलिया ने कप्‍तान स्‍टीवन स्मिथ(149) और जॉर्ज बैली(112) के शतकों के बूते चार गेंद रहते हासिल कर लिया। इससे पहले भारत ने रोहित शर्मा के नाबाद शतक(171) की मदद से तीन विकेट पर 309 रन का स्‍कोर खड़ा किया। पर्थ वनडे में हार के लिए टीम इंडिया के कप्‍तान महेन्‍द्र सिंह धोनी ने स्पिनर्स को जिम्‍मेदार ठहराया। हालांकि गेंदबाजों के प्रदर्शन के साथ भी टीम इंडिया ने कई गलतियां की जिसके चलते वह जीतने वाला मैच हार बैठी।

धोनी ने हार के बारे में पूछे जाने पर कहाकि मुझे लगता है कि 309 रन का स्‍कोर इन परिस्थितियों में अच्छा था। तेज गेंदबाजों ने अच्‍छा प्रदर्शन करते हुए हमें बढि़या शुरुआत दी। हालांकि स्पिनर्स और अच्‍छा प्रदर्शन कर दबाव बना सकते थे। हमें और अनुशासन बरतना चाहिए था। अश्विन और रवीन्‍द्र जडेजा बेहतर बॉलिंग कर सकते थे। अपने पहले ही मैच में तीन विकेट लेने वाले बरेंदर सरन के प्रदर्शन के बारे में पूछे जाने पर धोनी ने कहाकि उसने अच्‍छी बॉलिंग की लेकिन एक मैच के आधार पर मैं किसी के बारे में फैसला नहीं कर सकता।

Read Also: रोहित शर्मा की सेंचुरी पर भारी पड़ा स्मिथ का शतक, ऑस्‍ट्रेलिया ने भारत को 5 विकेट से हराया

हालांकि धोनी ने यह नहीं बताया कि उन्‍होंने पर्थ में दो स्पिनर्स क्‍यों खिलाए जबकि ऑस्‍ट्रेलिया चार तेज गेंदबाजों के साथ खेलने उतरी थी। भारतीय स्पिनर्स ने 19 ओवर में 140 रन लुटाए जिसके चलते ऑस्‍ट्रेलिया आसानी से लक्ष्‍य के करीब चला गया। धोनी ने पहले चेंज के रूप में गेंद उमेश यादव को देने के बजाय रोहित शर्मा को थमाई और इस ओवर में 11 रन बने जबकि बरेंदर सरन और भुवनेश्‍वर कुमार ने पहले 10 ओवर में केवल 40 रन ही दिए थे। इसके साथ ही टीम इंडिया के डीआरएस को मंजूर न करने के चलते भी एक फैसला ऑस्‍ट्रेलिया के पाले में चल गया।

पांचवें ओवर में बरेंदर सरन की गेंद पर जॉर्ज बैली के खिलाफ विकेट के पीछे कैच लपके जाने की अपील हुई लेकिन अंपायर ने इसे ठुकरा दिया। रिप्‍ले देखने पर पता चल रहा था कि गेंद ग्‍लव से टकराकर गई थी। हालांकि डीआरएस न होने के चलते इसके खिलाफ अपील नहीं की जा सकी और बैली ने 112 रन की पारी खेल ऑस्‍ट्रेलिया को जीत की ओर ले गए। इस बारे में पूछे जाने पर धोनी ने कहाकि वे अभी भी डीआरएस को लेकर 100 फीसदी संतुष्‍ट नहीं हैं।

Read Also: पर्थ में जो कारनामा सचिन, सहवाग नहीं कर पाए वो रोहित शर्मा ने कर दिखाया, देखिए तस्‍वीरें

Read Also: रोहित शर्मा ने पर्थ वनडे में शतकीय पारी से अपने नाम दर्ज किए कई क्रेडिट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X